बुधवार, 27 मई, 2015 | 13:15 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
मैंने अपने लिए, परिवार या मित्रों के फायदे के लिए सरकारी पद का दुरुपयोग नहीं किया: मनमोहन सिंह।भाजपा जनता का ध्यान गैर मुद्दों की ओर ले जाने के लिए भ्रष्टाचार की बीन बजा रही है: मनमोहन।सलीम और शबनम की मौत की सजा को तामील कराने का वारंट रद्दसुप्रीम कोर्ट ने दिया आदेश, 2008 में दोनों ने परिवार के सात सदस्यों की हत्या की थी।
जयंत ने कहा वेस्ट में हो हाईकोर्ट
First Published:02-12-12 10:51 PM

 मेरठ। मुख्य संवाददाता वेस्ट यूपी में हाईकोर्ट बेंच पर सियासी दांव-पेच तेज हो गए हैं। रविवार को सपा के राष्ट्रीय महासचवि प्रो. रामगोपाल यादव ने वेस्ट यूपी में हाईकोर्ट बेंच को केंद्र का मसला बताकर चुप्पी साध ली जबकि, रालोद महासचवि जयंत चौधरी ने कहा कि वह इस मसले को संसद में उठाएंगे।

जयंत चौधरी ने कहा कि सस्ते और सुलभ न्याय के लिए वेस्ट में हाईकोर्ट होना चाहिए। प्रो.रामगोपाल यादव ने एक सवाल के जवाब में कहा कि बेंच से प्रदेश सरकार का कोई लेना-देना नहीं है। यह वशिुद्ध केंद्र का मसला है। केंद्र सरकार ने जसवंत सिंह आयोग का गठन किया था। उस कमेटी ने आगरा में बेंच की संस्तुति की थी, लेकिन बाद में निरस्त कर दिया था। अब इसका फैसला पूरी तरह से केंद्र को करना है। दूसरी तरफ सांसद जयंत चौधरी ने कहा कि छह तारीख को वह इस मसले पर संसद में सवाल उठाएंगे।

संसद में पूछा जाएगा कि यूपी हाईकोर्ट में कितने मामले लंबित हैं। बेंच आगरा में हो या मेरठ में इस सवाल पर जयंत ने कहा कि इस पर न कभी विवाद था और न होगा। बेंच वेस्ट यूपी में होनी चाहिए चाहे कहीं भी हो। बात आगे बढ़ाते हुए जयंत ने कहा कि वेस्ट यूपी की समस्या का हल तभी होगा जब यहां हाईकोर्ट मिले। यह हरित प्रदेश से जुड़ा मसला है इसलिए इस आंदोलन को आगे बढ़ाया जाएगा। बड़े प्रदेश होने से सरकारों की पकड़ कमजोर हो रही है।

 
 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
Image Loadingधौनी से कप्तानी के गुर सीखे : होल्डर
वेस्टइंडीज की वनडे टीम के युवा कप्तान जैसन होल्डर को लगता है कि चेन्नई सुपरकिंग्स के साथ बिताये गये दिनों में उन्हें किसी और से नहीं बल्कि भारत के सीमित ओवरों की टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धौनी से कप्तानी के गुर सीखने को मिले थे।