रविवार, 02 अगस्त, 2015 | 05:45 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    बिहार का चुनाव बना प्रतिष्ठा का प्रश्न, झारखंड के भाजपाइयों ने डाला बिहार में डाला याकूब को फांसी दिए जाने के विरोध में सुप्रीम कोर्ट के डिप्टी रजिस्ट्रार ने दिया इस्तीफा दिल्ली में तेज हुआ पोस्टर वार, केजरीवाल सरकार के विज्ञापनों के खिलाफ भाजपा ने लगाए पोस्टर पूर्व गृह मंत्री सुशील शिंदे ने कहा, मैंने संसद में हिंदू आतंकवाद शब्द का इस्तेमाल कभी नहीं किया  पाकिस्तानी रेंजर्स ने किया सीजफायर का उल्लंघन, बीएसफ ने दिया करारा जवाब खेल रत्न के लिए सानिया के नाम की सिफारिश भाजपा सांसद वरुण गांधी का बयान, 94 फीसदी दलित, अल्पसंख्यक समुदाय को मिली फांसी की सजा विमान हादसे में ओसामा बिन लादेन के परिवार के सदस्यों की मौत  10 रुपए में ऐप उपलब्ध कराएगा गूगल प्ले  ISIS की शर्मनाक हरकत: चार साल के बच्चे को दी तलवार और कहा...मां का सिर काट डालो
बिहार में जहरीली शराब से 11 की मौत
आरा। संवाद सूत्र First Published:07-12-2012 09:08:17 PMLast Updated:07-12-2012 09:28:39 PM

आरा शहर के अनाइठ इलाके में शुक्रवार को जहरीली शराब से नौ महादलित समेत ग्यारह लोगों की मौत हो गई जिसमें पांच महिलाएं और एक विकास मित्र शामिल हैं।

घटना के बाद भोजपुर जिले में हलचल मच गई और लोग घटनास्थल पर जुटने लगे। अनाइठ के गुस्साए लोगों ने बिहारी मिल के समीप हाईवे को जाम कर दिया। सदर एसडीओ धर्मेश कुमार सिंह ने मुआवजा देने की घोषणा कर लोगों के आक्रोश को ठंडा किया जब जाकर जाम हटा। अवैध शराब की बिक्री पर रोक नहीं लगाये जाने से स्थानीय थाना व प्रशासन के प्रति लोगों में गहरी नाराजगी थी। इधर प्रशासन ने सिर्फ आठ लोगों के मरने की ही पुष्टि की है।

साथ ही मामले की जांच के लिए प्रशासन ने एक उच्चस्तरीय कमेटी भी बना दी है। घटना के बाद अनाइठ इलाके में मातम पसर हुआ है। चारों तरफ महिलाओं और बच्चों के रोने की चीत्कार गूंज रही है। जिला प्रशासन के अधिकारियों समेत सांसद मीना सिंह, विधायक राघवेन्द्र प्रताप और विधायक भाई दिनेश ने जायजा लिया और पीड़ित परिवारों के प्रति संवेदना जताई। अनाइठ महादलित टोली में मरे जितेन्द्र के परिजनों ने बताया कि रात में खाना खाने के बाद लोगों ने पहले हाथ-पैर ठंडा होने की शिकायत की और फिर सिर में दर्द और दस्त-उल्टी शुरू हो गई।

अस्पताल ले जाने के क्रम में ही मौत हो गई। इसी तरह मृतक विकास मित्र हरेन्द्र मुसहर की पत्नी पचरत्नी देवी, चांददेव की पत्नी बिंदा देवी और जितेन्द्र कुमार के परिजनों ने भी बयान दिये। कई ने तो घर पर ही दम तोड़ दिया। मृतकों के परिजनों ने शाम के बाद शराब पीने की बात स्वीकार की। मरने वाले अनाइठ मुसहर टोली व नट टोली के हरेन्द्र मुसहर, चांददेव मुसहर, जितेन्द्र कुमार राम, कुंती देवी, लीलावती देवी, मनवृत्ति देवी, दीलजान नट, मनझारो देवी, शविकुमारी देवी हैं जबकि बाजारी मुहल्ले के धनसाव केसरी की मौत हुई है।

मौत के बाद मुहल्ले में सन्नाटा पसर गया और चूल्हे तक नहीं जले। आरा सदर अस्पताल में शवों का पोस्टमार्टम कराया गया है। जिलाधिकारी प्रतिमा वर्मा का कहना है कि आठ लोगों की ही मौत हुई है। भेसरा रिपोर्ट आने के बाद ही मौत का कारण स्पष्ट हो पायेगा।

 
 
 
|
 
अन्य खबरें
 
 
 
 
 
 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingआक्रामक शैली बरकरार रखें कोहली: द्रविड़
राहुल द्रविड़ को बतौर टेस्ट कप्तान श्रीलंका में पहली पूर्ण सीरीज खेलने जा रहे विराट कोहली के कामयाब रहने का यकीन है और उन्होंने कहा कि कोहली को अपनी आक्रामक शैली नहीं छोड़नी चाहिए।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

जब बीमार पड़ा संता...
जीतो बीमार पति से: जानवर के डॉक्टर को मिलो तब आराम मिलेगा!
संता: वो क्यों?
जीतो: रोज़ सुबह मुर्गे की तरह जल्दी उठ जाते हो, घोड़े की तरह भाग के ऑफिस जाते हो, गधे की तरह दिनभर काम करते हो, घर आकर परिवार पर कुत्ते की तरह भोंकते हो, और रात को खाकर भैंस की तरह सो जाते हो, बेचारा इंसानों का डॉक्टर आपका क्या इलाज करेगा?