रविवार, 05 जुलाई, 2015 | 08:11 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    15 अगस्त से 30 नवंबर तक नहीं बिकेंगी एस्पिरिन और डिस्परिन जैसी दवाएं पूर्व रॉ प्रमुख दौलत के दावे सिर्फ झूठ का पुलिंदा, सुर्खियों में रहने के लिए लिखी किताब: हुर्रियत यूपीएससी में बेटियों ने बाजी मारी, दिल्ली की इरा ने टॉप किया, लड़कों में बिहार का सुहर्ष अव्वल इलाहाबाद जंक्शन पर पटरी से उतरी मालगाड़ी, परिचालन ठप मुजफ्फरनगर: सड़क हादसे में दो बच्चों की मौत के बाद जमकर हुआ बवाल झारखंड: पटरी से उतरी मालगाड़ी, दो मरे, चार ट्रेनें रद्द अनूप चावला की हालत बिगड़ी, एयर एंबुलेंस से भेजा मेदांता अनंत विक्रम सिंह गिरफ्तार, अमेठी में भारी पुलिसबल तैनात आतंकी भटकल ने जेल से किया पत्नी को फोन, बताई गुप्त योजना, मचा हडकंप माफिया डॉन दाउद इब्राहिम ने लंदन में रामजेठमलानी को किया था फोन, सरेंडर करने की बात कही थी
जीवन जीने की कला सिखाती है गीता
First Published:23-12-12 09:39 PM

गाजियाबाद। हमारे संवाददाता

नंदग्राम स्थित संत आसाराम आश्रम में रविवार को गीता जयंती का कार्यक्रम श्रद्धाभाव के साथ मनाया गया। गीता जयंती के उपलक्ष्य पर संत आसाराम बापू की सुपुत्री प्रेरणामुर्ती भारती श्रीजी के पावन सानिध्य में सत्संग का आयोजन किया गया। भक्तों में सत्संग का रस बिखेरते हुए उन्होंने कहा कि गीता प्राणीमात्र को जीवन जीने की कला व अमरता का वरदान देती है। जैसे मनुष्य पुराने वस्त्रों को त्यागकर दूसरे नए वस्त्रों को ग्रहण करता है। वैसे ही जीवात्मा पुराने शरीर को त्यागकर दूसरे नए शरीर को प्राप्त होता है, इसलिए मृत्यु से डरों मत और डराओं मत।

उन्होंने कहा कि गीता बीते हुए शोक को हटा देती है। भविष्य के भय को उखाड़ फेंकती है। बड़े से बड़ा नास्तिक की गीता से मुक्ति नशि्चित है। यह भगवान के श्रीमुख से दिया गया ज्ञान है। उन्होंने बताया कि गीता यह नहीं कहती कि तुम यह करों या वह करो। ऐसी वेशभूषा पहनो, ऐसा तिलक करो, ऐसा नियम करो, ऐसा मजहव पालो। कितने ही जन्मों का कर्म हो, कितने ही पाप-ताप हो, नासमझी और ज्ञान की अशुद्धि हो, एक बार गुरु मंत्र मिल गया और गल गए तो आत्म ज्ञान के रास्ते बेड़ा पार हो जाएगा। इस मौके पर आश्रम समिति की ओर से एससी गौड़, एमपी शर्मा, पवन झा, शवशिंकर यादव, ब्रजेश वर्मा, डॉ. नरेंद्र शर्मा, पूर्णिमा ग्रोवर सहित तमाम लोग मौजूद थे।

 
 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingमैकलम ने खेली 158 रन की रिकॉर्ड पारी
न्यूजीलैंड के कप्तान ब्रैंडन मैकलम ने इंग्लिश ट्वेंटी 20 ब्लास्ट प्रतियोगिता में अपनी काउंटी टीम वॉरविकशायर के लिए मात्र 64 गेंदों में नाबाद 158 रन का ताबड़तोड़ स्कोर बनाने के साथ एक अनोखा रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड