शुक्रवार, 31 अक्टूबर, 2014 | 11:46 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
2जी केस में ए राजा, कनिमोझी, शाहिद बलवा समेत 19 लोगों पर आरोप तयअदालत ने मामले में, द्रमुक अध्यक्ष एम करुणानिधि की पत्नी दयालु अम्माल के खिलाफ भी आरोप तय किएदिल्ली की अदालत ने कोयला ब्लॉक आवंटन घोटाला मामले में गुप्ता तथा 4 अन्य को जमानत दीअदालत ने आरोपियों को एक-एक लाख रुपये के निजी मुचलके और इतनी ही राशि की जमानत पर रिहा किया
हड़ताली कर्मियों ने किया विधायक का घेराव
First Published:19-12-12 12:32 AM

नोएडा। वरिष्ठ संवाददाता। आरक्षण संविधान संशोधन बिल पारित कराने की कोशिशों के विरोध में सरकारी कर्मचारियों का आंदोलन तेज होता जा रहा है। सोमवार को सैकड़ो कर्मचारियों ने नोएडा के विधायक के आवास का घेराव किया। कर्मचारियों ने ऐलान कर दिया है कि बिल वापस लिए जाने तक उनका आंदोलन तेज रहेगा। यदि सरकार ने उनकी मांग जल्दी नहीं मानी तो कर्मचारी दिल्ली व नोएडा को जोड़ने वाले रास्तों को जाम करने के लिए बाध्य हो जाएंगे।

सोमवार सुबह दस बजे से ही नोएडा अथॉरिटी के गेट पर जमा होने लगे थे। करीब पौने ग्यारह बजे जुलूस की शक्ल में करीब 200 कर्मचारी उद्योग मार्ग से होते हुए विधायक डॉ. महेश शर्मा के सेक्टर 15 ए स्थित आवास पर पहुंचे। करीब एक घंटे तक कर्मचारी उनके आवास पर रहे और भाजपा विरोधी नारे लगाए। कर्मचारी नेताओं ने अपनी मांग का ज्ञापन भी डॉ. महेश शर्मा को सौंपा। कर्मचारियों की मांग है कि भाजपा पहले चुनाव में जाए।

अपने घोषणा पत्र में इस मुद्दे को शामिल करने के बाद लोगों का समर्थन पा जाए तो संसद में बिल पास कराए। विधायक ने कर्मचारियों की मांगों को अपने उच्च पदाधिकारियों तक पहुंचाने का आश्वासन दिया। यहां से करीब दो बजे कर्मचारी सेक्टर 16ए, रजनीगंधा चौक और डीएससी रोड रोड होते हुए वापस अथॉरिटी आ गए। करीब तीन बजे कर्मचारियों की फिर बैठक हुई, जिसमें ऐलान किया गया कि मांग पूरी होने तक हड़ताल जारी रहेगी। आंदोलन का नेतृत्व कर रही सर्वजन हिताय संघर्ष समिति के संयोजक डीके जैन, नोएडा इंप्लाइज एसोसिएशन के अध्यक्ष कुशलपाल सिंह, महासचवि अशोक शर्मा, इंजीनियर एके चौधरी, प्रताप भान समेत एक दर्जन से अधिक मुख्य वक्ताओं ने एक ही बात पर जोर दिया कि सरकार जल्द उनकी मांगें माने, अन्यथा कर्मचारी दिल्ली और नोएडा को जोड़ने वाले रास्तों को बंद कर देंगे।

 
 
 
 
टिप्पणियाँ