शनिवार, 01 अगस्त, 2015 | 19:17 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    पाकिस्तानी रेंजर्स ने किया सीजफायर का उल्लंघन, बीएसफ ने दिया करारा जवाब खेल रत्न के लिए सानिया के नाम की सिफारिश भाजपा सांसद वरुण गांधी का बयान, 94 फीसदी दलित, अल्पसंख्यक समुदाय को मिली फांसी की सजा विमान हादसे में ओसामा बिन लादेन के परिवार के सदस्यों की मौत  10 रुपए में ऐप उपलब्ध कराएगा गूगल प्ले  ISIS की शर्मनाक हरकत: चार साल के बच्चे को दी तलवार और कहा...मां का सिर काट डालो कोमेन का कहर: यूपी, पंजाब, हरियाणा में भारी बारिश, गुजरात और राजस्थान में बाढ़  मुंबई के बांद्रा इलाके में लगाए गए किसिंग वाले पोस्टर, लोग नाराज याकूब की पत्नी के लिए राज्यसभा सीट की मांग करने वाले महाराष्ट्र सपा उपाध्यक्ष फारुख घोसी निलंबित पापा बनने वाले हैं जकरबर्ग, बेबी ने अंगूठा दिखाकर फेसबुक को किया LIKE
फ्रेशर पार्टी में जमकर थिरके छात्र
First Published:08-12-2012 11:51:05 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM

मोदीनगर। हमारे संवाददाता

इंस्टीट्यूट ऑफ फाइन आर्टस में शनिवार को सीनियर छात्रों द्वारा जूनियर छात्रों के स्वागत में एक फ्रेशर पार्टी का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में नृत्य से भरपूर रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत कर छात्रों ने खूब धमाल मचाया। संस्थान के हॉल में आयोजित पार्टी का शुभारम्भ निदेशक एसके राय द्वारा द्वीप प्रज्जवलित कर किया गया। अपने सम्बोधन में एसके राय ने छात्रों को गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा देने का संकल्प दोहराया। कार्यक्रम के दौरान संस्थान के छात्र-छात्राओं ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत कर अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया।

मंच संचालन संयुक्त रूप से बिन्नी, मेधा व प्रतीक श्रीवास्तव ने किया। कार्यक्रम को सफल बनाने में संस्थान के डीन एएस पदम, प्रदीप बोस, अमित बंसल, भूपेन्द्र आदि का विशेष सहयोग रहा।

 
 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingआक्रामक शैली बरकरार रखें कोहली: द्रविड़
राहुल द्रविड़ को बतौर टेस्ट कप्तान श्रीलंका में पहली पूर्ण सीरीज खेलने जा रहे विराट कोहली के कामयाब रहने का यकीन है और उन्होंने कहा कि कोहली को अपनी आक्रामक शैली नहीं छोड़नी चाहिए।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

जब बीमार पड़ा संता...
जीतो बीमार पति से: जानवर के डॉक्टर को मिलो तब आराम मिलेगा!
संता: वो क्यों?
जीतो: रोज़ सुबह मुर्गे की तरह जल्दी उठ जाते हो, घोड़े की तरह भाग के ऑफिस जाते हो, गधे की तरह दिनभर काम करते हो, घर आकर परिवार पर कुत्ते की तरह भोंकते हो, और रात को खाकर भैंस की तरह सो जाते हो, बेचारा इंसानों का डॉक्टर आपका क्या इलाज करेगा?