रविवार, 23 नवम्बर, 2014 | 22:40 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
पेयजल संसाधनों को दुरुस्त किया जाएगा
First Published:26-12-12 11:38 PM

गाजियाबाद। हमारे संवाददाता

गर्मी से पहले शहर की पेयजल व्यवस्था दुरुस्त की जाएगी। जनवरी के आखिरी सप्ताह से पेयजल संसाधनों को दुरुस्त करने का काम शुरूहोगा। इससे गर्मी के मौसम में पेयजल की किल्लतें नहीं होगी। जनवरी से सभी 80 वार्डो में 10-10 लाख के विकास कार्य शुरूकराएं जाएंगे। गर्मी के मौसम में सुचारु पेयजल के लिए नगर निगम 20 जेनरेटर किराए पर और लेगा। निगम के आय के स्रेत बढ़ाने के लिए विज्ञापन ठेकेदारों पर निगम शिकंजा कसेगा तो व्यावसायिक करों की वसूली के लिए प्रयास तेज किया जाएगा।

बैठक में दो प्रस्ताव को पूरे सदन से खारिज कर दिया। इससे जनता पर प्रत्येक वर्ष बड़ा बोझ पड़ेगा। संपत्ति करों की वसूली के दौरान निगम की ओर से मिलने वाली 20 फीसदी छूट को 10 फीसदी कम करने के मुद्दे पर पूरा सदन विरोध पर उतर आया तो करों की बकाया राशि पर जनता पर 12 फीसदी ब्याज लगाने का निर्णय भी निगम को वापस लेना पड़ा। दोनों मुद्दों पर सदन में जबरदस्त विरोध हुआ। भाजपा पार्षद राजेन्द्र त्यागी ने खराब व बंद सभी नलकूपों और हेंडपंपों को समय रहते ठीक कराने की मांग की।

इस पर नगर आयुक्त जितेन्द्र सिंह ने जनवरी से ही इस दिशा में काम कराने का आश्वासन दिया। मेट्रो फंडिंग के मुद्द्े पर विरोध के बाद त्यागी ने कहा कि जीडीए के साथ जमीन का दोस्ताना संबंध कड़वा रहा है। निगम की करीब साढ़े छह लाख वर्ग मीटर जमीन जीडीए के पास है। नेहरू विकास मीनार, नन्दग्राम और तुलसी निकेतन बसाने में ली गई जमीन के पैसे से जीडीए मेट्रो का हिस्सा ले ले, बाकी निगम को लौटा दें। इस पर पूरा सदन तैयार है।

इसके अलावे 20 फु ट से छोटी सड़कों को पक्की करने की बजाय इंटर लॉकिंग बनाने, पैच वर्क के लिए 50 लाख की जगह 5 करोड़ का फंड सुरक्षित करने, प्रत्येक वार्ड के इंमरजेंसी कार्यो के लिए सिंगल एजेंसी से 50-50 हजार का काम कराना। डूंडाहेड़ा एसटीपी मेन ट्रंक लाइन को जल्द ठीक कराने, शहीदनगर और विजयनगर जोन के वार्ड 23 में एक-एक बालिका विद्यालय बनाने का पूरा सदन राजी हो गया। निगम आयुक्त भी राजी हो गए। निगम आयुक्त जितेन्द्र सिंह ने महापौर तेलूराम काम्बोज और पूरे सदन को आश्वस्त किया कि डूंडाहेडा में 14 एकड़ जमीन पर जल्द ही डंपिंग ग्राउंड बनेगा।

जल्द ही काम शुरू होगा। निगम के सभी जोन में छह-छह टाटा हाथी वाहन कूड़ा उठाने के लिए खरीदे जाएंगे। ये प्रस्ताव अटके - मेट्रो फंडिंग पर प्रस्ताव - संपत्ति कर में छूट 20 फीसदी से 10 फीसदी करने का मामला- संपत्ति क र के बकाया बिलों पर 12 फीसदी वार्षिक ब्याज का मामला इन पर लगी मुहर-- स्वास्थ्य विभाग में सफाई श्रमिकों की ठेके पर स्वीकृ ति - सफाई कार्य के लिए ठेका वाहन चालकों की स्वीकृति पर मुहर- मुख्य नगर लेखा परीक्षक के कार्यालय में स्टाफ की संस्तुति- हिंडन वहिार में सीवर लाइन बिछाने के कार्य को हरी झंडी- आवारा कुत्तों की नसबंदी पर एक बार फिर लगी मुहरं।

 
 
 
 
टिप्पणियाँ