रविवार, 21 दिसम्बर, 2014 | 10:15 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
कथित नस्लभेद के आधार पर हुई पुलिस की हिंसा के खिलाफ जारी विरोध प्रदर्शनों के तहत प्रदर्शनकारी अमेरिका के सबसे बड़े शॉपिंग मॉल में एकत्र हुए
'आसाराम बापू के बयान से उनकी मानसिकता उजागर हुई'
मेड़वार कलां (बलिया), एजेंसी First Published:08-01-13 01:51 PMLast Updated:08-01-13 02:04 PM
Image Loading

इंसानियत को शर्मसार कर देने वाले दिल्ली सामूहिक बलात्कार कांड की शिकार लड़की के परिजनों ने आध्यात्मिक गुरु आसाराम बापू के बयान पर कड़ी प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए आज कहा कि उनसे ऐसे बेहूदा बयान की कतई उम्मीद नहीं थी और इससे उनकी मानसिकता उजागर हुई है।

लड़की के पिता ने आसाराम के बयान के बारे में पूछे जाने पर कहा कि उनसे ऐसे बेहूदा बयान की कतई उम्मीद नहीं थी। यह निम्नस्तरीय बयान है और इससे आसाराम बापू की मानसिकता उजागर हो गयी है। संत ऐसे बयान नहीं दे सकते। उन्होंने कहा अगर आसाराम बापू की बेटी या नातिन होती तो वह ऐसा बयान कतई नहीं देते।

पिता ने कहा कि उनका परिवार आसाराम बापू का भक्त रहा है और उनके घर में इस आध्यात्मिक गुरु के प्रवचनों की अनेक किताबें रखी हैं, लेकिन अब वह उन पुस्तकों को आग लगा देंगे।

गौरतलब है कि आसाराम बापू ने कल दिये बयान में कथित रूप से कहा था कि गत 16 दिसम्बर को दिल्ली में चलती बस में सामूहिक बलात्कार की शिकार लड़की भी अपने साथ हुई वारदात के लिये बराबर की दोषी थी। अगर वह उन दरिंदों को भाई कहकर गिड़गिड़ाती तो उसकी इज्जत और जिंदगी बच जाती। आध्यात्मिक गुरु ने कथित रूप से यह भी कहा था कि वह आरोपियों को कड़ी सजा दिये जाने के खिलाफ हैं।

इस बीच, बलिया जिला प्रशासन ने मृत लड़की की आगामी 12 जनवरी को पड़ने वाली तेरहवीं में विशिष्ट लोगों के आने की सम्भावना के मद्देनजर तैयारी शुरू कर दी है। गांव में हेलीपैड बनाया जा रहा है।

 
 
 
टिप्पणियाँ
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड