गुरुवार, 02 जुलाई, 2015 | 22:04 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    रैना बोले कभी गलत कामों में शामिल नहीं रहा, ललित मोदी के खिलाफ करेंगे कानून कार्रवाई सात दिन बाद केदारनाथ यात्रा शुरू, बदरीनाथ अभी भी ठप एल्गिन चरसडी बंधे में दरार, 72 गांवों पर भयावह बाढ़ का खतरा किरण को पीएम ने किया सम्मानित, 5000 लोगों का बनाया डिजिटल लॉकर VIDEO: देखें रांची में अनूप चावला को कैसे मारी गई गोली  कमल किशोर भगत को हाईकोर्ट से मिली जमानत ब्रजघाट: गंगा में फंसे दिल्‍ली के परिवार को बचाया गया रिजिजू मामले को लेकर हरकत में आई सरकार, उड़ानों में देरी पर नागरिक उड्डयन मंत्रालय से मांगी रिपोर्ट 2 लाख करोड़ की अपनी जायदाद दान करने वाला है ये शख्स गांवों में हाईस्पीड ब्राडबैंड पहुंचाने की योजना को हाथोंहाथ ले रहे हैं राज्य
परफेक्शन है बहुत जरूरी: सुमित सौरभ
हिन्दुस्तान नई दिशाएं First Published:05-12-12 02:06 PM
Image Loading

सुमित सौरभ, प्रबंधक (डिजाइन सर्कल)
निफ्ट दिल्ली से टेक्सटाइल डिजाइनिंग का कोर्स करने के दौरान मुझे लगा कि इस क्षेत्र में परफेक्शन की कमी है। जो भी इस क्षेत्र में करियर बनाने आए, वह परफेक्ट होकर बाहर जाए। उसे इस क्षेत्र की पूरी-पूरी जानकारी हो। प्रोडक्शन से लेकर मार्केटिंग, मैनेजमेंट और रिटेल तक में उसकी पकड़ हो। इसी के तहत मैंने 2009 में डिजाइन सर्कल की स्थापना की। कोचिंग सेंटर का उद्देश्य सुपर 15 मॉडल के आधार पर फैशन एवं डिजाइनिंग में करियर बनाने के लिए देश के प्रतिष्ठित संस्थानों में प्रवेश के इच्छुक छात्र-छात्राओं को कोचिंग देना है, जहां निफ्ट/ एनआईडी/ एफडीडीआई में दाखिले के लिए तैयारी करवाई जाती है। यह सिलसिला बीते चार सालों से चल रहा है। अक्सर लोगों को यह लगता है कि डिजाइनर सपनों की दुनिया में विचरण करते हैं, लेकिन असलियत यह है कि उनका काम काफी चुनौतीपूर्ण होता है, क्योंकि बाजार की मांग के अनुरूप किसी खास प्रोडक्ट, सीजन और प्राइज को ध्यान में रख कर उन्हें काम करना पडम्ता है। पिछले कुछ वर्षों में यह क्षेत्र तेजी से बदला है। मेरा मानना है कि इस क्षेत्र में कामयाबी के लिए कोचिंग के साथ-साथ सही मार्गदर्शन की भी जरूरत है। जब तक सोच क्रिएटिव नहीं होगी आप कामयाब नहीं हो सकते। आप स्कैचिंग बढिया करते हैं, लेकिन दिमाग और हाथ दोनों बराबर चलने चाहिए। अगर तरक्की करनी है तो दिल-दिमाग दोनों खुले रखने होंगे। किसी इंस्टीटय़ूट से डिग्री तो हासिल कर लेंगे, लेकिन सिर्फ उससे काम नहीं चलेगा, जागरूकता बहुत जरूरी है। कौन-सा नया ट्रेंड आया है, इसकी जानकारी जरूरी है। आपकी ड्राइंग अच्छी है, नये ट्रेंड्स की जानकारी भी है, इस फील्ड के लोगों से आपकी जान-पहचान भी अच्छी है, लेकिन इंग्लिश भाषा पर पकड़ नहीं है तो भी आप पिछड़ जाएंगे।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingरैना बोले कभी गलत कामों में शामिल नहीं रहा, ललित मोदी के खिलाफ करेंगे कानून कार्रवाई
एक व्यवसायी से रिश्वत लेने के ललित मोदी के आरोपों को खारिज करते हुए भारतीय क्रिकेटर सुरेश रैना ने आज कहा कि वह पूर्व आईपीएल आयुक्त के लिये कानूनी कार्रवाई करने पर विचार कर रहे हैं।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड