रविवार, 30 अगस्त, 2015 | 02:29 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
शिकायतकर्ता महिला ने पहले भी लगाए थे गलत आरोप
First Published:27-12-2012 11:35:18 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM

लखनऊ विशेष संवाददाता राज्य मुख्यालय। प्रदेश के एडीजी कानून-व्यवस्था अरुण कुमार ने कहा है कि दिल्ली के कालका थाने में दुराचार की रिपोर्ट दर्ज कराने वाली युवती पहले भी वर्ष 2010 में दुराचार का आरोप लगा चुकी है। उसके आरोपों की आगरा के सिकंदरा थाने की पुलिस ने जांच की थी और उन्हें गलत पाए जाने पर एफआईआर नहीं दर्ज की गई। पुलिस ने जांच में आरोपों को गलत पाया था। अरुण कुमार ने कहा कि वह महिला द्वारा ताजा आरोपों पर कुछ नहीं कहेंगे।

दिल्ली के कालका थाने की पुलिस वृंदावन आयी है। वह जांच कर रही है। जो भी सही हो, वही करे लेकिन महिला और उसके साथी का वंृदावन निवासी लोगों से संपत्ति का विवाद चल रहा है। यही नहीं, महिला व उसका साथी वर्ष 2009-10 में गैंगस्टर में गिरफ्तार भी किए जा चुके हैं।

 
 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingगावस्कर ने पुजारा की तारीफों के पुल बांधे
अपनी अच्छी तकनीक और शांत चित के कारण चेतेश्वर पुजारा क्रीज पर अपने पांव जमाने में माहिर हैं और पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने भी इस युवा बल्लेबाज की आज जमकर तारीफ की जिन्होंने अपने नाबाद शतक से भारत को संकट से उबारा।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

जब संता के घर आए डाकू...
आधी रात को संता के घर डाकू आए।
संता को जगाकर पूछा: यह बताओ कि सोना कहां है?
संता (गुस्से से): इतना बड़ा घर है कहीं भी सो जाओ। इतनी छोटी बात के लिए मुझे क्यों जगाया!