रविवार, 24 मई, 2015 | 10:22 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    व्हाट्सएप और चिट्ठी लिख मोदी को मारने की धमकी, पुलिस की नींद उड़ी दिल्ली: आप और एलजी की जंग तेज, केजरीवाल ने विधानसभा का आपात सत्र बुलाया मुद्रास्फीति पर जेटली कर रहे हैं बड़बोलापन: कांग्रेस  लू ने ली तेलंगाना और आंध्रप्रदेश में 153 लोगों की जान  यौन उत्पीड़न मामले में पचौरी को टेरी ने माना दोषी अगले एक साल में पाकिस्तान से परमाणु हथियार खरीद सकता है ISIS रामपुर में लेखपाल हड़ताल पर इस कंपनी ने चार कर्मचारियों को तोहफे में दी कार जयललिता फिर मुख्यमंत्री बनी, पन्नीरसेल्वम फिर नंबर 2 तो इस वजह से आडवाणी को बीजेपी नेताओं ने नहीं बुलाया
'दादा' पर दलों में आम सहमति!
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:03-05-12 01:39 PMLast Updated:03-05-12 01:57 PM
Image Loading

रायसीना हिल्स की रेस में वित्त मंत्री प्रणब मुखर्जी आगे निकलते दिख रहे हैं। लेफ्ट ने जहां उनके नाम पर सहमति दे दी है, वहीं सूत्रों के हिसाब से ममता बनर्जी ने भी हामी भर दी है।

लेफ्ट पार्टी के वरिष्ठ नेता सीताराम येचुरी ने कहा कि उनकी पार्टी को प्रणब मुखर्जी या हामिद अंसारी दोनों को राष्ट्रपति के रूप में समर्थन देने से कोई परहेज नहीं है। हालांकि उन्होंने कहा कि देश का राष्ट्रपति आम सहमति से ही चुना जाना चाहिए।

ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस पार्टी ने भी साफ कर दिया है कि राष्ट्रपति चुनाव में वह कांग्रेस का समर्थन करेगी और उसे प्रणब मुखर्जी या हामिद अंसारी के नाम पर कोई आपत्ति नहीं है। सूत्रों से मिली खबरों के मुताबिक ममता बनर्जी इस बारे में कोई भी अंतिम फैसला सोनिया गांधी के ऊपर छोड़ सकती हैं।

हालांकि सूत्रों के मुताबिक ममता बनर्जी ने संकेत दिया है कि अगर प्रणब मुखर्जी को राष्ट्रपति पद के लिए उम्मीदवार बनाया जाता है, तो उन्हें ज्यादा खुशी होगी। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी आज दिल्ली में हैं और उनकी मुलाकात प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी से हो सकती है।

समाजवादी पार्टी के नेता मुलायम सिंह यादव ने भी कहा है कि राष्ट्रपति कोई राजनैतिक व्यक्ति ही बनना चाहिए। इसका सीधा मतलब यह लगाया जा रहा है कि मुलायम सिंह भी प्रणब मुखर्जी के नाम पर सहमत हो सकते हैं। यूपीए को राष्ट्रपति चुनाव में समाजवादी पार्टी और तृणमूल कांग्रेस का समर्थन बेहद जरूरी है।

सूत्रों का मानना है कि अभी अपने उम्मीदवार पर अड़े मुख्य विपक्षी पार्टी भारतीय जनता पार्टी भी प्रणब दा के नाम पर सहमत हो सकती है। ऐसे में उपराष्ट्रपति का पद एनडीए के किसी उम्मीदवार को दिया जा सकता है।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
Image LoadingIPL का फाइनल देखने पहुंचेंगी ये बड़ी हस्तियां
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, राज्यपाल के. एन. त्रिपाठी के अलावा हिंदी फिल्म जगत की कई जानी-मानी हस्तियां रविवार को इडेन गरडस स्टेडियम में होने वाले आईपीएल-8 के फाइनल मैच को देखने पहुंचेंगी।