शनिवार, 01 नवम्बर, 2014 | 09:28 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    केंद्र सरकार के सचिवों से आज चाय पर चर्चा करेंगे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भाजपा आज से शुरू करेगी विशेष सदस्यता अभियान आयोग कर सकता है देह व्यापार को कानूनी बनाने की सिफारिश भाजपा की अपनी पहली सरकार के समारोह में दर्शक रही शिवसेना बेटी ने फडणवीस से कहा, ऑल द बेस्ट बाबा झारखंड में हेमंत सरकार से समर्थन वापसी की तैयारी में कांग्रेस अब एटीएम से महीने में पांच लेन-देन के बाद लगेगा शुल्क  पेट्रोल 2.41 रुपये, डीजल 2.25 रुपये सस्ता फड़णवीस को मोदी ने चढ़ाईं सत्ता की सीढ़ियां  फडणवीस ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली, उद्धव भी पहुंचे
नोएडा भूखंड आवंटन मामला
First Published:11-12-12 12:53 AM

गाजियाबाद। वरिष्ठ संवाददाता। हाइकोर्ट ने वरिष्ठ आईएएस अधिकारी राजीव कुमार को सीबीआई कोर्ट द्वारा नोएडा भूखंड आवंटन घोटाले में सुनाई गई सजा के आदेश को स्थगति कर दिया है। हाइकोर्ट में अपील के दौरान अर्थदंड की वसूली भी स्थगति रहेगी। सीबीआई कोर्ट ने 20 नवंबर को पूर्व मुख्य सचवि नीरा यादव तथा प्रदेश के वरिष्ठ आईएएस अधिकारी राजीव कुमार को नोएडा में 1994 में हुए भूखंड आवंटन घोटाले के मामले में दोषी करार देते हुए तीन-तीन वर्ष कारावास की सजा सुनाई थी।

आदेश को चुनौती देते हुए दोनों आरोपियों ने हाइकोर्ट में अपील की। हाइकोर्ट ने इस मामले में नीरा यादव की जमानत स्वीकार की वहीं राजीव कुमार के सजा आदेश को स्थगति कर दिया है। कोर्ट ने अपने आदेश में कहा है कि यदि दोष सिद्धि के आदेश का क्रि यान्वयन स्थगति नहीं किया गया तो अपीलार्थी की सेवा पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ सकता है।

 
 
 
 
टिप्पणियाँ