मंगलवार, 04 अगस्त, 2015 | 15:13 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
डिब्रूगढ़ से अरुणाचल प्रदेश के खोन्सा जिले के लिए उड़ान भरने के बाद पवन हंस हेलीकॉप्टर लापता, इसमें तीन लोग सवार थे।सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली न्यायिक सेवा में कथित धांधली पर नोटिस दिया, आरोप है चयनित लोगों में ज्यादातर लोग जजों के संबंधी।बिहार: पत्नी ने की पति की हत्या
गंगानहान कर लौट रहे लोगों से इनोवा व नकदी लूटी
First Published:28-11-2012 11:28:37 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM

गाजियाबाद। हमारे संवाददाता। गंगानहान से लौट रहे इनोवा सवार लोगों को एनएच 24 पर बदमाशों ने गन प्वांइट पर लेकर लूट लिया। बदमाशों ने पहले कार से इनोवा को ओवरटेक कर लिया फिर तमंचों के बल पर हाइवे से दूर खेतों की तरफ ले गए। वहां तीनों से करीब सवा चार हजार की नकदी और इनोवा कार लूट ले गए। पुलिस मामले की छानबीन में लगी है। इनोवा कार नोएडा के एक प्रॉपर्टी डीलर की बताई जाती है। मसूरी थाना क्षेत्र में एबीईएस इंजीनियरिंग कॉलेज के पास मंगलवार रात करीब एक बजे यह वारदात हुई।

नोएडा सेक्टर 33 में रहने वाला धीरेन्द्र दूबे प्रॉपर्टी डीलर का काम करने वाले अमल बरूआ के यहां ड्राइवर है। धीरेन्द्र इनोवा लेकर अपने दोस्तों प्रदीप आहूजा और सचिन के साथ गंगा स्नान के लिए गढ़मुक्तेश्वर गया था। मंगलवार की रात तीनों गंगा स्नान कर नोएडा के लिए लौट रहा था। एनएच 24 पर डासना तिराहे से आगे धीरेन्द्र के एक दोस्त को सिरदर्द और उल्टी होने लगी तो धीरेन्द्र ने एकेजी के पास कार रोकी। तभी मारुति कार सवार 5 बदमाश वहां आकर रुके।

तीन बदमाशों ने तमंचे आदि दिखोकर इनोवा सवारों को आतंकित कर दिया और इनोवा में बैठकर सभी को बंधक बनाकर हाइवे से नीचे इंडोजर्मन अस्पताल के रास्ते में ले गए। वहां तीनों को कार से उतारकर उनकी तलाशी ली। तीनों के पास कुल 42 सौ रुपए मिले। बदमाशों ने तीनों को छोड़कर इनोवा कार व नकदी लूट ले गए। बदमाश जाते-जाते उन तीनों के मोबाइल फोन का सिम भी निकाल दिए, ताकि जल्दी कोई पुलिस को फोन कर लूट की वारदात की सूचना ना कर दें।

एसओ मसूरी ने बताया कि लूट की वारदात के संबंध में रिपोर्ट दर्ज कर ली गई। शिकार लोगों से बदमाशों की कार व हुलिये आदि के बारे में पूछताछ कर मामले की छानबीन की जा रही है।

 
 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

पागल की बच्ची

बीवी ने शोहर का मोबाइल देखा, फ़ोन बुक में लड़कियों के नाम यूं सेव थे,
.
पड़ोसन की बच्ची,
.
न्यू बच्ची,
.
पुरानी बच्ची,
.
सामने वाली बच्ची,
.
ऊपर वाली बच्ची,
.
कॉलेज वाली बच्ची,
.
इंसोरेंस वाली बच्ची,
.
हॉस्पिटल वाली बच्ची,
.
.
.
बीवी को excitement हुई कि मेरा number किस नाम से save होगा ?
.
बीवी ने अपना number डायल किया तो लिखा था,
.
.
पागल की बच्ची