गुरुवार, 03 सितम्बर, 2015 | 16:21 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
मुरादाबाद में बीए और बीएससी के छात्र देते थे लूट की वारदात को अंजाम। ठाकुरद्वारा पुलिस ने पकड़ा ऐसे लुटेरों का गिरोह। तीन लुटेरे पकड़े दस वारदातों का खुलासा।धनबाद: झरिया की सेल चितपुर कोलियरी के डीजी प्लांट का ताला तोड़कर हजारों के सामान की चोरी कर ली गई है।झारखंड: साहिबगंज के उधवा में स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के ग्राहक सेवा केंद्र में लाखों की चोरी हो गई है। पुलिस मामले की तहकीकात कर रही है।गोड्डा जिले के महागामा स्थित मोतीचक भाजपुर बहियार में गुरुवार को 16 वर्षीय लड़की का शव मिला है। शव धान के खेत में पड़ा था। शव की पहचान नहीं हो सकी है। लड़की की गला दबाकर हत्या की गई है।गिरिडीह के धनवार में गुरुवार को एक व्यक्ति ने चाकू घोंप कर पत्नी की हत्या कर दी। उसने खुद को भी चाकू मार कर जख्मी कर लिया। महिला उसकी दूसरी पत्नी थी।झारखंड: कहलगांव एनटीपीसी में खराबी, संताल के तीन जिलों में बिजली बंदआगरा में सोशल मीडिया पर एक धर्म के खिलाफ लिखी एक पोस्ट से शम्शाबाद इलाके में तनावउत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव आलोक रंजन बिजली की समस्या के मुद्दे पर दोपहर 3.30 बजे सभी जिलाधिकारियों के साथ VC करेंगे।मुरादाबाद एसएसपी ने दो सिपाहियों को किया निलंबित। दोनों पर मंडी चौक पुलिस चौकी के अंदर बिजली विभाग के कर्मचारी से साथ कुकर्म के प्रयास का आरोप था। कर्मचारी का वीडियो बनाकर व्हाट्सअप पर भी भेजा था।अमरोहा: शहर के कल्यानपुरा रोड पर स्थित रुई कारखाने में मशीन में आकर युवक की मौत। मृतक सैदनगली थाना इलाके के अफजलपुर का रहनेवाला है। मौके पर पहुंचे परिजनों ने हत्या का आरोप लगाया।रांची: हजारीबाग के बड़कागांव का हल्का कर्मचारी अजय सिंह, जिसे गुरुवार को भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की टीम ने पांच हजार रुपए घूस लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया।अमरोहा: मंडी धनौरा थाने के गांव चुचैलाकला में बीती रात प्रेमिका के बुलावे पर उसके घर पहुंचे प्रेमी को पड़ोसियों ने बनाया बंधक। सुबह युवक के परिजनों को बुलाकर निकाह कर साथ भेजी युवती।रांची: गोविंदपुर-साहिबगंज सड़क पर बस पलटी, एक दर्जन से अधिक घायल
अर्जुन मुंडा ने दिया इस्तीफा, विधानसभा भंग करने की सिफारिश
रांची, एजेंसी First Published:08-01-2013 12:52:54 PMLast Updated:08-01-2013 04:13:22 PM

झारखंड के मुख्यमंत्री अर्जुन मुंडा ने मंगलवार को राज्यपाल डॉक्टर सैय्यद अहमद को अपना इस्तीफा सौंप दिया। मुंडा ने अपने पद से इस्तीफा देने के बाद कहा कि उन्होंने विधानसभा भंग करने की सिफारिश भी की है।
 
उन्होंने कहा कि वह पिछले दो साल से राज्य में स्थिर सरकार देने का प्रयास कर रहे थे और अपनी इस कोशिश में कामयाब भी रहे, लेकिन वर्तमान राजनीतिक स्थिति में नया जनादेश ही एकमात्र विकल्प बचा है।

