रविवार, 02 अगस्त, 2015 | 01:46 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    बिहार का चुनाव बना प्रतिष्ठा का प्रश्न, झारखंड के भाजपाइयों ने डाला बिहार में डाला याकूब को फांसी दिए जाने के विरोध में सुप्रीम कोर्ट के डिप्टी रजिस्ट्रार ने दिया इस्तीफा दिल्ली में तेज हुआ पोस्टर वार, केजरीवाल सरकार के विज्ञापनों के खिलाफ भाजपा ने लगाए पोस्टर पूर्व गृह मंत्री सुशील शिंदे ने कहा, मैंने संसद में हिंदू आतंकवाद शब्द का इस्तेमाल कभी नहीं किया  पाकिस्तानी रेंजर्स ने किया सीजफायर का उल्लंघन, बीएसफ ने दिया करारा जवाब खेल रत्न के लिए सानिया के नाम की सिफारिश भाजपा सांसद वरुण गांधी का बयान, 94 फीसदी दलित, अल्पसंख्यक समुदाय को मिली फांसी की सजा विमान हादसे में ओसामा बिन लादेन के परिवार के सदस्यों की मौत  10 रुपए में ऐप उपलब्ध कराएगा गूगल प्ले  ISIS की शर्मनाक हरकत: चार साल के बच्चे को दी तलवार और कहा...मां का सिर काट डालो
नाइट्स चस्का बार सीज, लाइसेंस निलंबित
First Published:18-12-2012 01:10:08 AMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM

ग्रेटर नोएडा/वरिष्ठ संवाददाता। शहर के अंसल प्लाजा मॉल में चल रहे नाइट क्लब ‘नाइट्स चस्का’ में पुलिस और आबकारी विभाग की टीम ने छापा मारा। मौके पर भारी मात्रा में अवैध शराब पकड़ी गई है। यह शराब दिल्ली और हरियाणा से तस्करी करके लाई गई थी। पुलिस ने छह लोगों को गिरफ्तार किया है।

रेस्टोरेंट के मालिक अभी फरार हैं। जिलाधिकारी के आदेश पर रेस्टोरेंट को सीज कर दिया गया है। विगत शनिवार को आबकारी विभाग को सूचना मिली थी कि अंसल प्लाजा में संचालित ‘नाइट्स चस्का’ बार रेस्टोरेंट में अनाधिकृत रूप से शराब का सेवन करवाया जाता है। कासना पुलिस और आबकारी विभाग की टीम ने बार पर छापा मारा। मौके पर भारी मात्रा में शराब और बीयर बरामद हुई। सहायक आबकारी आयुक्त कुलदीप यादव ने बताया कि यह शराब दिल्ली और हरियाणा से तस्करी करके लाई गई थी।

ये लोग दूसरे राज्यों की शराब लाकर उत्तर प्रदेश में बिकने वाली शराब की बोतलों में भर देते थे, जिससे जनहानि की प्रबल आशंका है। राजस्व को भारी क्षति पहुंचाई जा रही थी। बार और रेस्टोरेंट में नियमों के मुताबिक रजिस्टर भी नहीं रखे गए थे। मौके पर मैनेजर अजय रावत और पांच कर्मचारियों राहुल पुत्र कमल सिंह, रमेश पुत्र धनीराम वशि्वकर्मा, रोहित नेगी पुत्र रतन नेगी, दिनेश सिंह पुत्र प्रताप सिंह, विपिन शर्मा पुत्र जगदीश शर्मा को गिरफ्तार किया गया।

बार के मालिक अनिल कुमार पुत्र करतार सिंह और सुनील कुमार पुत्र विद्याराम मौके से फरार हो गए। इन सभी आठ लोगों के खिलाफ आबकारी अधिनियम, जालसाजी और धोखाधड़ी के आरोपों में मुकदमा दर्ज किया गया है। सहायक आबकारी आयुक्त ने बताया कि इस बार-रेस्टोरेंट को सीज कर दिया गया है। लाइसेंस निलंबित कर दिया गया है। रद्द करने की संस्तुति की गई है। जिलाधिकारी ने दोनों मालिकों को नोटिस जारी किया है। ---‘ऐसे प्रतिष्ठान शहर की कानून-व्यवस्था के लिए खतरा हैं।

पुलिस और आबकारी विभाग को आदेश दिया गया है कि नोएडा और ग्रेनो में चल रहे ऐसे सभी बार-रेस्टोरेंट्स की जांच की जाए। जहां नियमों का पालन नहीं किया जा रहा है, उनके खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी। ’एमकेएस सुंदरम्, जिलाधिकारी।

 
 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingआक्रामक शैली बरकरार रखें कोहली: द्रविड़
राहुल द्रविड़ को बतौर टेस्ट कप्तान श्रीलंका में पहली पूर्ण सीरीज खेलने जा रहे विराट कोहली के कामयाब रहने का यकीन है और उन्होंने कहा कि कोहली को अपनी आक्रामक शैली नहीं छोड़नी चाहिए।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

जब बीमार पड़ा संता...
जीतो बीमार पति से: जानवर के डॉक्टर को मिलो तब आराम मिलेगा!
संता: वो क्यों?
जीतो: रोज़ सुबह मुर्गे की तरह जल्दी उठ जाते हो, घोड़े की तरह भाग के ऑफिस जाते हो, गधे की तरह दिनभर काम करते हो, घर आकर परिवार पर कुत्ते की तरह भोंकते हो, और रात को खाकर भैंस की तरह सो जाते हो, बेचारा इंसानों का डॉक्टर आपका क्या इलाज करेगा?