बुधवार, 22 अक्टूबर, 2014 | 20:58 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
कनाडा के संसद भवन में कम से कम 20 गोलियां चलीं: प्रत्यक्षदर्शी।
पीड़िता की हालत में सुधार, प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:22-12-12 03:40 PMLast Updated:22-12-12 06:32 PM
Image Loading

पिछले रविवार की रात चलती बस में गैंगरेप की शिकार एवं बुरी तरह से प्रताड़ित की गई 23 वर्षीय पीड़िता की स्थिति में सुधार हो रहा है और मानसिक रूप से पहले से बेहतर और भविष्य के बारे में आशावान नजर आ रही है।

सफदरजंग अस्पताल में पीड़िता का उपचार करने वाले डॉ. वर्मा ने अपने प्रेस बयान में कहा कि ल्यूकोसाइट, बिलिरूबिन और प्लेटलेट्स काउंट के अलावा अन्य चीजें मापदंडों पर पूरी हैं। शुक्रवार की अपेक्षा आज उनकी स्थिति में सुधार हुआ है और वह अपनी बात पहुंचा पा रही हैं और पहले से सजग नजर आ रही हैं।

अस्पताल के मनोवैज्ञानिक विभाग के डॉ. कुलदीप और डॉ. अभिलाषा यादव ने कहा कि वह मानसिक तौर पर दृढ़ और संतुलित नजर आ रही हैं। वह बहादुर हैं और भविष्य के बारे में उनका रुख सकारात्मक है। डॉक्टरों ने कहा कि वह आज सुबह से पानी और सेब का जूस ले रही हैं।

उन्होंने कहा कि उन्हें चार यूनिट प्लाजमा चढ़ाया गया है। डॉक्टरों का कहना है कि कम प्लेटलेट्स के कारण संक्रमण का खतरा हो सकता है और इसी लिए उन्हें एंटीबायोटिक दिया जा रहा है।
 
 
 
टिप्पणियाँ