रविवार, 26 अक्टूबर, 2014 | 04:19 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    राजनाथ सोमवार को मुंबई में कर सकते हैं शिवसेना से वार्ता नरेंद्र मोदी ने सफाई और स्वच्छता पर दिया जोर मुंबई में मोदी से उद्धव के मिलने का कार्यक्रम नहीं था: शिवसेना  कांग्रेस ने विवादित लेख पर भाजपा की आलोचना की केन्द्र ने 80 हजार करोड़ की रक्षा परियोजनाओं को दी मंजूरी  कांग्रेस नेता शशि थरूर शामिल हुए स्वच्छता अभियान में हेलमेट के बगैर स्कूटर चला कर विवाद में आए गडकरी  नस्ली घटनाओं पर राज्यों को सलाह देगा गृह मंत्रालय: रिजिजू अश्विका कपूर को फिल्मों के लिए ग्रीन ऑस्कर अवार्ड जम्मू-कश्मीर और झारखंड में पांच चरणों में मतदान की घोषणा
रिटायरमेंट के चार दिन बाद हुए हादसे का शिकार, मौत
First Published:04-01-13 11:51 PM

गाजियाबाद, हमारे संवाददाता। रिटायरमेंट के चार दिन बाद ही पुलिस का एक रिटायर कर्मी ट्रेन की चपेट में आ गए, जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई। डासना रेल फाटक पर पैदल ट्रेक पार करने के प्रयास में वह ट्रेन की चपेट में आ गए। ट्रेन की चपेट में आए रिटायर पुलिसकर्मी का नाम राजेन्द्र कु मार शर्मा (60) था।

वे धौलाना क्षेत्र के गांव सौलाना के रहने वाले थे। पुलिस के मुताबिक बीते 31 दसिंबर को ही राजेन्द्र शर्मा मुरादनगर थाने से रिटायर हुए थे। रिटायरमेंट के बाद वे पेंशन आदि के कागजातों को सही कराने के लिए पुलिस मुख्यालय आए थे। यहां से लौटते समय करीब एक बजे वे बंद डासना फाटक पर हादसे का शिकार हो गए। डासना फाटक पर रेलवे के हिस्से में ओवरब्रिज का निर्माण कार्य इन दिनों तेजी से चल रहा है। इसी वजह से फाटक से सभी प्रकार के वाहनों की आवाजाही बंद कर दी गई है।

बावजूद इसके लोग शार्टकट के चक्कर में पैदल वहां से निकलते रहते हैं। राजेन्द्र शर्मा भी दोपहर में पुलिस ऑफिस से टेंपो से मिसलगढ़ी के पास उतरे। वहां से फाटक पैदल पार कर डासना तिराहा पहुंचना था। बीच में ही ट्रेन की चपेट में आ गए,जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई।
 
 
 
 
टिप्पणियाँ