बुधवार, 05 अगस्त, 2015 | 03:28 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    परिवार मोह में फंसकर लालू बन गए हैं नेता से नीतीश का पिछलग्गुः रामकृपाल  होंडा ने 7.30 लाख में पेश की सीबीआर-650  आतंकियों तक जाने वाले कालेधन के रूट पर कसेगी लगाम  बेनकाब हुआ पाक का नापाक चेहरा, पाकिस्तान में रची गई थी मुंबई अटैक की साजिश सीबीआई ने यादव सिंह के खिलाफ भ्रष्टाचार के दो मामले दर्ज किए  आरबीआई की नीतिगत दर में बदलाव नहीं, फिलहाल नहीं घटेगी ईएमआई  खुशखबरी...और सस्ता होने वाला है पेट्रोल और डीजल बॉस हो तो ऐसा, हर एक कर्मचारी को बोनस में दिए 1.6 करोड़ रुपये  पाकिस्तानी पत्रकार चांद नवाब का नया वीडियो वायरल, क्या आपने देखा  हॉकी: पहले टेस्ट मैच में भारत ने फ्रांस को 2-0 से हराया
हॉस्पिटल से अच्छी खबर, पीड़िता की हालत में सुधार
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:22-12-2012 03:40:24 PMLast Updated:22-12-2012 06:32:35 PM
Image Loading

पिछले रविवार की रात चलती बस में गैंगरेप की शिकार एवं बुरी तरह से प्रताड़ित की गई 23 वर्षीय पीड़िता की स्थिति में सुधार हो रहा है और मानसिक रूप से पहले से बेहतर और भविष्य के बारे में आशावान नजर आ रही है।

सफदरजंग अस्पताल में पीड़िता का उपचार करने वाले डॉ. वर्मा ने अपने प्रेस बयान में कहा कि ल्यूकोसाइट, बिलिरूबिन और प्लेटलेट्स काउंट के अलावा अन्य चीजें मापदंडों पर पूरी हैं। शुक्रवार की अपेक्षा आज उनकी स्थिति में सुधार हुआ है और वह अपनी बात पहुंचा पा रही हैं और पहले से सजग नजर आ रही हैं।

अस्पताल के मनोवैज्ञानिक विभाग के डॉ. कुलदीप और डॉ. अभिलाषा यादव ने कहा कि वह मानसिक तौर पर दृढ़ और संतुलित नजर आ रही हैं। वह बहादुर हैं और भविष्य के बारे में उनका रुख सकारात्मक है। डॉक्टरों ने कहा कि वह आज सुबह से पानी और सेब का जूस ले रही हैं।

उन्होंने कहा कि उन्हें चार यूनिट प्लाजमा चढ़ाया गया है। डॉक्टरों का कहना है कि कम प्लेटलेट्स के कारण संक्रमण का खतरा हो सकता है और इसी लिए उन्हें एंटीबायोटिक दिया जा रहा है।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingतेंदुलकर ने मलिंगा की तारीफों के पुल बांधे
तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा की तारीफ करते हुए महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने आज कहा कि श्रीलंका का यह क्रिकेटर विश्व स्तरीय गेंदबाज है और उनके साथ इंडियन प्रीमियर लीग में खेलना शानदार अनुभव रहा।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

संता बंता और अलार्म

संता बंता से - 20 सालों में, आज पहली बार अलार्म से सुबह सुबह मेरी नींद खुल गई।

बंता - क्यों, क्या तुम्हें अलार्म सुनाई नहीं देता था?

संता - नहीं आज सुबह मुझे जगाने के लिए मेरी बीवी ने अलार्म घड़ी फेंक कर सिर पर मारी।