मंगलवार, 01 सितम्बर, 2015 | 11:27 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
बिना सब्सिडी वाला रसोई गैस का सिलेंडर 25 रुपये 50 पैसे सस्ता हुआ।उत्तर प्रदेश: अमरोहा में शहजादपुर के जंगल में तेंदुआ होने की अफवाह पर फैली दहशत, कल शाम ग्रामीण द्वारा जंगल में देखा गया जंगली जानवर, सुबह खेतों में गए ग्रामीणों को मिले पंजों के निशान।
व्हाइट हाउस में मनाई गई गुरु नानक जयंती
वॉशिंगटन, एजेंसी First Published:11-12-2012 12:11:34 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
Image Loading

अमेरिकी राष्ट्रपति भवन व्हाइट हाउस में गुरु नानक देव की 544वीं जयंती मनाई गई, जिसमें देशभर से बड़ी संख्या में अमेरिकी सिख समुदाय के सदस्यों ने हिस्सा लिया।

यह लगातार तीसरा वर्ष है, जब व्हाइट हाउस में गुरु नानक जयंती मनाई गई। इस अवसर पर दिए अपने संदेश में अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने विस्कांसिन गुरुद्वारा गोलीबारी में मारे गए लोगों को याद किया।

उन्होंने कहा कि मैं उन्हें याद करने के इससे बेहतर मौके के बारे में नहीं सोच सकता कि मैं इस पवित्र अवसर पर अपने सिख मित्रों के साथ मिलकर बहुलवाद, समानता और दया की भावना के प्रति अपनी प्रतिबद्धता जताएं, जो कि सिख समुदाय और हमारे देश दोनों को परिभाषित करते हैं।

यद्यपि गत सात दिसंबर को आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लेने में असमर्थ कैलीफोर्निया से भारतीय मूल के अमेरिकी सांसद अमी बेरा ने गुरुनानक जयंती पर विशेष कार्यक्रम आयोजित करने के लिए ओबामा को धन्यवाद दिया।

एक स्वयंसेवी संगठन 'द यूनाइटेड सिख' ने एक बयान में कहा कि व्हाइट हाउस का आइजनहावर कार्यकारी कार्यालय इमारत सिख जयकारों से गूंज रहा था। उसने कहा कि कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए पूरे देश के सिख समुदाय के सदस्यों को आमंत्रित किया गया था। भारत से आए सिख कीर्तन समूह ने परंपरागत भजन प्रस्तुत किए।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingद्रविड़ ने कहा, मेरी तकनीक में कुछ भी गड़बड़ नहीं है: पुजारा
लगभग दो साल बाद अपना पहला टेस्ट शतक जमाने के बाद राहत महसूस कर रहे भारतीय बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ने आज भारत ए टीम के कोच राहुल द्रविड़ का आभार व्यक्त किया जिन्होंने उन्हें भरोसा दिलाया कि उनकी तकनीक में कुछ भी गड़बड़ नहीं थी।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

कहां रखें पैसे
पत्नी: मैं जहां भी पैसा रखती हूं हमारा बेटा वहां से चुरा लेता है। मेरी समझ नहीं आ रहा कि पैसे कहां रखूं?
पति: पैसे उसकी किताबों में रख दो, वो उन्हें कभी नहीं छूता।