रविवार, 26 अक्टूबर, 2014 | 13:12 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    एयर इंडिंया के कई पायलट खत्म लाइसेंस पर उड़ा रहे हैं विमान इराक में आईएस के ठिकानों पर अमेरिका के 23 हवाई हमले राजनाथ ने युवाओं से शांति और सौहार्द का संदेश फैलाने को कहा  शीतकालीन सत्र से पहले नए योजना निकाय का गठन कर सकती है सरकार  आज मोदी की चाय पार्टी में शामिल हो सकते हैं शिवसेना सांसद शिक्षिका ने की थी गोलीबारी रोकने की कोशिश नांदेड-मनमाड पैसेजर ट्रेन के डिब्बे में आग,यात्री सुरक्षित दिल्ली के त्रिलोकपुरी में हिंसा के बाद बाजार बंद, लगाया गया कर्फ्यू  मोदी की मौजूदगी में मनोहर लाल खट्टर ने ली मुख्यमंत्री पद की शपथ राजनाथ सोमवार को मुंबई में कर सकते हैं शिवसेना से वार्ता
तीन महीने में हैक हुईं 133 सरकारी वेबसाइट
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:25-04-12 10:38 PM

केंद्रीय संचार और सूचना प्रौद्योगिकी राज्य मंत्री सचिन पायलट ने बुधवार को कहा कि 2012 के पहले तीन महीनों में 133 सरकारी वेबसाइटें हैक की गईं। पायलट ने लोकसभा में एक लिखित जवाब में कहा, ‘इंडियन कम्प्यूटर इमर्जेसी रिस्पांस टीम (सीईआरटी-इन) द्वारा पता लगाए गए और उसे रिपोर्ट की गई घटनाओं के मुताबिक जनवरी से मार्च 2012 तक 133 सरकारी वेबसाइटें हैक की गईं।’

पायलट ने कहा कि सरकार ने साइबर अपराधों से निपटने के लिए कई कदम उठाए हैं। उदाहरण के लिए सीईआरटी-इन के जरिए साइबर सुरक्षा से सम्बंधित घटनाओं पर सतर्क करना और कदम उठाना और साइबर हमलों से निपटने तथा सम्बंधित सूचनाओं के आदान-प्रदान के लिए राष्ट्रीय तथा अंतर्राष्ट्रीयस स्तरों पर सहयोग करना।
सरकार साइबर अपराध रोकने के लिए एक साइबर कॉर्डिनेशन सेंटर स्थापित करने पर भी विचार कर रही है। भारतीय रिजर्व बैंक के मुताबिक 2010 में 1,234.94 लाख रुपये की हेराफेरी से सम्बंधित 2,232 इंटरनेट अपराध के मामले दर्ज हुए, जबकि केंद्रीय जांच ब्यूरो ने 2010 में 17 लाख के दो साइबर अपराध दर्ज किए।

अगस्त 2011 में प्रकाशित नॉर्टन साइबर अपराध रिपोर्ट के मुताबिक भारत में साइबर अपराध के चलते चार अरब डॉलर का नुकसान हुआ, जबकि दुनिया भर में 114 अरब डॉलर का नुकसान हुआ है।
 
 
 
टिप्पणियाँ