सोमवार, 31 अगस्त, 2015 | 16:19 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
इंद्राणी, संजीव और ड्राइवर को पुलिस हिरासत में भेजा गयामेरठ: दो दिन से लापता युवक की लाश गाजियाबाद के निवाड़ी में मिली, परिजनों का हंगामा
कोहरे की चादर ने थामी वाहनों की रफ्तार
फरीदाबाद/बल्लभगढ़/पलवल/होडल/हथीन First Published:24-12-2012 11:55:20 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM

सोमवार को भी लोगों को कहरे का सामना करना पड़ा। जिससे सुबह लोगों काम काज पूरी तरह प्रभावित हुई। काम पर जाने वाले लोगों के लिए मानों रफ्तार पर ब्रेक लगा दिया। हाईवे पर वाहनों और ट्रैफिक पूरी तरह प्रभावित रही। पीक आवर में गाडिम्यां रेंगती रहीं। कोहरे की वजह से लोग अपनी मंजिल पर देरी से पहुंचे, सरकारी दफ्तरों में भी कोहरे का असर दिखाई दिया। अधिकांश कर्मचारी आफिस देर से पहुंचे। जिला प्रशासन की ओर से अलाव की व्यवस्था न होने के कारण लोग अपने आप को ठंड से बचने के लिए अलाव जलाकर ठंड भगाने में लगे रहे।

आने दिनों में भी ङोलनी पड़ेगी कोहरे की मार: मौसम विभाग के अनुसार अधिकतम तापमान 16 डिग्री, सामान्य से आठ डिग्री कम और न्यूनतम 6 डिग्री सेल्सियस रहा जो कि सामान्य से करीब तीन डिग्री सेल्सियम कम थी। घने कोहरे के कारण दृश्यता करीब 500 मीटर तक रही। जिले में कई स्थानों पर दृश्यता शून्य रही। आने वाले दिनों में अधिकतम तापमान 13 से 16 डिग्री के बीच रहेगी। मौसम विभाग की मानें तो मंगलवार को कोहरे की मार कम रहेगी।

तापमान में थोड़ी बढ़ोतरी हो सकती है, लेकिन बुधवार और गुरुवार को कोहरे का कहर बढ़ जाएगा। अधिकतम तापमान 11 डिग्री और न्यूनतम करीब 5 डिग्री सेल्सियम हो सकती है। अधिकत आद्र्रता 90 फीसदी तक बनी रहेगी। हवाएं करीब दस से 12 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलेगी। -------------------------ट्रेनें रहीं प्रभावितकोहरे की वजह से सोमवार को भी दर्जनों ट्रेन प्रभावित रही। फरीदाबाद स्टेशन अधीक्षक डीडी सिंघल के मुताबिक सभी सुपर फास्ट और एक्सप्रेस ट्रेने दो से चार घंटे तक लेट रही।

वहीं ईएमयू भी आाधे से एक घंटे देरी से चली। उज्जनी एक्सप्रेस करीब साढ़े तीन घंटे, केरला चार घंटे, पंजाब मेल तीन घंटे, आगरा इंटरसिटी पांच घंटे, मंगला एक्सप्रेस तीन घंटे लेट रही। वहीं देरी की वजह से आगरा इंटर सिटी शाम को आगरा जाने वाले ट्रेन को रद्द कर दिया गया। --------------------------।

 
 
 
|
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

सीसीटीवी कैमरों का जमाना है...
पिता: एक समय था, जब मैं 10 रुपए में किराना, दूध, सब्जी और नाश्ता ले आता था..
बेटा: अब संभव नहीं है, पापा अब वहां सीसीटीवी कैमरे लगे होते हैं।