शुक्रवार, 28 अगस्त, 2015 | 18:14 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
पाकिस्तान के विदेश सचिव ने भारतीय उच्चायुक्त को तलब किया, संघर्ष विराम उल्लंघन के खिलाफ विरोध दर्ज कराया।
परफेक्शन है बहुत जरूरी: सुमित सौरभ
हिन्दुस्तान नई दिशाएं First Published:05-12-2012 02:06:19 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
Image Loading

सुमित सौरभ, प्रबंधक (डिजाइन सर्कल)
निफ्ट दिल्ली से टेक्सटाइल डिजाइनिंग का कोर्स करने के दौरान मुझे लगा कि इस क्षेत्र में परफेक्शन की कमी है। जो भी इस क्षेत्र में करियर बनाने आए, वह परफेक्ट होकर बाहर जाए। उसे इस क्षेत्र की पूरी-पूरी जानकारी हो। प्रोडक्शन से लेकर मार्केटिंग, मैनेजमेंट और रिटेल तक में उसकी पकड़ हो। इसी के तहत मैंने 2009 में डिजाइन सर्कल की स्थापना की। कोचिंग सेंटर का उद्देश्य सुपर 15 मॉडल के आधार पर फैशन एवं डिजाइनिंग में करियर बनाने के लिए देश के प्रतिष्ठित संस्थानों में प्रवेश के इच्छुक छात्र-छात्राओं को कोचिंग देना है, जहां निफ्ट/ एनआईडी/ एफडीडीआई में दाखिले के लिए तैयारी करवाई जाती है। यह सिलसिला बीते चार सालों से चल रहा है। अक्सर लोगों को यह लगता है कि डिजाइनर सपनों की दुनिया में विचरण करते हैं, लेकिन असलियत यह है कि उनका काम काफी चुनौतीपूर्ण होता है, क्योंकि बाजार की मांग के अनुरूप किसी खास प्रोडक्ट, सीजन और प्राइज को ध्यान में रख कर उन्हें काम करना पडम्ता है। पिछले कुछ वर्षों में यह क्षेत्र तेजी से बदला है। मेरा मानना है कि इस क्षेत्र में कामयाबी के लिए कोचिंग के साथ-साथ सही मार्गदर्शन की भी जरूरत है। जब तक सोच क्रिएटिव नहीं होगी आप कामयाब नहीं हो सकते। आप स्कैचिंग बढिया करते हैं, लेकिन दिमाग और हाथ दोनों बराबर चलने चाहिए। अगर तरक्की करनी है तो दिल-दिमाग दोनों खुले रखने होंगे। किसी इंस्टीटय़ूट से डिग्री तो हासिल कर लेंगे, लेकिन सिर्फ उससे काम नहीं चलेगा, जागरूकता बहुत जरूरी है। कौन-सा नया ट्रेंड आया है, इसकी जानकारी जरूरी है। आपकी ड्राइंग अच्छी है, नये ट्रेंड्स की जानकारी भी है, इस फील्ड के लोगों से आपकी जान-पहचान भी अच्छी है, लेकिन इंग्लिश भाषा पर पकड़ नहीं है तो भी आप पिछड़ जाएंगे।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingबारिश ने धोया पहले दिन का खेल, भारत 50/2
भारत और श्रीलंका के बीच तीसरे और आखिरी क्रिकेट टेस्ट के पहले दिन शुक्रवार को बारिश के कारण दो सत्र से अधिक का खेल नहीं हो सका जबकि भारत ने पहली पारी में दो विकेट पर 50 रन बनाए।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

जब जय की हुई जमकर पिटाई...
वीरू (जय से): कल तुझे मेरे मोहल्ले के दस लड़कों ने बहुत बुरी तरह पीटा। फिर तूने क्या किया?
जय: मैंने उन सभी से कहा कि कि अगर हिम्मत है, तो अकेले-अकेले आओ।
वीरू: फिर क्या हुआ?
जय: होना क्या था, उसके बाद उन सबने एक-एक करके फिर से मुझे पीटा।