बुधवार, 02 सितम्बर, 2015 | 22:27 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
मथुरा में 21 सितंबर को होगा कांग्रेस का चिंतन शिविर।गरीबी रेखा तय नहीं करेगा नीति आयोग, प्रधानमंत्री को सौंपी मसौदा रिपोर्ट।मेरठ अग्निकांड में आयोजक को देना होगा 60 फीसदी मुआवजाः जांच आयोगयूपी में गांवों की बिजली सप्लाई दुरुस्त करने के लिए 6600 करोड़ रुपये।दिल्ली पुलिस ने आईपीएल-6 के स्पॉट फिक्सिंग मामले पर हाईकोर्ट में अपील की।
भूसा कारोबारी से रंगदारी मांगने वाले दो गिरफ्तार
First Published:03-01-2013 11:06:30 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM

 गाजियाबाद, हमारे संवाददाता। भूसा कारोबारी से रंगदारी वसूलने आए दो बदमाशों को पुलिस ने रंगेहाथ गिरफ्तार कर लिया। मौके से चार लाख नकदी, तमंचे, कारतूस आदि पुलिस ने बरामद किए। गिरफ्तार बदमाशों से पूछताछ में पता चला कि रंगदारी वसूलने की पूरी साजिश भूसा कारोबारी के एक पड़ोसी ने रची थी,जिंसे उसकी हैसियत का पूरी जानकारी थी। पुलिस रंगदारी की साजिश रचने वाले पड़ोसी डेयरी मािलक की सुरागकसी में जुटी है, जो दो दिन से फरार है।

एसपी सिटी शिवशंकर यादव ने प्रेस कांफ्रेस में उक्त जानकारी दी। उन्होंने बताया कि घूकना में रहने वाले धर्मपाल त्यागी का भूसा का कारोबार है। कारोबारी से दो दिन से मोबाइल फोन से 10 लाख की रंगदारी मांगी जा रही थी। त्यागी से दो लोगों के नाम से अलग-अलग नंबरों से रंगदारी देने अथवा जान से मारने की धमकी मिल रही थी। धमकी मिलने से कारोबारी का पूरा परिवार परेशान व खौफजदा था। धर्मपाल त्यागी की शिकायत पर मामले िसहानीगेट पुलिस ने मामले की जांच शुरु की।

रंगदारी मांगने वाला कभी अपने को फ ौजी तो कभी ठाकुर बता रहा था। सिर्वलांस से छानबीन में पुलिस एक दिन बाद ही पूरे साजिश का भंडाफोड़ कर दिया। एसपी सिटी ने बताया कि पुलिस टीम ने कारोबारी से फोन पर चार लाख रंगदारी देने की बात पक्की कर ली। गुरुवार को राजनगर एक्सटेंशन में नन्दी पार्क के पास पुलिस ने प्लािनंग के तहत चार लाख की रंगदारी लेने के लिए बदमाशों को बुलवाया। नन्दी पार्क के पास पुलिस के कुछ जवान सादे कपड़े में िछपकर खड़े थे।

बदमाशों ने सूटकेस में भरे नोटों की गिड्डयां लेकर चलने को हुए तभी जवानों ने दोनों को दबोच लिया। रंगदारी मांगने वाले बदमाशों के नाम िदलशाद पुत्र इमामुद्दीन और इमरान पुत्र शरीफ निवासीगण गांव बुढ़ेरा थाना बिनौलीजिंला बागपत है। कब्जे से दो तमंचे व कारतूस भी बरामद किये गए। बदमाशों ने पुलिस को बताया कि वह तो सिरे्फ रंगदारी की रकम लेने आए थे। उसे भीम सिंह उर्फ भीमी पुत्र प्रहलाद गुर्जर ने भेजा था। भीमी भी बागपत के उपरोक्त गांव के हैं।

भीम सिंह और धर्मपाल त्यागी में पुरानी दोस्ती है। त्यागी के भूसे की आढ़त के पास ही भीम की दूध की डेयरी है। भीमी को पता था कि धर्मपाल त्यागी के पास काफी पैसा है और वह 10 लाख की रकम आसानी से दे सकता है। पुलिस अब भीमी की तलाश में जुटी है।

 
 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingश्रीलंका में 22 साल बाद भारत ने टेस्ट सीरीज जीती
भारतीय क्रिकेट टीम ने सिंहलीज स्पोर्ट्स क्लब मैदान पर जारी तीसरे टेस्ट मैच के पांचवें दिन श्रीलंका को 117 रनों से हराया। इस जीत के साथ भारत ने 22 साल बाद टेस्ट सीरीज पर कब्जा कर इतिहास रचा।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड Others
 
Image Loading

जब एयरपोर्ट जा पहुंचा एक शराबी...
एक रात एक शराबी एयरपोर्ट के बाहर खड़ा था।
एक वर्दीधारी युवक उधर से गुजरा।
शराबी- एक टैक्सी ले आओ।
युवक बोला- मैं पायलट हूं, टैक्सी ड्राइवर नहीं।
शराबी- नाराज क्यों होते हो भाई, टैक्सी नहीं तो एक हवाई जहाज ले आओ।