शनिवार, 05 सितम्बर, 2015 | 15:46 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
पूर्व सैनिकों ने कहा है कि सरकार ने हमारी केवल एक मांग मानी है, 6 मांगों को खारिज कर दिया है, हमारा विरोध प्रर्दशन जारी रहेगावन रैंक वन पेंशन पर वीआरएस का प्रस्ताव पूर्व सैनिकों ने नामंजूर किया, 5 साल में समीक्षा मंजूर नहीं, वीआरएस पर सरकार से सफाई मांगेंगेएरियर चार किश्तों में दिया जाएगाः पर्रिकरपिछली सरकार ने ओआरओपी के लिए बहुत कम बजट रखा थाः पर्रिकर2013 को ओआरओपी के लिए आधार वर्ष माना जाएगाः पर्रिकरवीआरएस लेने वाले ओआरओपी से बाहर होंगेः पर्रिकरवन रैंक वन पेंशन से सरकार पर आएगा दस हजार करोड़ अतिरिक्त वित्तीय भारवन रैंक वन पेंशन का एलान, रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने किया एलान
अधिवक्ताओं ने खंडपीठ की मांग को लेकर किया चक्का जाम
गाजियाबाद, एजेंसी First Published:14-12-2012 04:20:35 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM

पश्चिमी उत्तर प्रदेश में हाईकोर्ट की खंडपीठ की स्थापना की मांग के समर्थन में शुक्रवार को एनएच-58 स्थित हिंडन नदी पर अधिवक्ताओं ने चक्का जाम करके आंदोलन किया।

अधिवक्ताओं के आंदोलन के कारण एनएच-58 पर कई किलोमीटर तक जाम लगा रहा। हालांकि यातायात पुलिस व प्रशासन ने जिले के कई मार्गों के रास्ते परिवर्तित कर दिए हैं।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रशांत कुमार ने बताया कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश के 22 जिलों के अधिवक्ता गाजियाबाद में धरना, प्रदर्शन कर जाम लगाया। इसके मद्देनजर यातायात पुलिस ने रूट मैप तैयार कर वैकल्पिक मार्गों की व्यवस्था की गयी है। जिले के अधिकांश मार्गों में रूट डाइर्वजन दिया गया।

उन्होंने बताया कि आंदोलन के मद्देनजर जिले में सभी छह जिलों से पुलिस बल बुलाया गया है। इसके अलावा देहात के सभी थानों से भी यातायात व्यवस्था दुरुस्त करने के लिए पुलिस बल महानगर में तैनात किया गया है।

 
 
 
|
 
 
जरूर पढ़ें