मंगलवार, 23 सितम्बर, 2014 | 19:52 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
 
डीएसपी की बहू की नहीं दर्ज हो रही रिपोर्ट
First Published:28-11-12 11:28 PM
 imageloadingई-मेल Image Loadingप्रिंट  टिप्पणियॉ: (0) अ+ अ-

नोएडा। कार्यालय संवाददाता। आपराधिक घटनाओं की रिपोर्ट दर्ज करने के लिए आम लोगों को तो चक्कर लगाने ही पड़ते हैं। अर्ध सैनिक बल के अधिकारियों और उनके परिजनों के साथ भी पुलिस का बर्ताव कुछ ऐसा ही रहता है। आलम यह है कि पुलिस, केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के डीएसपी की बहू संग हुई लूटपाट की रिपोर्ट भी दर्ज करने को तैयार नहीं है।

वह भी तब जब उससे कोतवाली सेक्टर-20 के सामने बैग लूटा गया। लूटपाट की यह वारदात 12 नवंबर को डेल्टा-एक ग्रेटर नोएडा की रहने वाली पिंकी चौधरी के साथ हुई। पिंकी सेक्टर-10 स्थित मारुति फेयर डील में टीम लीडर हैं। उनके पति चंद्रेश भी ग्रेटर नोएडा की होण्डा सीएल कंपनी में अधिकारी हैं। पिंकी के ससुर रणवीर सिंह ग्रेटर नोएडा में सीआरपीएफ के डीएसपी हैं। पिंकी ने बताया कि दीपावली से ठीक एक दिन पहले 12 नवंबर को सेक्टर-18 से अपनी एक सहेली संग रिक्शे पर सवार हो ऑफिस के लिए जा रही थी।

कोतवाली सेक्टर 20 के ठीक सामने बाइक सवार दो बदमाशों ने उनका बैग लूट लिया। उन्होंने तत्काल पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने बदमाशों का पीछा करने की जगह उनसे कहा कि वह पीसीआर बुला रहे हैं। काफी देर तक पीसीआर नहीं आई इसके बाद पुलिस ने उनसे लिखित में शिकायत देने को कहा। पिंकी ने पूरी घटना जस की तस लिखकर दे दी और रिसीविंग लेकर ऑफिस आ गई। पिंकी के मुताबिक कुछ देर बाद ही उसके पास एसओ रीता यादव का फोन आया।

उन्होंने उसे कोतवाली में बातचीत के लिए बुलाया। कोतवाली में पहुंचने पर एसओ ने उससे कहा कि त्यौहार का समय है, अधिकारियों को पता चला कि थाने के सामने लूट हुई है तो उसके लिए मुसीबत खड़ी हो जाएगी। लिहाजा वह (पिंकी) उन्हें बैग गुमशुदगी की शिकायत लिखकर दे दे। उन्होंने उसे आश्वासन दिया कि वह बाइकर्स को पकड़कर उनका बैग व पैसा जल्द दिला देंगी। दीपावली के बाद पिंकी ने कई बार फोन कर पुलिस से अपने मामले के बारे में जानकारी लेती रही, हर बार उसे कोई बहाना कर टरका दिया जाता।

पिंकी के अनुसार मंगलवार को उसने एसओ रीता यादव को फोन किया तो उन्होंने बताया कि वह ऑफिस में नहंी है। पिंकी को वशि्वास नहीं हुआ और वह कोतवाली पहुंच गई, तो वहां एसओ मौजूद थीं। एसओ ने पिंकी को बताया कि कोतवाली में एक प्रेस वार्ता हो रही थी, जिसमें वह व्यस्त थीं। पिंकी ने फिर अपने मामले की प्रगति पूछी तो उसे जवाब मिला कि वह बार-बार चक्कर न लगाएं। जब उनका बैग व पैसे मिल जाएंगे, उन्हें बता दिया जाएगा।

पिंकी ने बताया कि उसे इस जवाब की उम्मीद नहीं थी। उन्हें वशि्वासन नहीं हो रहा था कि घटना वाले दिन भावनात्मक बात कर तहरीर बदलवाने वाली पुलिस अब उसे टरकाने पर आमादा है। लिहाजा उसने एसओ से कहा कि वह मामले में एसपी सिटी व एसएसपी से शिकायत करेगी। इस पर उसे जवाब मिला कि, वह जो चाहे कर ले। अगर वह रिपोर्ट ही लिखाना चाहती है तो अब लिखा ले। पिंकी के अनुसार इतने दिन बाद उसने रिपोर्ट दर्ज कराने से मना कर दिया।

अब वह मामले में आला अधिकारियों से मिलकर शिकायत करेगी। शिकायत मिलने पर होगी जांच : एसपी सिटीमामले में एसपी सिटी योगेश सिंह का कहना है उनके संज्ञान में अब तक ऐसा कोई मामला नहीं आया है। शिकायत मिलने पर पूरे मामले की गंभीरता से जांच कराई जाएगी। शिकायत सही पाए जाने पर संबंधित पुलिसकर्मियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

 
 imageloadingई-मेल Image Loadingप्रिंट  टिप्पणियॉ: (0) अ+ अ- share  स्टोरी का मूल्याकंन
 
टिप्पणियाँ
 

लाइवहिन्दुस्तान पर अन्य ख़बरें

आज का मौसम राशिफल
अपना शहर चुने  
धूपसूर्यादय
सूर्यास्त
नमी
 : 05:41 AM
 : 06:55 PM
 : 16 %
अधिकतम
तापमान
43°
.
|
न्यूनतम
तापमान
24°