शनिवार, 29 अगस्त, 2015 | 12:50 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
बरूराज से राजद विधायक ब्रजकिशोर सिंह आज भाजपा में होंगे शामिल।बिहारीगंज से जदयू विधायक रेणू कुशवाहा के भाजपा में शामिल होने की सूचना, पटना में आज शामिल हो सकती हैं।
बिहार: जहरीली शराब पीने से मरने वालों की संख्या 13
आरा, एजेंसी First Published:08-12-2012 04:17:17 PMLast Updated:08-12-2012 04:23:46 PM
Image Loading

बिहार के भोजपुर जिले के नगर और नवादा थाना क्षेत्रों में जहरीली शराब पीने से पांच अन्य की मौत के बाद अब इससे मरने वालों की संख्या 13 पहुंच गयी है।

शाहाबाद प्रक्षेत्र के पुलिस उपमहानिरीक्षक अजिताभ कुमार ने बताया कि नगर थाना के मौलाबाग और एमपी बाग और नवादा थाना क्षेत्र अनाइठ मुहल्ला में जहरीली शराब पीने से पांच अन्य की मौत के बाद अब इससे मरने वालों की संख्या 13 पहुंच गयी है।

मृतकों में जितेंद्र राम, हरेंद्र मुसहर, चंद्रदेव मुसहर, धनजी शाह, मंझारो देवी, कुंती देवी, ललिता देवी, दिलजान नट, रंजन कुमार, बिराज सिंह, सुरेश पासवान और महेंद्र पासवान शामिल हैं, जबकि एक अन्य पुरुष मृतक की पहचान करायी जा रही है। उन्होंने बताया इन लोगों ने जिला मुख्यालय स्थित आरा रेलवे स्टेशन के समीप से उक्त शराब खरीदकर उसे सेवन किया था।

अजिताभ ने बताया कि इस मामले में एक अवैध शराब दुकानदार सहित 13 लोगों के खिलाफ कुल आठ प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है। उन्होंने बताया कि पुलिस द्वारा दो ठिकानों पर की गयी छापामारी में चार हजार से अधिक अवैध शराब के पाउच जब्त किए गए हैं।

भाकपा माले पूर्व विधायक अरूण कुमार के नेतृत्व में इस घटना के विरोध में शनिवार को एक विरोध मार्च निकाला गया, जिसमें लोगों ने सरकार विरोधी नारे लगाए। इस घटना के विरोध में भाकपा माले के आरा शहर बंद के मद्देनजर दुकानें बंद रहीं।

अरूण ने घटना को प्रशासन की शराब माफियाओं के साथ सांठ-गांठ का परिणाम बताते हुए इसकी उच्च स्तरीय जांच कराए जाने और मतकों के परिजनों को उचित मुआवजा दिए जाने की सरकार से मांग की।

 
 
 
|
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image LoadingLIVE: भारत को चौथा झटका, रोहित आउट
भारतीय क्रिकेट टीम ने शनिवार को सिन्हलीज स्पोर्ट्स क्लब मैदान पर श्रीलंका के खिलाफ तीसरे निर्णायक टेस्ट में बल्लेबाजी करते हुए अपना चौथा विकेट गंवा दिया।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

जब जय की हुई जमकर पिटाई...
वीरू (जय से): कल तुझे मेरे मोहल्ले के दस लड़कों ने बहुत बुरी तरह पीटा। फिर तूने क्या किया?
जय: मैंने उन सभी से कहा कि कि अगर हिम्मत है, तो अकेले-अकेले आओ।
वीरू: फिर क्या हुआ?
जय: होना क्या था, उसके बाद उन सबने एक-एक करके फिर से मुझे पीटा।