रविवार, 23 नवम्बर, 2014 | 08:55 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
जनक्रांति पार्टी का 21 जनवरी को होगा भाजपा में विलय
लखनऊ, एजेंसी First Published:05-01-13 06:29 PM
Image Loading

भारतीय जनता पार्टी की उत्तर प्रदेश इकाई के अध्यक्ष लक्ष्मीकांत बाजपेयी ने बताया है कि 21 जनवरी को जनक्रांति पार्टी का भाजपा में विलय हो जायेगा। मगर तकनीकी कारणों से इसके संरक्षक एवं प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह फिलहाल पार्टी में शामिल नहीं होंगे।

कल्याण सिंह के 81वें जन्मदिन के अवसर पर उन्हें बधाई देने पहुंचे बाजपेयी ने संवाददाताओं से कहा, 21 जनवरी को जनक्रांति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजवीर सिंह अपनी पार्टी का भाजपा में औपचारिक विलय कर देंगे। मगर तकनीकी कारणों से पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह फिलहाल भाजपा में शामिल नहीं होंगे।

उन्होंने कहा कि कल्याण सिंह एटा लोकसभा सीट से निर्दलीय उम्मीदवार के रुप में चुने गये है। इसलिए उन्हें भाजपा या किसी अन्य दल में शामिल होने के लिए लोकसभा से इस्तीफा देना पडेगा, जबकि लोकसभा का कार्यकाल वर्ष भर से कुछ ही अधिक रह गया है। वह फिलहाल निर्दलीय सदस्य बने रहेंगे और अगली लोकसभा में भाजपा के उम्मीदवार होंगे।
 
इस सवाल पर कल्याण सिंह ने कहा कि फिलहाल उनके भाजपा में शामिल होने में कुछ तकनीकी रुकावट है। मगर इस बारे में अंतिम फैसला भाजपा के वरिष्ठ नेताओं से विचार विमर्श के बाद लिया जायेगा।
 
कल्याण सिंह को बधाई देने पहुंचे भाजपा के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने उनके दीर्घजीवी होने की कामना करते हुए कहा कि तकनीकी कारणों से पार्टी में फिलहाल शामिल नहीं हो रहे हो, उनके सहयोग से पार्टी नयी उंचाईयां हासिल करेगी।

प्रदेश में दो बार भाजपा सरकार का नेतत्व कर चुके पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह के जन्म दिन पर बधाई देने वालो का तांता लगा रहा। बधाई देने वाले प्रमुख लोगों में राजनाथ सिंह और बाजपेयी के अलावा पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष विनय कटियार, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सूर्य प्रताप शाही, पार्टी के वरिष्ठ नेता अशोक प्रधान, प्रदेश प्रवक्ता विजय बहादुर पाठक एवं अनेक पार्टी पदाधिकारी शामिल थे।

 
 
|
 
 
टिप्पणियाँ