शुक्रवार, 24 अक्टूबर, 2014 | 22:23 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    भूपेंद्र सिंह हुड्डा की बढ़ सकती हैं मुश्किलें  कालेधन पर राम जेठमलानी ने बढ़ाई सरकार की मुश्किलें जमशेदपुर से लश्कर का आतंकवादी गिरफ्तार  कोई गैर गांधी भी बन सकता है कांग्रेस अध्यक्ष: चिदंबरम भाजपा के साथ सरकार के लिए उद्धव बहुत उत्सुक: अठावले रांची : एंथ्रेक्स ने ली सात लोगों की जान, 8 गंभीर हालत में भर्ती भारत-पाक तनाव के लिये भारत जिम्मेदार : बिलावल भुट्टो अमेरिकी विदेश विभाग में पहली बार मनी दीवाली एनआईए प्रमुख ने बर्दवान विस्फोट की जांच का जायजा लिया आईएस के आतंकवादी अब दुनिया में सबसे धनी : विशेषज्ञ
गैंगरेप मृतका को अशोक चक्र से सम्मानित किया जाए: विजेन्द्र
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:02-01-13 05:41 PM

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की दिल्ली इकाई ने सामूहिक बलात्कार की शिकार युवती को देश में बहादुरी के सर्वोच्च नागरिक सम्मान अशोक चक्र से सम्मानित किए जाने की मांग की है। भाजपा की दिल्ली इकाई के अध्यक्ष विजेन्द्र गुप्ता ने इस संबंध में प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को एक आज एक पत्र लिखा है जिसमें उनसे आग्रह किया गया है कि सामूहिक गैंगरेप के बाद मृत लड़की को इस वर्ष 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के मौके पर बहादुरी के लिए अशोक चक्र दिया जाना चाहिए। उन्होंने पत्र में बलात्कारियों से संघर्ष करने के लिए लड़की की हिम्मत और बहादुरी और उसके बाद जिस तरह से उसने जज्बा दिखाया उसकी सराहना की।
 
गुप्ता ने लिखा है कि लड़की की बहादुरी से पूरे देश को सीख मिली है। प्रदेश अध्यक्ष ने इस संबंध में सुश्री नीरजा भनोट का उल्लेख किया है जो पान एएम एयरलाइसं में फ्लाईट अटेंडेंट थीं और विमान पर सवार यात्रियों को आतंकवादियों द्वारा अपहरण के समय उनकी जान बचाई थी। यह वाक्या पांच सितम्बर 1986 का है। वह यह सम्मान पाने वाली देश की सबसे युवा थी।
 
उन्होंने लिखा है .युवती का मृत शरीर जब सिंगापुर से दिल्ली लाया गया तो उस समय हवाई अड्डे पर उपस्थित चंद लोगों में वह भी शामिल थे। मुझे पूरा विश्वास है कि आप देश की भावनाओं को समझते हुए पीडिता को अशोक चक्र से सम्मानित करेंगे। उल्लेखनीय है कि पैरामेडिकल की 23 वर्षीय छात्रा के साथ 16 दिसम्बर की रात को चलती चार्टर्ड बस में सामूहिक बलात्कार किया गया था। कई दिन तक सफदरजंग अस्पताल में उपचार के बाद उसे इलाज के लिए सिंगापुर ले जाया गया था जहां उसकी मौत हो गई।
 
 
|
 
 
टिप्पणियाँ