शनिवार, 01 नवम्बर, 2014 | 13:48 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    आम आदमी की उम्मीदों को पूरा करे सरकार: शिवसेना वर्जिन का अंतरिक्ष यान दुर्घटनाग्रस्त, पायलट की मौत केंद्र सरकार के सचिवों से आज चाय पर चर्चा करेंगे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भाजपा आज से शुरू करेगी विशेष सदस्यता अभियान आयोग कर सकता है देह व्यापार को कानूनी बनाने की सिफारिश भाजपा की अपनी पहली सरकार के समारोह में दर्शक रही शिवसेना बेटी ने फडणवीस से कहा, ऑल द बेस्ट बाबा झारखंड में हेमंत सरकार से समर्थन वापसी की तैयारी में कांग्रेस अब एटीएम से महीने में पांच लेन-देन के बाद लगेगा शुल्क  पेट्रोल 2.41 रुपये, डीजल 2.25 रुपये सस्ता
भूसा कारोबारी से रंगदारी मांगने वाले दो गिरफ्तार
First Published:03-01-13 11:06 PM

 गाजियाबाद, हमारे संवाददाता। भूसा कारोबारी से रंगदारी वसूलने आए दो बदमाशों को पुलिस ने रंगेहाथ गिरफ्तार कर लिया। मौके से चार लाख नकदी, तमंचे, कारतूस आदि पुलिस ने बरामद किए। गिरफ्तार बदमाशों से पूछताछ में पता चला कि रंगदारी वसूलने की पूरी साजिश भूसा कारोबारी के एक पड़ोसी ने रची थी,जिंसे उसकी हैसियत का पूरी जानकारी थी। पुलिस रंगदारी की साजिश रचने वाले पड़ोसी डेयरी मािलक की सुरागकसी में जुटी है, जो दो दिन से फरार है।

एसपी सिटी शिवशंकर यादव ने प्रेस कांफ्रेस में उक्त जानकारी दी। उन्होंने बताया कि घूकना में रहने वाले धर्मपाल त्यागी का भूसा का कारोबार है। कारोबारी से दो दिन से मोबाइल फोन से 10 लाख की रंगदारी मांगी जा रही थी। त्यागी से दो लोगों के नाम से अलग-अलग नंबरों से रंगदारी देने अथवा जान से मारने की धमकी मिल रही थी। धमकी मिलने से कारोबारी का पूरा परिवार परेशान व खौफजदा था। धर्मपाल त्यागी की शिकायत पर मामले िसहानीगेट पुलिस ने मामले की जांच शुरु की।

रंगदारी मांगने वाला कभी अपने को फ ौजी तो कभी ठाकुर बता रहा था। सिर्वलांस से छानबीन में पुलिस एक दिन बाद ही पूरे साजिश का भंडाफोड़ कर दिया। एसपी सिटी ने बताया कि पुलिस टीम ने कारोबारी से फोन पर चार लाख रंगदारी देने की बात पक्की कर ली। गुरुवार को राजनगर एक्सटेंशन में नन्दी पार्क के पास पुलिस ने प्लािनंग के तहत चार लाख की रंगदारी लेने के लिए बदमाशों को बुलवाया। नन्दी पार्क के पास पुलिस के कुछ जवान सादे कपड़े में िछपकर खड़े थे।

बदमाशों ने सूटकेस में भरे नोटों की गिड्डयां लेकर चलने को हुए तभी जवानों ने दोनों को दबोच लिया। रंगदारी मांगने वाले बदमाशों के नाम िदलशाद पुत्र इमामुद्दीन और इमरान पुत्र शरीफ निवासीगण गांव बुढ़ेरा थाना बिनौलीजिंला बागपत है। कब्जे से दो तमंचे व कारतूस भी बरामद किये गए। बदमाशों ने पुलिस को बताया कि वह तो सिरे्फ रंगदारी की रकम लेने आए थे। उसे भीम सिंह उर्फ भीमी पुत्र प्रहलाद गुर्जर ने भेजा था। भीमी भी बागपत के उपरोक्त गांव के हैं।

भीम सिंह और धर्मपाल त्यागी में पुरानी दोस्ती है। त्यागी के भूसे की आढ़त के पास ही भीम की दूध की डेयरी है। भीमी को पता था कि धर्मपाल त्यागी के पास काफी पैसा है और वह 10 लाख की रकम आसानी से दे सकता है। पुलिस अब भीमी की तलाश में जुटी है।

 
 
 
 
टिप्पणियाँ