शुक्रवार, 31 जुलाई, 2015 | 08:34 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    याकूब की दया याचिका पर साइन कर शत्रुघ्न ने बीजेपी को शर्मिंदा किया: जेटली 'बोस की मौत से जुडे़ रिकॉर्ड्स या तो चूहे खा गए, या वो खो गए' ना 'पाक' हरकतों से नहीं बाज आ रहा है पाकिस्तान, फिर किया सीजफायर का उल्लंघन, 1 जवान शहीद देश में केवल 17 व्यक्तियों पर 2.14 लाख करोड़ का कर बकाया  2022 तक आबादी में चीन को पीछे छोड़ देगा भारत  झारखंड में दिसंबर तक होगी 40 हजार शिक्षकों की नियुक्तियां महिन्द्रा सितंबर में पेश करेगी एसयूवी टीयूवी-300  नेपाल: भारी बारिश के बाद भूस्खलन, 13 महिलाओं समेत 33 की मौत, 20 से अधिक लापता पेट्रोल-डीजल के दामों में हो सकती है कटौती, 1 रुपये 50 पैसे तक घट सकते हैं दाम नागपुर की सेंट्रल जेल में 1984 के बाद पहली बार दी गई फांसी
लालू की मांग, अरब देशों जैसा सख्त कानून बने
बलिया, एजेंसी First Published:03-01-2013 02:24:52 PMLast Updated:03-01-2013 03:35:48 PM
Image Loading

राष्ट्रीय जनता दल (राजद) प्रमुख लालू प्रसाद यादव ने आज दिल्ली में सामूहिक बलात्कार कांड की शिकार हुई लड़की के परिवार वालों से मुलाकात की तथा बलात्कार जैसे जघन्य अपराध के खिलाफ अरब देशों की तर्ज पर मौत की सजा के प्रावधान वाला कानून बनाने की मांग की।

पूरे देश को झकझोरने वाले दिल्ली सामूहिक बलात्कार कांड की शिकार हुई लड़की के बलिया स्थित पैतृक गांव मेड़वार कलां के दौरे पर अचानक पहुंचे लालू ने बालिका के पिता तथा भाई से मुलाकात करके संवेदना व्यक्त की।

उन्होंने कहा कि बलात्कार जैसे जघन्य अपराध के लिये भारत में भी अरब देशों की तर्ज पर सख्त कानून बनाया जाना चाहिये जिसमें फांसी की सजा का प्रावधान हो।

गौरतलब है कि अरब देशों में बलात्कारियों को सरेआम फांसी देने या पत्थर मार-मार कर मार डालने की सजा का प्रावधान है। लालू ने बलात्कार पीड़ित लड़की का नाम सार्वजनिक किये जाने के केन्द्रीय मानव संसाधन विकास राज्यमंत्री शशि थरूर के बयान से असहमति जतायी। उन्होंने यह भी कहा कि देश में किसी कानून का नामकरण किसी व्यक्ति के नाम पर नहीं हो सकता।

उन्होंने बलात्कार कांड की शिकार हुई लड़की की याद में स्मारक बनाने की जरूरत पर जोर दिया।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingपे टीएम ने बीसीसीआई से 2019 तक प्रायोजन अधिकार खरीदे
पे टीएम के मालिक वन97 कम्युनिकेशंस ने आज भारत में अगले चार साल तक होने वाले घरेलू और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैचों के अधिकार 203.28 करोड़ रूप में खरीद लिए।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड