रविवार, 30 अगस्त, 2015 | 11:22 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
भूमि बिल पर हर सुझाव को स्वीकार करने के लिए सरकार तैयार: प्रधानमंत्रीकिसानों के हित के किसी भी सुझाव को मैं स्वीकार करूंगा: मोदीइस्लाम के सही स्वरूप को लोगों तक पहुंचाना जरूरी: पीएमविकास से जुड़ी हर समस्या का समाधान होगा: प्रधानमंत्रीगुजरात की स्थिति संभालने में हम सफल रहे: मोदीबैंक मित्र की योजना को भी बल मिला और इससे नौजवानों को रोजगार मिला: पीएमसभी माताओं और बहनों का रक्षाबंधन की बहुत बहुत शुभकामनाएं: प्रधानमंत्री11 करोड़ लोग बीमा योजना से जुड़े, आधा लाभा माताओं और बहनों को मिला: मोदी
फार्म जमा करने के लिए छात्र रहे परेशान
First Published:02-01-2013 11:51:23 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM

 गाजियाबाद। कार्यालय संवाददाता

एमएमएच कॉलेज में शैक्षिक अवकाश भले ही छह जनवरी तक हो लेकिन कार्यालय बुधवार को खुल गया। सेमेस्टर परीक्षा फार्म जमा करने के लिए छात्र कॉलेज पहुंचे लेकिन जानकारी देने वाला कोई कर्मचारी उन्हें नहीं मिला। एमएमएच कॉलेज में छह जनवरी तक अवकाश घोषित किया गया है लेकिन इसी बीच कॉलेज के कार्यालय का अवकाश नहीं रखा गया। छात्रों को सूचित किया गया था कि सेमेस्टर परीक्षा फार्म जमा करने की तिथि कॉलेज में नोटिस बोर्ड पर चस्पां की जाएगी।

लिहाजा छात्र अवकाश के बीच में भी कॉलेज के संपर्क में रहे। 31 व एक जनवरी को अवकाश था। दो जनवरी को कॉलेज का कार्यालय खुला। कार्यालय खुलने के साथ फार्म जमा करने की जानकारी के लिए छात्र भी कॉलेज पहुंचे। सुबह 10 बजे छात्र कॉलेज पहुंचे लेकिन उन्हे कॉलेज काउंटर बंद मिले। बाद में कॉलेज के काउंटर खुले लेकिन छात्रों को सेमेस्टर परीक्षा फार्म जमा करने के बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई। छात्र विवेक शर्मा ने बताया कि कॉलेज के क्लर्क ने बताया कि अभी यूनविर्सिटी की ओर से फार्म जमा करने की कोई तिथि नहीं बताई गई है।

कॉलेज के प्राचार्य डॉ. आर.एम. जौहरी का कहना है कि यूनविर्सिटी की ओर से कोई भी निर्देश आते ही उसे तुरंत नोटिस बोर्ड पर चस्पां कर दिया जाएगा।

 
 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image LoadingLIVE:श्रीलंका को दूसरा झटका, सिल्वा आउट
श्रीलंका क्रिकेट टीम ने सिंहलीज स्पोर्ट्स क्लब मैदान पर भारत के साथ जारी तीसरे टेस्ट मैच के तीसरे दिन रविवार को अपनी पहली पारी में दो विकेट गंवा दिए।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

जब संता के घर आए डाकू...
आधी रात को संता के घर डाकू आए।
संता को जगाकर पूछा: यह बताओ कि सोना कहां है?
संता (गुस्से से): इतना बड़ा घर है कहीं भी सो जाओ। इतनी छोटी बात के लिए मुझे क्यों जगाया!