मंगलवार, 04 अगस्त, 2015 | 00:40 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    अगला बिहार विधानसभा चुनाव नहीं लड़ेंगी राबड़ी देवी कांवड़ यात्रा से बरेली के कई पंपों पर डीजल-पेट्रोल खत्‍म  आखिर यूं ही नहीं बनती 'बाहुबली', जानिए 10 बेहद खास राज  भारत से प्रभावित होकर अंग्रेजों ने ब्रिटेन में भी बसा दिया 'पटना'  तृणमूल ने दिखाई कांग्रेस के साथ एकजुटता, लोकसभा की कार्यवाही का पांच दिनों तक करेगी बहिष्कार 14 साल से पाकिस्तान में फंसी भारतीय लड़की को बजरंगी भाईजान की जरूरत श्रीलंका में जीत के लिए ये है कोहली का मास्टर प्लान राफेल नडाल ने जीता हैम्बर्ग ओपन खिताब चेल्सी बीते सत्र में ही ईपीएल खिताब का हकदार था: कोम्पेनी साध्वी प्राची को अस्पताल से डिस्चार्ज किए जाने पर हंगामा
दिल्ली में 200 अनधिकृत कॉलोनियों के नियमितीकरण को मंजूरी
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:05-01-2013 04:54:52 PMLast Updated:05-01-2013 05:13:33 PM

इस साल के अंत में होने वाले विधानसभा चुनावों को ध्यान में रखते हुए दिल्ली सरकार ने शनिवार को 200 से अधिक अनधिकृत कॉलोनियों के नियमितीकरण के लिए सैद्धांतिक मंजूरी प्रदान कर दी जिससे शहर के अन्य क्षेत्रों की तरह ही इनके विकास का मार्ग प्रशस्त हो गया है।

मुख्यमंत्री शीला दीक्षित की अध्यक्षता में हुई मंत्रिमंडल की बैठक में इन कॉलोनियों को नियमित करने से संबंधित और लंबे समय से लंबित प्रस्ताव को मंजूर कर लिया गया। इन बस्तियों को 2008 में अस्थाई नियमितीकरण प्रमाणपत्र दिए गए थे।

शहरी विकास मंत्री अरविंदर सिंह लवली ने बैठक के बाद बताया कि मंत्रिमंडल ने 205 अनधिकृत कॉलोनियों को नियमित किए जाने के लिए सैद्धांतिक मंजूरी प्रदान कर दी है। अधिकारियों ने कहा कि 205 कॉलोनियों में से 157 कॉलोनियां आंशिक तौर पर वन भूमि पर हैं, जबकि 48 बस्तियां भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण की जमीन पर अतिक्रमण कर बनी हैं। सरकार ने सितंबर में 895 अनधिकृत कॉलोनियों को नियमित किया था जहां करीब 35 लाख लोग रहते हैं।

मंत्रिमंडल ने नियमित हुई सभी कॉलोनियों में तत्काल विकास कार्य शुरू कराए जाने का फैसला किया है। लवली ने कहा कि हम आगामी 15 दिन में उन 205 कॉलोनियों की सूची लेकर आएंगे जिनके नियमितीकरण को मंत्रिमंडल ने मंजूरी दी है।

सरकार ने सभी तीनों नगर निगमों से पहले ही नियमित की जा चुकी कॉलोनियों के लिए लेआउट योजनाएं बनाने में पेशेवर वास्तुकारों की मदद लेने को कहा है।

इसने 2008 के विधानसभा चुनावों से पहले 1639 अनधिकृत कॉलोनियों को अस्थाई नियमितीकरण प्रमाणपत्र जारी किए थे। तत्कालीन शीला सरकार ने प्रमाणपत्र वितरित करते हुए वायदा किया था कि यदि कांग्रेस तीसरी बार सत्ता में आई तो कॉलोनियों को नियमित कर दिया जाएगा। अप्रैल में नगर निगम चुनावों में कांग्रेस की हार के बाद शीला ने सभी संबंधित विभागों से नियमितीकरण की प्रक्रिया तेज करने को कहा था। दिल्ली में दिसंबर में विधानसभा चुनाव होंगे।

 
 
 
|
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingश्रीलंका में जीत के लिए ये है कोहली का मास्टर प्लान
टेस्ट कप्तान के तौर पर अपनी पहली संपूर्ण तीन मैचों की सीरीज के लिये श्रीलंका दौरे पर भारतीय टीम का नेतृत्व कर रहे विराट कोहली ने कहा है कि उनकी योजना श्रीलंका में पांच गेंदबाजों को उतारने की रहेगी।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

जब बीमार पड़ा संता...
जीतो बीमार पति से: जानवर के डॉक्टर को मिलो तब आराम मिलेगा!
संता: वो क्यों?
जीतो: रोज़ सुबह मुर्गे की तरह जल्दी उठ जाते हो, घोड़े की तरह भाग के ऑफिस जाते हो, गधे की तरह दिनभर काम करते हो, घर आकर परिवार पर कुत्ते की तरह भोंकते हो, और रात को खाकर भैंस की तरह सो जाते हो, बेचारा इंसानों का डॉक्टर आपका क्या इलाज करेगा?