शनिवार, 25 अक्टूबर, 2014 | 09:46 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    चीन सीमा पर 54 चौकियां बनाएगा भारत, 175 करोड़ के पैकेज की घोषणा  बर्धवान के बम थे बांग्लादेश के लिए: एनआईए नरेंद्र मोदी की चाय पार्टी में नहीं शामिल होंगे उद्धव ठाकरे भूपेंद्र सिंह हुड्डा की बढ़ सकती हैं मुश्किलें  कालेधन पर राम जेठमलानी ने बढ़ाई सरकार की मुश्किलें जमशेदपुर से लश्कर का आतंकवादी गिरफ्तार  कोई गैर गांधी भी बन सकता है कांग्रेस अध्यक्ष: चिदंबरम भाजपा के साथ सरकार के लिए उद्धव बहुत उत्सुक: अठावले रांची : एंथ्रेक्स ने ली सात लोगों की जान, 8 गंभीर हालत में भर्ती भारत-पाक तनाव के लिये भारत जिम्मेदार : बिलावल भुट्टो
व्हाइट हाउस में मनाई गई गुरु नानक जयंती
वॉशिंगटन, एजेंसी First Published:11-12-12 12:11 PM
Image Loading

अमेरिकी राष्ट्रपति भवन व्हाइट हाउस में गुरु नानक देव की 544वीं जयंती मनाई गई, जिसमें देशभर से बड़ी संख्या में अमेरिकी सिख समुदाय के सदस्यों ने हिस्सा लिया।

यह लगातार तीसरा वर्ष है, जब व्हाइट हाउस में गुरु नानक जयंती मनाई गई। इस अवसर पर दिए अपने संदेश में अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने विस्कांसिन गुरुद्वारा गोलीबारी में मारे गए लोगों को याद किया।

उन्होंने कहा कि मैं उन्हें याद करने के इससे बेहतर मौके के बारे में नहीं सोच सकता कि मैं इस पवित्र अवसर पर अपने सिख मित्रों के साथ मिलकर बहुलवाद, समानता और दया की भावना के प्रति अपनी प्रतिबद्धता जताएं, जो कि सिख समुदाय और हमारे देश दोनों को परिभाषित करते हैं।

यद्यपि गत सात दिसंबर को आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लेने में असमर्थ कैलीफोर्निया से भारतीय मूल के अमेरिकी सांसद अमी बेरा ने गुरुनानक जयंती पर विशेष कार्यक्रम आयोजित करने के लिए ओबामा को धन्यवाद दिया।

एक स्वयंसेवी संगठन 'द यूनाइटेड सिख' ने एक बयान में कहा कि व्हाइट हाउस का आइजनहावर कार्यकारी कार्यालय इमारत सिख जयकारों से गूंज रहा था। उसने कहा कि कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए पूरे देश के सिख समुदाय के सदस्यों को आमंत्रित किया गया था। भारत से आए सिख कीर्तन समूह ने परंपरागत भजन प्रस्तुत किए।
 
 
 
टिप्पणियाँ