शुक्रवार, 03 जुलाई, 2015 | 21:07 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    फिल्म देखने से पहले पढ़ें 'गुड्डू रंगीला' का रिव्यू फिल्म रिव्यू: टर्मिनेटर जेनेसिस पूर्व रॉ प्रमुख के खुलासे के बाद सरकार पर हमलावर हुई कांग्रेस, PM से की माफी की मांग झारखंड: मेदिनीनगर के हुसैनाबाद में ओझा-गुणी की हत्या हजारीबाग के पदमा में दो गुटों में भिड़ंत, आधा दर्जन घायल गुमला में बाइक के साथ नदी में गिरा सरकारी कर्मी, मौत हेमा मालिनी के ड्राइवर को कुछ ही घंटों में मिली जमानत, बच्ची की मौत से हेमा दुखी झारखंड के चाईबासा में रिश्वत लेते दारोगा रंगे हाथ गिरफ्तार झारखंड: हजारीबाग में पिता ने अबोध बेटी को पटक कर मार डाला जमशेदपुर में स्कूल वाहन चालक हड़ताल पर, अभिभावक परेशान
शहर में क्रिसमस पर जन्में 40 बच्चों
First Published:26-12-12 11:38 PM

 गाजियाबाद। कार्यालय संवाददाता

25  दिसंबर को क्रिसमस पर शहर के विभिन्न अस्पतालों में 40 से ज्यादा बच्चों ने जन्म लिया। इन बच्चों का हर जन्मदिन क्रिसमस होगा। नेहरूनगर निवासी वंदना ने जुड़वा बच्चों को जन्म दिया। वंदना की डॉक्टर ने ऑपरेशन के लिए 20 से 30 दसिंबर की तारीख दी थी। वंदना के परिजनों ने डॉक्टर से 25 दिसबर को ऑपरेशन करने का कहा।

25 दसिंबर की सुबह आठ बजे वंदना ने जुड़वा बेटों को जन्म दिया। वंदना के पति दिनेश कुमार का कहना है कि उनके बच्चों का जन्मदिन पूरी दुनिया में मनाया जाएगा। सबसे ज्यादा 12 बच्चों ने जिला अस्पताल में जन्म लिया, कंबाइड जिला अस्पताल में चार जबकि यशोदा अस्पताल में दो लड़के और दो लड़कियों ने जन्म लिया। वरिष्ठ स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. दीपा त्यागी के मुताबिक नॉर्मल डिलीवरी में कोई समय या डेट फिक्स नहीं होती लेकिन ऑपरेशन की संभवनाएं वाली महिलाओं में समय पूरा होने के बाद कभी भी ऑपरेशन किया जा सकता है।

कई महिलाओं के परिजनों ने इसके लिए आग्रह किया था। गणेश अस्पताल की स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. अर्चना शर्मा ने बताया कि उनके यहां दो महिलाओं ने बच्चों को जन्म दिया। दोनों ही बच्चों ऑपरेशन के जरिए हुए। शविम् अस्पताल में दो महिलाओं ने तीन बच्चों को जन्म दिया, वहीं सवरेदय अस्पताल में चार बच्चों का जन्म हुआ। कोलंबिया एशिया के जीएम डॉ. सुमित प्रसाद के मुताबिक उनके अस्पताल में 25 दसिंबर को एक बच्चों का जन्म हुआ।

 
 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
क्रिकेट स्कोरबोर्ड