शनिवार, 04 जुलाई, 2015 | 07:10 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    फिल्म देखने से पहले पढ़ें 'गुड्डू रंगीला' का रिव्यू फिल्म रिव्यू: टर्मिनेटर जेनेसिस पूर्व रॉ प्रमुख के खुलासे के बाद सरकार पर हमलावर हुई कांग्रेस, PM से की माफी की मांग झारखंड: मेदिनीनगर के हुसैनाबाद में ओझा-गुणी की हत्या हजारीबाग के पदमा में दो गुटों में भिड़ंत, आधा दर्जन घायल गुमला में बाइक के साथ नदी में गिरा सरकारी कर्मी, मौत हेमा मालिनी के ड्राइवर को कुछ ही घंटों में मिली जमानत, बच्ची की मौत से हेमा दुखी झारखंड के चाईबासा में रिश्वत लेते दारोगा रंगे हाथ गिरफ्तार झारखंड: हजारीबाग में पिता ने अबोध बेटी को पटक कर मार डाला जमशेदपुर में स्कूल वाहन चालक हड़ताल पर, अभिभावक परेशान
रिटायरमेंट के चार दिन बाद हुए हादसे का शिकार, मौत
First Published:04-01-13 11:51 PM

गाजियाबाद, हमारे संवाददाता। रिटायरमेंट के चार दिन बाद ही पुलिस का एक रिटायर कर्मी ट्रेन की चपेट में आ गए, जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई। डासना रेल फाटक पर पैदल ट्रेक पार करने के प्रयास में वह ट्रेन की चपेट में आ गए। ट्रेन की चपेट में आए रिटायर पुलिसकर्मी का नाम राजेन्द्र कु मार शर्मा (60) था।

वे धौलाना क्षेत्र के गांव सौलाना के रहने वाले थे। पुलिस के मुताबिक बीते 31 दसिंबर को ही राजेन्द्र शर्मा मुरादनगर थाने से रिटायर हुए थे। रिटायरमेंट के बाद वे पेंशन आदि के कागजातों को सही कराने के लिए पुलिस मुख्यालय आए थे। यहां से लौटते समय करीब एक बजे वे बंद डासना फाटक पर हादसे का शिकार हो गए। डासना फाटक पर रेलवे के हिस्से में ओवरब्रिज का निर्माण कार्य इन दिनों तेजी से चल रहा है। इसी वजह से फाटक से सभी प्रकार के वाहनों की आवाजाही बंद कर दी गई है।

बावजूद इसके लोग शार्टकट के चक्कर में पैदल वहां से निकलते रहते हैं। राजेन्द्र शर्मा भी दोपहर में पुलिस ऑफिस से टेंपो से मिसलगढ़ी के पास उतरे। वहां से फाटक पैदल पार कर डासना तिराहा पहुंचना था। बीच में ही ट्रेन की चपेट में आ गए,जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई।

 
 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
क्रिकेट स्कोरबोर्ड