बुधवार, 05 अगस्त, 2015 | 08:09 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
हेल्पलाइन नंबरः हरदाः 9752460088 वाराणसीः 9794845312, 0542 2504221, मुंबईः 022-5280005 भोपालः 07554061609 बीनाः 075802222 इटारसीः 0758422419200
छुट्टियां मनाने अमृतसर जा रहा था परिवार
First Published:30-12-2012 10:42:34 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM

नई दिल्ली वरिष्ठ संवाददाता

अंबाला में सड़क हादसे का शिकार हुआ परिवार पश्चिमी दिल्ली के मानसरोवर गार्डन इलाके में रहता था। नये साल पर यह परिवार खुशियां मनाने अमृतसर में अपने रशि्तेदार के घर जा रहा था, लेकिन वहां पहुंचने से पूर्व ही यह सड़क हादसा हो गया। हादसा इतना जबरदस्त था कि कार में सवार चारों लोगों की मौत हो गई। हादसे की जानकारी मिलते ही इनके मुहल्ले में मातम सा छा गया और आसपास रहने वाले लोग गमगीन हो गए।

हादसे में जान गंवाने वाले 35 वर्षीय सचिन गुप्ता के परिवार में माता-पिता, पत्नी 32 वर्षीय राखी, बेटा 9 वर्षीय प्रत्यक्ष, तीन वर्षीय बेटी वृंदा और बड़े भाई संदीप का परिवार था। सचिन का लोहा मंडी में अपना कारोबार है। उनका घर मानसरोवर गार्डन के बी ब्लॉक में है। पड़ोसियों ने बताया कि हाल ही में प्रत्यक्ष के स्कूल की छुट्टियां पड़ गई थी। वह अपनी नानी के घर अमृतसर जाना चाहता था। इसलिए इस परिवार ने नये साल का जश्न अमृतसर स्थित राखी के मायके में मनाने की योजना बनाई थी।

रविवार सुबह परिवार के लोग कार में बैठकर अमृतसर के लिए निकल गए थे, लेकिन शाम को उनकी मौत की खबर दिल्ली पहुंची। सचिन के पड़ाेस में रहने वाली एक युवती ने बताया कि मौके पर पुलिस को एक डायरी मिली थी, जिसमें उनका नंबर लिखा हुआ था। इस नंबर पर पुलिस ने उन्हें फोन कर हादसे की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि हादसे में तीन लोगों की तो मौके पर ही मौत हो गई थी, जबकि वृंदा ने अस्पताल ले जाने के दौरान दम तोड़ दिया।

यह जानकारी तुरंत उन्होंने सचिन के घर पर दी। इसकी जानकारी मिलते ही तुरंत उसके पिता जीवन कुछ लोगों के साथ घटनास्थल के लिए रवाना हो गए। घटना के बाद से सचिन की मां व परिवार के अन्य सदस्यों का रो-रो कर बुरा हाल है। वह उस पल को कोस रहे हैं,जब सचिन ने अमृतसर जाने का मन बनाया था।

 
 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingतेंदुलकर ने मलिंगा की तारीफों के पुल बांधे
तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा की तारीफ करते हुए महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने आज कहा कि श्रीलंका का यह क्रिकेटर विश्व स्तरीय गेंदबाज है और उनके साथ इंडियन प्रीमियर लीग में खेलना शानदार अनुभव रहा।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

संता बंता और अलार्म

संता बंता से - 20 सालों में, आज पहली बार अलार्म से सुबह सुबह मेरी नींद खुल गई।

बंता - क्यों, क्या तुम्हें अलार्म सुनाई नहीं देता था?

संता - नहीं आज सुबह मुझे जगाने के लिए मेरी बीवी ने अलार्म घड़ी फेंक कर सिर पर मारी।