शनिवार, 01 नवम्बर, 2014 | 10:57 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    वर्जिन का अंतरिक्ष यान दुर्घटनाग्रस्त, पायलट की मौत केंद्र सरकार के सचिवों से आज चाय पर चर्चा करेंगे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भाजपा आज से शुरू करेगी विशेष सदस्यता अभियान आयोग कर सकता है देह व्यापार को कानूनी बनाने की सिफारिश भाजपा की अपनी पहली सरकार के समारोह में दर्शक रही शिवसेना बेटी ने फडणवीस से कहा, ऑल द बेस्ट बाबा झारखंड में हेमंत सरकार से समर्थन वापसी की तैयारी में कांग्रेस अब एटीएम से महीने में पांच लेन-देन के बाद लगेगा शुल्क  पेट्रोल 2.41 रुपये, डीजल 2.25 रुपये सस्ता फड़णवीस को मोदी ने चढ़ाईं सत्ता की सीढ़ियां
फेसबुक के फंदे में फंसे सौ ट्रैफिक पुलिसवाले
नई दिल्ली सुभेन्दु रे First Published:14-12-12 11:29 PM

एक ओर विकसित देशों में सोशल मीडिया सड़क सुरक्षा में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है, वहीं हमारे देश में यह सड़क सुरक्षा की कलई खोल रहा है। इस मामले में तो दिल्ली पुलिस ने रिकॉर्ड बनाया है। बीते ढाई वर्षो के दौरान ‘फेसबुक’ की मदद से ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करने वाले दिल्ली पुलिस के 1100 जवानों का चालान काटा गया। इनमें 100 ट्रैफिक पुलिसवाले भी थे।

दिल्ली ट्रैफिक पुलिस 2010 में फेसबुक के जरिये आम लोगों से इस वादे के साथ जुड़ी कि उनकी शिकायतों पर तत्काल कार्रवाई की जाएगी। संयुक्त उपायुक्त (ट्रैफिक) सत्येंद्र गर्ग ने बताया कि ढाई साल पहले शुरू हुई इस मुहिम से नवंबर तक ट्रैफिक नियमों के उल्लंघन पर 100 से अधिक जवानों को दंडित किया गया। वहीं, कई का तबादला किया गया। कार्रवाई की शुरुआत एक एएसआई और एक कांस्टेबल के तबादले से हुई। इन दोनों ने बाइक चलाते समय हेलमेट नहीं पहना था।

 
 
|
 
 
टिप्पणियाँ