शुक्रवार, 28 नवम्बर, 2014 | 09:42 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
झुग्गी और रेहडी पटरी वालों को नहीं हटाया जाए: माकन
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:03-01-13 04:59 PM

केन्द्रीय आवास एवं शहरी उन्मूलन मंत्री अजय माकन ने दिल्ली के उपराज्यपाल तेजेन्द्र खन्ना से झुग्गी, झोंपडी और रेहडी पटरी वालों को स्थान उपलब्ध कराए बिना नहीं हटाए जाने की मांग की है।

नई दिल्ली क्षेत्र से सांसद माकन ने खन्ना को आज लिखे पत्र में राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली, विशेष प्रावधान, द्वितीय कानून 2011 का उल्लेख किया है। इस कानून में कहा गया है कि जब तक झुग्गी, स्लम कलस्टर . हटाकर अथवा रेहडी पटरी वालों को वे जहां बसें हैं उसी स्थान अथवा उसी के आसपास जगह उपलब्ध नहीं कराई जाती तब तक हटाया नहीं जाना चाहिए।
 
माकन ने कहा है कि उनके पास इस बाबत ढेरों शिकायतें आई हैं जिसमें कहा गया है कि स्थानीय निकाय, निगमों के अधिकारी मनमाने ढंग से झुग्गी झोंपडियों और रेहडी पटरी वालों को हटा रहे हैं और केन्द्र के कानून का खुल्लम खुल्ला उल्लंघन किया जा रहा है। उन्होंने आरोप लगाया कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) शासित दिल्ली के तीनों नगर निगम दिल्ली विशेष प्रावधान कानून की पूरी अवहेलना कर रहे हैं। इस कानून में तदर्थ और गैर नियोजित निर्माण हटाने को पूरी तरह से संरक्षण मिला हुआ है।
 
पत्र में लिखा है कि विशेष प्रावधान कानून की धारा तीन (3) में यह निर्देशित है कि कोई भी स्थानीय निकाय राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के प्रशासक अथवा उनके द्वारा प्राधिकृत कार्यालय की अनुमति के बिना कार्रवाई नहीं कर सकता है। उन्होंने उपराज्यपाल से आग्रह किया है कि स्थानीय निकाय के अधिकारियों को यह निर्देश दिया जाए कि बिना पूर्व अनुमति के कोई कार्रवाई नहीं करें। उन्होंने दिल्ली के मुख्य सचिव को भी लिखकर इस संदर्भ में स्थानीय नगर निगमों को उचित निर्देश देने का आग्रह किया है।

 
 
|
 
 
टिप्पणियाँ