सोमवार, 27 अप्रैल, 2015 | 14:30 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
केंद्र ने राष्ट्रीय हरित अधिकरण (एनजीटी) के उस आदेश पर रोक लगाने की मांग की है, जिसमें उसने दिल्ली में 15 साल पुराने पेट्रोल वाहनों और 10 साल पुराने डीजल वाहनों के परिचालन पर प्रतिबंध लगाने के आदेश जारी किए थे।केंद्र ने वायु प्रदूषण से निपटने के उपाय सुझाने के लिए छह माह का समय मांगा।
डिग्री कॉलेजों में अंतिम वर्ष की परीक्षा होगी आब्जेक्टिव
First Published:12-12-12 12:27 AM

गाजियाबाद। कार्यालय संवाददाता। डिग्री कॉलेज में स्नातक अंतिम वर्ष और स्नातकोत्तर के दूसरे व चौथे सेमेस्टर के छात्रों को इस बार परीक्षा में ज्यादा लिखने की झंझट से निजात मिल जाएगी। चौधरी चरण सिंह विवि ने इस बार इन कक्षाओं के लिए ऑब्जेक्टवि परीक्षा कराने का निर्णय लिया है। छात्रों को पूछे गए सवालों के जवाब में दिए गए चार जवाबों में से एक को चुनना होगा।

उन्हें उत्तर पुस्तिका के स्थान पर ओएमआर शीट भरकर देना होगा। इसी शीट की मार्किंग के बाद अंक दिए जाएंगे। परीक्षा कराने, इसके लिए पेपर सेट करने के लिए निर्देश जारी कर दिए गए हैं। सीसीएस यूनविर्सिटी अपनी कार्य पद्धति में लगातार बदलाव कर रही है। पहले ऑनलाइन एड़ाशिन के बाद अब यूजी व पीजी में सबजेक्टवि के बजाय ऑब्जेक्टवि परीक्षा कराने का निर्णय लिया है। यह ऑब्जेक्टवि परीक्षा इसी सत्र से शुरू होगी। विवि की ओर से परीक्षा समिति के बैठक में इसके लिए सर्कुलर जारी कर दिया है।

साथ ही कॉलेजों को भी इस नई कार्ययोजना से अवगत करा दिया गया है। विवि के इस निर्णय को लेकर कॉलेज शिक्षक परेशान हैं। एड़ाशिन प्रक्रिया देर से चलने के कारण इस बार कॉलेजों में ज्यादा दिनों तक कक्षाएं नहीं चल सकी है। ऐसे में परीक्षा सबजेक्टवि की बजाय ऑब्जेक्टवि होना छात्रों के लिए काफी मुश्किल खड़ा करने वाला होगा। ऑब्जेक्टवि प्रश्नों का जवाब देने के लिए विषय का गहराई से अध्ययन करना जरूरी है। इस वर्ष यह परीक्षा स्नातक के अंतिम वर्ष और स्नात्कोत्तर के दूसरे व चौथे सेमेस्टर की परीक्षा देने वाले छात्रों के लिए होगी।

इस संबंध में एमएमएच कॉलेज के प्राचार्य डॉ. आरएम जौहरी का कहना है कि विवि की ओर से अभी पूरी गाइडलाइन प्राप्त नहीं हुई है। गाइडलाइन के अनुसार ही आने वाले दिनों में छात्रों को पढाई कराई जाएगी।

 
 
 
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
जरूर पढ़ें
Image Loadingस्टार्क और गेल के आगे ढेर हुए डेयरडेविल्स
मिशेल स्टार्क की अगुवाई में गेंदबाजों के बेजोड़ प्रदर्शन और बाद में क्रिस गेल की तूफानी पारी से रायल चैलेंजर्स बेंगलूर ने दिल्ली डेयरडेविल्स के खिलाफ अपना प्रभुत्व कायम रखते हुए आईपीएल आठ में 57 गेंद शेष रहते हुए दस विकेट की धमाकेदार जीत दर्ज की।