गुरुवार, 23 अक्टूबर, 2014 | 03:12 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
दिल्ली में 14 दिसंबर से स्ट्रीट फूड फेस्टिवल
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:10-12-12 08:41 PM

नेशनल एसोसिएशन ऑफ स्ट्रीट वेंडर्स ऑफ इंडिया (नासवी) देश भर में रेहडी, पटरी, गलियों और नुक्कड़ों में मिलने वाले खाद्य पदार्थों के तीन दिवसीय उत्सव का आयोजन यहां 14 से 16 दिसंबर को किया जायेगा।

नासवी के राष्ट्रीय समन्वयक अरविन्द सिंह ने बताया कि इस फूड फेस्टिवल में विभिन्न राज्यों से करीब 200 चटपटे व्यंजनों का जायका लोग उठा सकेंगे। यह आयोजन 14 दिसंबर को शाम 4 बजे से और 15 एवं 16 दिसंबर को दोपहर 12 बजे से रात दस बजे तक चलेगा। इसमें जादू, लोकनत्य, संगीत और अन्य मनोरंजक कार्यक्रम होंगे।

इस कार्यक्रम से पर्यटन मंत्रालय को जोड़ने का जिक्र करते हुए उन्होंने बताया कि इस उत्सव में आवास एवं शहरी गरीबी उन्मूलन मंत्री अजय माकन और श्रम राज्य मंत्री के सुरेश को आमंत्रित किया गया है।

लोकसभा में आवास एवं शहरी गरीबी उन्मूलन मंत्रालय द्वारा पेश द स्ट्रीट वेंडर (प्रोटेक्शन आफ लाइवलीहुड एंड रेग्यूलेशन आफ स्ट्रीट) विधेयक के बारे में उन्होंने कहा कि हमारी कोशिश है कि कमियों से सरकार अवगत कराये तथा इसकी अच्छाइयों को और मजबूत किया जाये।
   
उन्होंने बताया कि भुवनेश्वर में वेंडिग जोन बनाया गया है। ग्वालियर में 10 हजार स्ट्रीट वेंडरों को पंजीकत किया गया है। इसी प्रकार कानपुर में भी वेंडिंग जोन बनाने की तैयारी चल रही है।

उन्होंने कहा कि 2040 तक शहरी जनसंख्या गांवों की तुलना में अधिक होने की संभावना को देखते हुए नगर निकाय की शासन प्रणाली को अधिक दुरूस्त किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि यूरोपीय और दक्षिण पूर्वी देशों की तर्ज पर देश में स्ट्रीट वेंडर को मजबूत करने की जरूरत है। सिंगापुर में अगले वर्ष जून में वर्ल्ड स्ट्रीट फूड कांग्रेस का आयोजन होगा, जिसमें नासवी को आमंत्रित किया गया है। 
 
 
|
 
 
टिप्पणियाँ