शनिवार, 04 जुलाई, 2015 | 01:48 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    फिल्म देखने से पहले पढ़ें 'गुड्डू रंगीला' का रिव्यू फिल्म रिव्यू: टर्मिनेटर जेनेसिस पूर्व रॉ प्रमुख के खुलासे के बाद सरकार पर हमलावर हुई कांग्रेस, PM से की माफी की मांग झारखंड: मेदिनीनगर के हुसैनाबाद में ओझा-गुणी की हत्या हजारीबाग के पदमा में दो गुटों में भिड़ंत, आधा दर्जन घायल गुमला में बाइक के साथ नदी में गिरा सरकारी कर्मी, मौत हेमा मालिनी के ड्राइवर को कुछ ही घंटों में मिली जमानत, बच्ची की मौत से हेमा दुखी झारखंड के चाईबासा में रिश्वत लेते दारोगा रंगे हाथ गिरफ्तार झारखंड: हजारीबाग में पिता ने अबोध बेटी को पटक कर मार डाला जमशेदपुर में स्कूल वाहन चालक हड़ताल पर, अभिभावक परेशान
फेसबुक के फंदे में फंसे सौ ट्रैफिक पुलिसवाले
नई दिल्ली सुभेन्दु रे First Published:14-12-12 11:29 PM

एक ओर विकसित देशों में सोशल मीडिया सड़क सुरक्षा में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है, वहीं हमारे देश में यह सड़क सुरक्षा की कलई खोल रहा है। इस मामले में तो दिल्ली पुलिस ने रिकॉर्ड बनाया है। बीते ढाई वर्षो के दौरान ‘फेसबुक’ की मदद से ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करने वाले दिल्ली पुलिस के 1100 जवानों का चालान काटा गया। इनमें 100 ट्रैफिक पुलिसवाले भी थे।

दिल्ली ट्रैफिक पुलिस 2010 में फेसबुक के जरिये आम लोगों से इस वादे के साथ जुड़ी कि उनकी शिकायतों पर तत्काल कार्रवाई की जाएगी। संयुक्त उपायुक्त (ट्रैफिक) सत्येंद्र गर्ग ने बताया कि ढाई साल पहले शुरू हुई इस मुहिम से नवंबर तक ट्रैफिक नियमों के उल्लंघन पर 100 से अधिक जवानों को दंडित किया गया। वहीं, कई का तबादला किया गया। कार्रवाई की शुरुआत एक एएसआई और एक कांस्टेबल के तबादले से हुई। इन दोनों ने बाइक चलाते समय हेलमेट नहीं पहना था।

 
 
 
|
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
क्रिकेट स्कोरबोर्ड