उन्होंने बताया कि बैठक में उनके 12 सदस्यीय मंत्रिमंडल के सात सदस्य मौजूद थे, जबकि झारखंड मुक्ति मोर्चा के पांच मंत्रियों ने बैठक में भाग नहीं लिया। उधर सुबह साढे दस बजे झामुमो ने सरकार से समर्थन वापसी का पत्र राज्यपाल सैयद अहमद को सौंप दिया। इस बीच राज्यपाल ने मुंडा को सुबह साढे ग्यारह बजे मिलने का समय दिया है।

झारखंड मुक्ति मोर्चा ने कल ही अर्जुन मुंडा के नेतत्व वाली राज्य सरकार से अपना समर्थन वापस लेने की घोषणा कर दी थी, जिसके चलते यह सरकार अल्पमत में आ गयी थी।
    
मुंडा ने कहा कि झारखंड मुक्ति मोर्चा के सरकार से समर्थन वापसी के बाद किसी भी राष्ट्रीय दल के राज्य में वैकल्पिक सरकार के लिये खुलकर दावेदारी नहीं करने के बाद विधानसभा भंग करने की सिफारिश करने का फैसला किया गया।
    
ग्यारह सितम्बर 2010 में राज्य में सत्ता संभालने वाले मुंडा ने राज्य में विधायकों की खरीद फरोख्त या किसी तरह की सौदेबाजी रोकने के इरादे से लिये गये विधानसभा भंग के फैसले की जानकारी देने के बाद संवाददाताओ से कहा कि हमने राज्यपाल सैयद अहमद से मिलने का समय मांगा है, ताकि उन्हें मंत्रिमंडल के फैसले से अवगत करा सकें।
    
इस बीच राजभवन सूत्रों ने बताया कि झामुमो ने अर्जुन मुंडा सरकार से समर्थन वापसी का अपना पत्र राज्यपाल को सौंप दिया है। इससे पहले राज्य की भाजपा-झामुमो-आज्सू-जदयू गठबंधन सरकार को बचाने के अंतिम प्रयास के तौर पर मुख्यमंत्री अर्जुन मुंडा ने कल झामुमो प्रमुख शिबू सोरेन और उनके बेटे तथा उपमुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से उनके आवास पर बंद कमरे में लगभग 40 मिनट तक बातचीत की थी।
    
सोरेन के घर पर झामुमो कोर समिति और जिलाध्यक्षों की बैठक के बाद झामुमो में उठ रही मुंडा सरकार से समर्थन वापसी की मांग को ठंडा करने और सोरेन को मनाने के लिए स्वयं मुख्यमंत्री वहां गये थे। लेकिन उन्हें वहां कोई सफलता नहीं मिल पाने के बाद आज सुबह राज्य मंत्रिमंडल की बैठक कर विधानसभा भंग करने की सिफारिश करने का फैसला किया गया।
    
सोरेन इस बात से आहत थे कि उनके 28-28 माह के कार्यकाल के रूप में सत्ता में भागीदारी के उनके दावे को मुख्यमंत्री ने तीन जनवरी के अपने पत्र में लिखित तौर पर झुठला दिया था। झामुमो ने समर्थन वापसी का निर्णय लेने से पहले भाजपा के कई नेताओ से बातचीत की थी, लेकिन कोई हल नहीं निकल पाने के बाद यह कदम उठाया।   

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingसंगाकारा का ट्विटर हुआ हैक, आपत्तिजनक ट्वीट के लिए मांगी माफी
अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट करियर को हाल ही में अलविदा कहने वाले श्रीलंका के दिग्गज विकेटकीपर/बल्लेबाज कुमार संगाकारा ने बुधवार को कहा कि उनका ट्विटर अकाउंट हैक कर लिया गया था।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड Others
 
Image Loading

जब संता गया बैंक लूटने...
संता बैंक में डकैती डालने पहुंचा मगर रिवॉलवर घर पर ही भूल गया...
मगर बैंक फिर भी लूट लाया बताओ कैसे?
क्योंकि बैंक मैनेजर बंता था...
बंता: (संता से बोला) कोई बात नहीं...पैसे ले जाओ रिवॉलवर कल दिखा जाना!!