मंगलवार, 28 जुलाई, 2015 | 20:51 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    कलाम के सम्मान में संसद दो दिनों के लिए स्थगित, मंत्रिमंडल ने शोक जताया बढ़ चला बिहार कार्यक्रम को हाईकोर्ट का झटका, ऑडियो-विडियो प्रदर्शन पर रोक CCTV में कैद हुए गुरदासपुर हमले के गुनहगार, AK-47 लिए सड़कों पर घूमते दिखे आतंकी साड़ी, शॉल, आम की कूटनीति बंद कर पाकिस्तान के खिलाफ इंदिरा जैसा साहस दिखाये PM मोदी 29 जुलाई से बाजार में आएगा माइक्रोसॉफ्ट ओएस विंडोज-10  पीएम मोदी ने दी कलाम को श्रद्धांजलि, बोले- भारत ने खोया अपना रत्न कलाम का अंतिम संस्कार रामेश्वरम में होगा, पीएम मोदी सहित कई हस्तियों के पहुंचने की संभावना अग्नि की सफलता का श्रेय कलाम ने इंदिरा की दूरदर्शिता को दिया था याकूब मामले पर सुप्रीम कोर्ट के जजों के बीच मतभेद, अब बड़ी बेंच में होगी सुनवाई सात दिवसीय राजकीय शोक की घोषणा लेकिन कोई छुटटी नहीं
शिक्षा के क्षेत्र में मिलेगा ग्लोबल एजुकेशन अवॉर्ड
First Published:12-12-2012 12:27:11 AMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM

नोएडा। आईपीएस व राजनीतिज्ञों सहित कुछ अन्य क्षेत्र में बेहतरीन काम करने वालों को दिए जाने वाले राष्ट्रीय नेशनल अवॉर्ड का दायरा इस साल बढ़ा दिया गया है। पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय इंदिरा गांधी के हाथों शुरू हुए राष्ट्रीय नेशनल अवॉर्ड के तहत इस साल से ग्लोबल एजुकेशन अवॉर्ड की शुरुआत की जा रही है। 31 वर्षो से चले आ रहे इस अवॉर्ड में इस साल से स्कूल, उच्च शिक्षा व प्राइवेट सेक्टर को भी शामिल किया गया है। सेक्टर-16ए स्थित मारवाह स्टूडियो में मंगलवार को ऑल इंडिया कांफ्रेस ऑफ इंटेलेक्चुअल समिति की ओर से आयोजित प्रेसवार्ता के दौरान महासचवि प्रकाश निधि शर्मा ने बताया कि राष्ट्रीय नेशनल अवार्ड पिछले 31 वषरें से चला आ रहा है।

अब तक यह सम्मन आईपीएस, राज्यपाल व राजनीतिज्ञों को दिया जाता रहा है लेकिन इस बार इसमें हमने शिक्षा को भी जोड़ा है। इस बार का विषय रहेगा राष्ट्रीय मानव व शांति। इसमें दिल्ली एनसीआर व विदेशी की भी कई जानी-मानी हस्तियां शामिल होंगी। शिक्षा के अंतर्गत दिये जाने वाले सम्मान को ग्लोबल एजुकेशन अवार्ड के नाम से शामिल किया गया है। इसे हमने स्कूल, उच्च शिक्षा व प्राइवेट सेक्टर तीन भागों में बांटा है। इस मौके पर मारवाह स्टूडियो के निदेशक संदीप मारवाह सहित कई लोग मौजूद थे।

ं।

 
 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingप्रतिबंध हटाने के लिए बीसीसीआई से संपर्क करूंगा: श्रीसंत
जब वह तिहाड़ जेल में था तो वह आत्महत्या के बारे में सोच रहा था लेकिन तेज गेंदबाज एस श्रीसंत को अब उम्मीद बंध गई है कि वह वापसी कर सकते हैं और खुद पर लगे प्रतिबंध को हटाने के लिये वह बीसीसीआई से संपर्क करेंगे।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड