रविवार, 26 अक्टूबर, 2014 | 11:29 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    आज मोदी की चाय पार्टी में शामिल हो सकते हैं शिवसेना सांसद शिक्षिका ने की थी गोलीबारी रोकने की कोशिश नांदेड-मनमाड पैसेजर ट्रेन के डिब्बे में आग,यात्री सुरक्षित दिल्ली के त्रिलोकपुरी में हिंसा के बाद बाजार बंद, लगाया गया कर्फ्यू मनोहर लाल खट्टर आज मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे, मोदी होंगे शामिल राजनाथ सोमवार को मुंबई में कर सकते हैं शिवसेना से वार्ता नरेंद्र मोदी ने सफाई और स्वच्छता पर दिया जोर मुंबई में मोदी से उद्धव के मिलने का कार्यक्रम नहीं था: शिवसेना  कांग्रेस ने विवादित लेख पर भाजपा की आलोचना की केन्द्र ने 80 हजार करोड़ की रक्षा परियोजनाओं को दी मंजूरी
बिहार: जहरीली शराब पीने से मरने वालों की संख्या 13
आरा, एजेंसी First Published:08-12-12 04:17 PMLast Updated:08-12-12 04:23 PM
Image Loading

बिहार के भोजपुर जिले के नगर और नवादा थाना क्षेत्रों में जहरीली शराब पीने से पांच अन्य की मौत के बाद अब इससे मरने वालों की संख्या 13 पहुंच गयी है।

शाहाबाद प्रक्षेत्र के पुलिस उपमहानिरीक्षक अजिताभ कुमार ने बताया कि नगर थाना के मौलाबाग और एमपी बाग और नवादा थाना क्षेत्र अनाइठ मुहल्ला में जहरीली शराब पीने से पांच अन्य की मौत के बाद अब इससे मरने वालों की संख्या 13 पहुंच गयी है।

मृतकों में जितेंद्र राम, हरेंद्र मुसहर, चंद्रदेव मुसहर, धनजी शाह, मंझारो देवी, कुंती देवी, ललिता देवी, दिलजान नट, रंजन कुमार, बिराज सिंह, सुरेश पासवान और महेंद्र पासवान शामिल हैं, जबकि एक अन्य पुरुष मृतक की पहचान करायी जा रही है। उन्होंने बताया इन लोगों ने जिला मुख्यालय स्थित आरा रेलवे स्टेशन के समीप से उक्त शराब खरीदकर उसे सेवन किया था।

अजिताभ ने बताया कि इस मामले में एक अवैध शराब दुकानदार सहित 13 लोगों के खिलाफ कुल आठ प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है। उन्होंने बताया कि पुलिस द्वारा दो ठिकानों पर की गयी छापामारी में चार हजार से अधिक अवैध शराब के पाउच जब्त किए गए हैं।

भाकपा माले पूर्व विधायक अरूण कुमार के नेतृत्व में इस घटना के विरोध में शनिवार को एक विरोध मार्च निकाला गया, जिसमें लोगों ने सरकार विरोधी नारे लगाए। इस घटना के विरोध में भाकपा माले के आरा शहर बंद के मद्देनजर दुकानें बंद रहीं।

अरूण ने घटना को प्रशासन की शराब माफियाओं के साथ सांठ-गांठ का परिणाम बताते हुए इसकी उच्च स्तरीय जांच कराए जाने और मतकों के परिजनों को उचित मुआवजा दिए जाने की सरकार से मांग की।
 
 
|
 
 
टिप्पणियाँ