शुक्रवार, 03 जुलाई, 2015 | 16:29 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    पूर्व रॉ प्रमुख के खुलासे के बाद सरकार पर हमलावर हुई कांग्रेस, PM से की माफी की मांग झारखंड: मेदिनीनगर के हुसैनाबाद में ओझा-गुणी की हत्या हजारीबाग के पदमा में दो गुटों में भिड़ंत, आधा दर्जन घायल गुमला में बाइक के साथ नदी में गिरा सरकारी कर्मी, मौत सर्जरी के बाद हेमामालिनी की हालत ठीक, वसुंधरा राजे ने की मुलाकात झारखंड के चाईबासा में रिश्वत लेते दारोगा रंगे हाथ गिरफ्तार झारखंड: हजारीबाग में पिता ने अबोध बेटी को पटक कर मार डाला जमशेदपुर में स्कूल वाहन चालक हड़ताल पर, अभिभावक परेशान झारखंड: सीएम ने राज्य के सबसे लंबे पुल की आधारशिला रखी यूपी के रायबरेली में सड़क हादसा, 9 लोगों की मौत
बिहार में जहरीली शराब से 11 की मौत
आरा। संवाद सूत्र First Published:07-12-12 09:08 PMLast Updated:07-12-12 09:28 PM

आरा शहर के अनाइठ इलाके में शुक्रवार को जहरीली शराब से नौ महादलित समेत ग्यारह लोगों की मौत हो गई जिसमें पांच महिलाएं और एक विकास मित्र शामिल हैं।

घटना के बाद भोजपुर जिले में हलचल मच गई और लोग घटनास्थल पर जुटने लगे। अनाइठ के गुस्साए लोगों ने बिहारी मिल के समीप हाईवे को जाम कर दिया। सदर एसडीओ धर्मेश कुमार सिंह ने मुआवजा देने की घोषणा कर लोगों के आक्रोश को ठंडा किया जब जाकर जाम हटा। अवैध शराब की बिक्री पर रोक नहीं लगाये जाने से स्थानीय थाना व प्रशासन के प्रति लोगों में गहरी नाराजगी थी। इधर प्रशासन ने सिर्फ आठ लोगों के मरने की ही पुष्टि की है।

साथ ही मामले की जांच के लिए प्रशासन ने एक उच्चस्तरीय कमेटी भी बना दी है। घटना के बाद अनाइठ इलाके में मातम पसर हुआ है। चारों तरफ महिलाओं और बच्चों के रोने की चीत्कार गूंज रही है। जिला प्रशासन के अधिकारियों समेत सांसद मीना सिंह, विधायक राघवेन्द्र प्रताप और विधायक भाई दिनेश ने जायजा लिया और पीड़ित परिवारों के प्रति संवेदना जताई। अनाइठ महादलित टोली में मरे जितेन्द्र के परिजनों ने बताया कि रात में खाना खाने के बाद लोगों ने पहले हाथ-पैर ठंडा होने की शिकायत की और फिर सिर में दर्द और दस्त-उल्टी शुरू हो गई।

अस्पताल ले जाने के क्रम में ही मौत हो गई। इसी तरह मृतक विकास मित्र हरेन्द्र मुसहर की पत्नी पचरत्नी देवी, चांददेव की पत्नी बिंदा देवी और जितेन्द्र कुमार के परिजनों ने भी बयान दिये। कई ने तो घर पर ही दम तोड़ दिया। मृतकों के परिजनों ने शाम के बाद शराब पीने की बात स्वीकार की। मरने वाले अनाइठ मुसहर टोली व नट टोली के हरेन्द्र मुसहर, चांददेव मुसहर, जितेन्द्र कुमार राम, कुंती देवी, लीलावती देवी, मनवृत्ति देवी, दीलजान नट, मनझारो देवी, शविकुमारी देवी हैं जबकि बाजारी मुहल्ले के धनसाव केसरी की मौत हुई है।

मौत के बाद मुहल्ले में सन्नाटा पसर गया और चूल्हे तक नहीं जले। आरा सदर अस्पताल में शवों का पोस्टमार्टम कराया गया है। जिलाधिकारी प्रतिमा वर्मा का कहना है कि आठ लोगों की ही मौत हुई है। भेसरा रिपोर्ट आने के बाद ही मौत का कारण स्पष्ट हो पायेगा।

 
 
 
|
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
क्रिकेट स्कोरबोर्ड