रविवार, 30 अगस्त, 2015 | 15:22 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
दो पिछड़े का बेटा एक हो गया तो बोलते हैं कि जंगलराज आ गया, ये जंगलराज पार्ट-2 नहीं मंगलराज पार्ट-2 है: लालू यादवलालू ने नीतीश कुमार को लोकप्रिय मुख्यमंत्री कहाअरुण कुमार ने नीतीश को छाती तोड़ने की धमकी दी थी, हमने अरुण कुमार से कह दिया, ये ये 1990 के पहले का बिहार नहीं है : लालूअनंत सिंह को जेल भेजकर नीतीश कुमार ने बहादुरी का का किया: लालूपीएम मोदी रैलियों में हमको गाली दे कर गए: लालू प्रसाद यादव
हवलदार की हत्या में शामिल था नीतू डाबोदा
First Published:15-12-2012 10:20:29 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM

नई दिल्ली वरिष्ठ संवाददाता

कंझावला में हुई हवलदार रामकशिन की हत्या में नीतू डाबोदा व उसके साथी शामिल थे। यह खुलासा उसके एक शार्प शूटर ने अपराध शाखा के सामने किया है। पुलिस ने इस शार्प शूटर को बवाना से एक युवक को अगवा कर उसकी हत्या करने के आरोप में गिरफ्तार किया है। आरोपी 24 वर्षीय संदीप उर्फ विक्की के पास से पुलिस ने एक पिस्तौल, दो मैगजीन और .32 बोर की 10 गोलियां बरामद की हैं। अपराध शाखा के पुलिस उपायुक्त एस.बी.एस त्यागी के अनुसार कंझावला गांव निवासी गैंगस्टर अजय कुमार को अगवा कर उसकी हत्या कर दी गई थी।

मामले की जांच के दौरान अपराध शाखा को पता चला कि वारदात को नीदू डाबोदा गैंग ने अंजाम दिया है। इस बीच एक गुप्त सूचना पर एसीपी होशियार सिंह की देखरेख में इंस्पेक्टर नरेश चंद्र व एसआई अरुण देव नेहरा की टीम ने इस गिरोह के सदस्य संदीप उर्फ विक्की को कंझावला से गिरफ्तार कर लिया। उसने पुलिस को बताया कि 16 नवम्बर को नीतू व प्रदीप के साथ मिलकर उसने नीरज बवाना गैंग के सदस्य अजय की हत्या की थी।

अजय उनकी बजाय नीरज बवाना गिरोह के लिए काम करता था। इसके अलावा उनके साथी पारस से भी अजय ने कहासुनी की थी। साजशि के तहत नीतू व प्रदीप अजय को अगवा कर अपने साथ तातेसर गांव के खेत में ले गए, जहां संदीप पहले से मौजूद था। आरोपियों ने उसे आठ से दस गोलियां मारी, जिससे उसकी मौत हो गई। उसके शव को करनाल ले जाकर नीतू व प्रदीप ने जला दिया था। संदीप ने पुलिस को हवलदार रामकशिन की हत्या का घटनाक्रम भी बताया।

उसने बताया कि 25 नवम्बर की रात नीतू, पारस, आलोक व काला उसके घर सफेद रंग की वर्ना कार से आए थे। उसके खेतों में आरोपियों ने जमकर शराब पी। नीतू के कहने पर उसने दो देशी पिस्तौल उन्हें दी थी। इनके अलावा नीतू के पास पहले से एक पिस्तौल थी। देर रात चारों हरियाणा जाने के लिए निकले थे। सुबह उसे पता चला कि जौंति बार्डर पर सफेद कार में सवार बदमाशों ने हवलदार की हत्या कर दी। वारदात के दो दिन बाद उसने नीतू से जब पूछा तो उसने पारस के साथ मिलकर हवलदार को मारने की जानकारी उसे दी थी।

 
 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image LoadingLIVE: श्रीलंका को 8वां झटका, कुशल आउट
भारतीय क्रिकेट टीम ने अपने तेज गेंदबाजों के दाम पर सिंहलीज स्पोट्स क्लब मैदान पर जारी तीसरे टेस्ट मैच के तीसरे दिन रविवार को 156 रनों के कुल योग पर श्रीलंका के 8 विकेट झटक लिए हैं।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

जब संता के घर आए डाकू...
आधी रात को संता के घर डाकू आए।
संता को जगाकर पूछा: यह बताओ कि सोना कहां है?
संता (गुस्से से): इतना बड़ा घर है कहीं भी सो जाओ। इतनी छोटी बात के लिए मुझे क्यों जगाया!