शुक्रवार, 24 अक्टूबर, 2014 | 21:43 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
पश्चिम बंगाल के वीरभूम जिले में पुलिस टीम पर हमलाकांग्रेस में बदल सकता है पार्टी अध्‍यक्षचिदंबरम ने कहा, नेतृत्‍व में बदलाव की जरूरत है
सीटीआई की हत्या का खुलासा नहीं
गाजियाबाद, एजेंसी First Published:04-12-12 03:57 PM

रेलवे के चीफ टिकट इंस्पेक्टर (सीटीआई) किफायत उल्ला हत्याकांड के चार दिन बाद भी पुलिस को हत्या के ठोस सुराग हाथ नहीं लगे हैं। पुलिस की जांच रेलवे ट्रैक के आसपास रहने वाले लोगों पर ही केन्द्रित है।

जीआरपी मान रही है कि ट्रेन के बाहर से किसी ने गोली चलाई, जो सीटीआई को जाकर लग गई। ऐसे में पुलिस साहिबाबाद और शाहदरा के बीच में रेलवे ट्रैक के आसपास रहने वालों से पूछताछ कर रही है।

उल्लेखनीय है कि सीटीआई का कोट जला हुआ था और ट्रेन में खून का निशान नहीं मिला था। ऐसे में यह भी संभव है कि सीटीआई को नजदीक से गोली मारी गयी हो। इस बात को भी ध्यान में रखकर जांच की जा रही है।

जीआरपी थाना प्रभारी पंकज लवानिया ने बताया कि मामले की कई पहलुओं की जांच की जा रही है। पूछताछ के आधार पर बदमाशों की पहचान की जा रही है।

गौरतलब है कि शुक्रवार को महानंदा एक्सप्रेस में किफायत उल्ला को गोली मारी गयी थी। दिल्ली स्थित गुरू तेग बहादुर (जीटीबी) अस्पताल में उनकी मौत हो गयी थी। हत्याकांड की जांच के लिए जीआरपी की टीम बनाई गयी है, लेकिन अभी तक की जांच में कुछ भी नहीं मिला है।
 
 
|
 
 
टिप्पणियाँ