शनिवार, 23 मई, 2015 | 06:42 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    9 अभिनेत्रियां जिनकी मौत आज भी है रहस्य कोयला घोटाला: जिंदल, राव, कोड़ा को जमानत एक साल में मोदी सरकार ने दुनिया भर में बढ़ाया भारत का मान: जेटली प्रकृति एवं पर्यावरण पर ग्रीष्मकालीन शिविर आईपीएल सट्टेबाजी केस में ईडी ने मारे छापे मतदाताओं के लिए आधार की अनिवार्यता पर माकपा को आपत्ति उपराज्यपाल जंग को मिलते हैं प्रधानमंत्री ऑफिस से निर्देश: केजरीवाल पीएफ का पैसा निकालने जा रहे हैं, तो पहले जरूर पढ़ें ये खबर आतंकवाद पर रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर ने दिखाया सख्त रुख आईपीएल: मैच ही नहीं, कप्तानी का भी मुकाबला
डिग्री कॉलेजों में अंतिम वर्ष की परीक्षा होगी आब्जेक्टिव
First Published:12-12-12 12:27 AM

गाजियाबाद। कार्यालय संवाददाता। डिग्री कॉलेज में स्नातक अंतिम वर्ष और स्नातकोत्तर के दूसरे व चौथे सेमेस्टर के छात्रों को इस बार परीक्षा में ज्यादा लिखने की झंझट से निजात मिल जाएगी। चौधरी चरण सिंह विवि ने इस बार इन कक्षाओं के लिए ऑब्जेक्टवि परीक्षा कराने का निर्णय लिया है। छात्रों को पूछे गए सवालों के जवाब में दिए गए चार जवाबों में से एक को चुनना होगा।

उन्हें उत्तर पुस्तिका के स्थान पर ओएमआर शीट भरकर देना होगा। इसी शीट की मार्किंग के बाद अंक दिए जाएंगे। परीक्षा कराने, इसके लिए पेपर सेट करने के लिए निर्देश जारी कर दिए गए हैं। सीसीएस यूनविर्सिटी अपनी कार्य पद्धति में लगातार बदलाव कर रही है। पहले ऑनलाइन एड़ाशिन के बाद अब यूजी व पीजी में सबजेक्टवि के बजाय ऑब्जेक्टवि परीक्षा कराने का निर्णय लिया है। यह ऑब्जेक्टवि परीक्षा इसी सत्र से शुरू होगी। विवि की ओर से परीक्षा समिति के बैठक में इसके लिए सर्कुलर जारी कर दिया है।

साथ ही कॉलेजों को भी इस नई कार्ययोजना से अवगत करा दिया गया है। विवि के इस निर्णय को लेकर कॉलेज शिक्षक परेशान हैं। एड़ाशिन प्रक्रिया देर से चलने के कारण इस बार कॉलेजों में ज्यादा दिनों तक कक्षाएं नहीं चल सकी है। ऐसे में परीक्षा सबजेक्टवि की बजाय ऑब्जेक्टवि होना छात्रों के लिए काफी मुश्किल खड़ा करने वाला होगा। ऑब्जेक्टवि प्रश्नों का जवाब देने के लिए विषय का गहराई से अध्ययन करना जरूरी है। इस वर्ष यह परीक्षा स्नातक के अंतिम वर्ष और स्नात्कोत्तर के दूसरे व चौथे सेमेस्टर की परीक्षा देने वाले छात्रों के लिए होगी।

इस संबंध में एमएमएच कॉलेज के प्राचार्य डॉ. आरएम जौहरी का कहना है कि विवि की ओर से अभी पूरी गाइडलाइन प्राप्त नहीं हुई है। गाइडलाइन के अनुसार ही आने वाले दिनों में छात्रों को पढाई कराई जाएगी।

 
 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
Image Loadingआरसीबी को हराकर चेन्नई शान से फाइनल में
आशीष नेहरा की अगुआई में गेंदबाजों के दमदार प्रदर्शन के बाद सलामी बल्लेबाज माइक हसी के जुझारू अर्धशतक से चेन्नई सुपकिंग्स ने इंडियन प्रीमियर लीग के दूसरे क्वालीफायर में आज यहां रायल चैलेंजर्स बेंगलूर को रोमांचक मुकाबले में तीन विकेट से हराकर छठी बार फाइनल में जगह बनाई।