सोमवार, 03 अगस्त, 2015 | 14:08 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
दिल्ली: मंसाराम पार्क, बिंदापुर में कक्षा 2 की बच्ची अंशु को बस ने मारी टक्कर, सुबह 7.40 पर हुई घटना।उत्तर प्रदेश: बरेली के कस्तूरबा स्कूल से सातवीं की दो छात्राएं गायब, रविवार रात से ग़ायब हैं दोनों, सुभाष नगर थाने में शिकायत, अभिभावकों का स्कूल में हंगामा।
रिटायरमेंट के चार दिन बाद हुए हादसे का शिकार, मौत
First Published:04-01-2013 11:51:32 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM

गाजियाबाद, हमारे संवाददाता। रिटायरमेंट के चार दिन बाद ही पुलिस का एक रिटायर कर्मी ट्रेन की चपेट में आ गए, जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई। डासना रेल फाटक पर पैदल ट्रेक पार करने के प्रयास में वह ट्रेन की चपेट में आ गए। ट्रेन की चपेट में आए रिटायर पुलिसकर्मी का नाम राजेन्द्र कु मार शर्मा (60) था।

वे धौलाना क्षेत्र के गांव सौलाना के रहने वाले थे। पुलिस के मुताबिक बीते 31 दसिंबर को ही राजेन्द्र शर्मा मुरादनगर थाने से रिटायर हुए थे। रिटायरमेंट के बाद वे पेंशन आदि के कागजातों को सही कराने के लिए पुलिस मुख्यालय आए थे। यहां से लौटते समय करीब एक बजे वे बंद डासना फाटक पर हादसे का शिकार हो गए। डासना फाटक पर रेलवे के हिस्से में ओवरब्रिज का निर्माण कार्य इन दिनों तेजी से चल रहा है। इसी वजह से फाटक से सभी प्रकार के वाहनों की आवाजाही बंद कर दी गई है।

बावजूद इसके लोग शार्टकट के चक्कर में पैदल वहां से निकलते रहते हैं। राजेन्द्र शर्मा भी दोपहर में पुलिस ऑफिस से टेंपो से मिसलगढ़ी के पास उतरे। वहां से फाटक पैदल पार कर डासना तिराहा पहुंचना था। बीच में ही ट्रेन की चपेट में आ गए,जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई।

 
 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingबांग्लादेश और दक्षिण अफ्रीका के बीच टेस्ट मैच ड्रॉ
दक्षिण अफ्रीका और बांग्लादेश के बीच वर्षाबाधित दूसरा और आखिरी टेस्ट आज ड्रॉ हो गया, चूंकि भारी बारिश के कारण आखिरी चार दिन कोई खेल नहीं हो सका।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

जब बीमार पड़ा संता...
जीतो बीमार पति से: जानवर के डॉक्टर को मिलो तब आराम मिलेगा!
संता: वो क्यों?
जीतो: रोज़ सुबह मुर्गे की तरह जल्दी उठ जाते हो, घोड़े की तरह भाग के ऑफिस जाते हो, गधे की तरह दिनभर काम करते हो, घर आकर परिवार पर कुत्ते की तरह भोंकते हो, और रात को खाकर भैंस की तरह सो जाते हो, बेचारा इंसानों का डॉक्टर आपका क्या इलाज करेगा?