शनिवार, 20 दिसम्बर, 2014 | 19:06 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
आरएसएस के सह सर कार्यवाह डॉ. कृष्ण गोपाल के पिता का नोएडा में निधनहिन्दुस्तान: जामताडा में 71 प्रतिशत और नाला विधानसभा क्षेञ में 74 प्रतिशत मतदान की सूचनाजम्मू कश्मीर में 3 बजे तक 55% मतदानइंडिया टुडे और सिसेरो का एग्जिट पोल: झारखंड में बीजेपी को बहुमत के आसारएग्जिट पोल: झारखंड में पहली बार बहुमत की सरकार के आसारएग्जिट पोल: झारखंड में कांग्रेस को 16 % प्रतिशत वोट मिलने का अनुमानएग्जिट पोल: झारखंड में जेएमएम को 20 % प्रतिशत वोट मिलने का अनुमानएग्जिट पोल: झारखंड में बीजेपी को 36% प्रतिशत वोट मिलने का अनुमानएग्जिट पोल: कांग्रेस को 7-11, बीजेपी 41-49, जेएमएम 15-19, अन्य 8-12 सीटों पर जीत मिलने की संभावनाएग्जिट पोल: झारखंड में पहली बार बहुमत की सरकार बनने के आसारअगर आपको धर्मांतरण से एतराज है तो धर्मांतरण के खिलाफ संसद में कानून लाइए: मोहन भागवतझारखंड विधानसभा के पांचवें और आखिरी चरण के मतदान का समय खत्म हो गया है।जम्मू: कठुआ जिले में सीमवर्ती निर्वाचन क्षेत्र हीरानगर में महिला मतदाताओं की संख्या, पुरुष मतदाताओं से अधिक रही। कठुआ जिले के दूर-दराज के बानी और बिलावर निर्वाचन क्षेत्रों में मतदान प्रक्रिया की शुरुआत धीमी रही।जम्मू: राजौरी जिले की राजौरी, दारहल, कालकोट और नौशेरा में भी सुबह के समय मतदान प्रक्रिया सुस्त रही।
भूसा कारोबारी से रंगदारी मांगने वाले दो गिरफ्तार
First Published:03-01-13 11:06 PM

 गाजियाबाद, हमारे संवाददाता। भूसा कारोबारी से रंगदारी वसूलने आए दो बदमाशों को पुलिस ने रंगेहाथ गिरफ्तार कर लिया। मौके से चार लाख नकदी, तमंचे, कारतूस आदि पुलिस ने बरामद किए। गिरफ्तार बदमाशों से पूछताछ में पता चला कि रंगदारी वसूलने की पूरी साजिश भूसा कारोबारी के एक पड़ोसी ने रची थी,जिंसे उसकी हैसियत का पूरी जानकारी थी। पुलिस रंगदारी की साजिश रचने वाले पड़ोसी डेयरी मािलक की सुरागकसी में जुटी है, जो दो दिन से फरार है।

एसपी सिटी शिवशंकर यादव ने प्रेस कांफ्रेस में उक्त जानकारी दी। उन्होंने बताया कि घूकना में रहने वाले धर्मपाल त्यागी का भूसा का कारोबार है। कारोबारी से दो दिन से मोबाइल फोन से 10 लाख की रंगदारी मांगी जा रही थी। त्यागी से दो लोगों के नाम से अलग-अलग नंबरों से रंगदारी देने अथवा जान से मारने की धमकी मिल रही थी। धमकी मिलने से कारोबारी का पूरा परिवार परेशान व खौफजदा था। धर्मपाल त्यागी की शिकायत पर मामले िसहानीगेट पुलिस ने मामले की जांच शुरु की।

रंगदारी मांगने वाला कभी अपने को फ ौजी तो कभी ठाकुर बता रहा था। सिर्वलांस से छानबीन में पुलिस एक दिन बाद ही पूरे साजिश का भंडाफोड़ कर दिया। एसपी सिटी ने बताया कि पुलिस टीम ने कारोबारी से फोन पर चार लाख रंगदारी देने की बात पक्की कर ली। गुरुवार को राजनगर एक्सटेंशन में नन्दी पार्क के पास पुलिस ने प्लािनंग के तहत चार लाख की रंगदारी लेने के लिए बदमाशों को बुलवाया। नन्दी पार्क के पास पुलिस के कुछ जवान सादे कपड़े में िछपकर खड़े थे।

बदमाशों ने सूटकेस में भरे नोटों की गिड्डयां लेकर चलने को हुए तभी जवानों ने दोनों को दबोच लिया। रंगदारी मांगने वाले बदमाशों के नाम िदलशाद पुत्र इमामुद्दीन और इमरान पुत्र शरीफ निवासीगण गांव बुढ़ेरा थाना बिनौलीजिंला बागपत है। कब्जे से दो तमंचे व कारतूस भी बरामद किये गए। बदमाशों ने पुलिस को बताया कि वह तो सिरे्फ रंगदारी की रकम लेने आए थे। उसे भीम सिंह उर्फ भीमी पुत्र प्रहलाद गुर्जर ने भेजा था। भीमी भी बागपत के उपरोक्त गांव के हैं।

भीम सिंह और धर्मपाल त्यागी में पुरानी दोस्ती है। त्यागी के भूसे की आढ़त के पास ही भीम की दूध की डेयरी है। भीमी को पता था कि धर्मपाल त्यागी के पास काफी पैसा है और वह 10 लाख की रकम आसानी से दे सकता है। पुलिस अब भीमी की तलाश में जुटी है।

 
 
 
 
टिप्पणियाँ
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड