रविवार, 02 अगस्त, 2015 | 23:54 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शरीफ की कार में टक्कर मारने की नाकाम कोशिश, पुलिस ने ड्राइवर को किया गिरफ्तार। बाल-बाल बचे शरीफ और उनका परिवार।यूपी: अमरोहा में हाईवे पर कावड़ियों को डीजे बजाकर आने से न रोक पाने पर जिवाई चौकी इंचार्ज लाइन हाजिर।
वित्तायुक्त ने ली एनएबीएच के विषय में जानकारी
First Published:05-01-2013 11:30:41 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM

फरीदाबाद कार्यालय संवाददाता

स्वास्थ्य विभाग की वित्तायुक्त व प्रधान सचवि नवराज सिंह संद्धू और महानिदेशक डॉ. नरेंद्र अरोड़ा ने वीडियो कान्फ्रेंसिंग से बादशाह खान अस्पताल में मौजूद सुविधाओं के विषय में जानकारी ली, ताकि राष्ट्रीय अस्पताल एवं स्वास्थ्य प्रमाणन बोर्ड (एनएचबीएच) के नार्म्स को पूरा किया जा सके। इस मौके पर गुड़गांव, रोहतक, पानीपत, सोनीपत और फरीदाबाद के सिविल सर्जन व वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे। प्रदेश सरकार ने फरीदाबाद और गुड़गांव के राजकीय अस्पताल को एनएचबीएच की श्रेणी में रखने का निर्णय लिया गया।

इसे अंतिम रूप देने के लिए प्रभारी प्रधान मेडिकल अधिकारी डॉ. कृष्ण कुमार, सिविल सर्जन डॉ. अरविंद लोहान और डॉ. राजेश धीमन ने अस्पताल में मौजूद सभी सुविधाओं के विषय में जानकरी दी। इस बीच एनएचबीएच के अधिकारियों ने अस्पताल का निरीक्षण भी किया। इस दौरान डॉक्टर की कमी, ऑपरेशन थिएटर का आधुनिकरण और खामियों की पहचान कर दूर करने का निर्देश दिया गया है। इसके लिए कमेटी भी बनाई गई है। उन्होंने बताया कि गंभीर रोगियों के लिए वेंटिलेटर, आईसीयू, डायलिसिस सहित कई सुविधाएं शुरू की जाएगी।

पांच चरण में अपडेट होगा अस्पताल- प्रथम चरण : डॉक्टरों व कर्मचारियों की कमी होगी दूर-दूसरा चरण : स्टोर, लांड्री और किचन -तीसरा चरण : सेंट्रली रजिस्ट्रेशन और कॅम्प्यूटराइज्ड रिकार्ड-चौथा चरण : मेडिकल हेल्थ स्टैंडर्ड के नार्म्स के अनुसार सुविधाएं- पांचवा चरण: समीक्षा।

 
 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image LoadingMCA ने शाहरुख के वानखेड़े स्टेडियम में प्रवेश करने से बैन हटाया
मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन ने अभिनेता शाहरुख खान पर वानखेड़े स्टेडियम में घुसने पर लगा प्रतिबंध हटा लिया है। एमसीए के उपाध्यक्ष आशीष शेलार के मुताबिक एमसीए ने यह फैसला रविवार को हुई मैनेजिंग कमेटी की बैठक में लिया है।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

जब बीमार पड़ा संता...
जीतो बीमार पति से: जानवर के डॉक्टर को मिलो तब आराम मिलेगा!
संता: वो क्यों?
जीतो: रोज़ सुबह मुर्गे की तरह जल्दी उठ जाते हो, घोड़े की तरह भाग के ऑफिस जाते हो, गधे की तरह दिनभर काम करते हो, घर आकर परिवार पर कुत्ते की तरह भोंकते हो, और रात को खाकर भैंस की तरह सो जाते हो, बेचारा इंसानों का डॉक्टर आपका क्या इलाज करेगा?