मंगलवार, 27 जनवरी, 2015 | 11:15 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
अमेरिका में 30 लाख भारतीय होने का गर्व : ओबामासीक्रट सर्विस ने मुझे बाइक की सवारी नहीं करने दी : ओबामापहले दौरे में मैंने भागंडा डांस किया था : ओबामाहमने वाइट हाउस में दीवाली मनाई : ओबामाडीडीएलजे के डायलॉग का जिक्र किया- सेनोरीटा बड़े देशों में...हमने वाइट हाउस में दीवाली मनाई : ओबामामैं पहला अमेरिकी राष्ट्रपति बना गणतंत्र दिवस का: ओबामानमस्ते के साथ भाणष की शुरुआत की, हिंदी में कहा बहुत धन्यावाददिल्ली के सिरीफोर्ट पहुंचे बराक ओबामा, नेहा बुच के काम की तारीफ की
जयंत ने कहा वेस्ट में हो हाईकोर्ट
First Published:02-12-12 10:51 PM

 मेरठ। मुख्य संवाददाता वेस्ट यूपी में हाईकोर्ट बेंच पर सियासी दांव-पेच तेज हो गए हैं। रविवार को सपा के राष्ट्रीय महासचवि प्रो. रामगोपाल यादव ने वेस्ट यूपी में हाईकोर्ट बेंच को केंद्र का मसला बताकर चुप्पी साध ली जबकि, रालोद महासचवि जयंत चौधरी ने कहा कि वह इस मसले को संसद में उठाएंगे।

जयंत चौधरी ने कहा कि सस्ते और सुलभ न्याय के लिए वेस्ट में हाईकोर्ट होना चाहिए। प्रो.रामगोपाल यादव ने एक सवाल के जवाब में कहा कि बेंच से प्रदेश सरकार का कोई लेना-देना नहीं है। यह वशिुद्ध केंद्र का मसला है। केंद्र सरकार ने जसवंत सिंह आयोग का गठन किया था। उस कमेटी ने आगरा में बेंच की संस्तुति की थी, लेकिन बाद में निरस्त कर दिया था। अब इसका फैसला पूरी तरह से केंद्र को करना है। दूसरी तरफ सांसद जयंत चौधरी ने कहा कि छह तारीख को वह इस मसले पर संसद में सवाल उठाएंगे।

संसद में पूछा जाएगा कि यूपी हाईकोर्ट में कितने मामले लंबित हैं। बेंच आगरा में हो या मेरठ में इस सवाल पर जयंत ने कहा कि इस पर न कभी विवाद था और न होगा। बेंच वेस्ट यूपी में होनी चाहिए चाहे कहीं भी हो। बात आगे बढ़ाते हुए जयंत ने कहा कि वेस्ट यूपी की समस्या का हल तभी होगा जब यहां हाईकोर्ट मिले। यह हरित प्रदेश से जुड़ा मसला है इसलिए इस आंदोलन को आगे बढ़ाया जाएगा। बड़े प्रदेश होने से सरकारों की पकड़ कमजोर हो रही है।

 
 
 
 
टिप्पणियाँ
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड