शनिवार, 29 अगस्त, 2015 | 00:42 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
हर फल में हैं खास खूबियां
हिन्दुस्तान रीमिक्स First Published:12-12-2012 12:53:56 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
Image Loading

सेब
वैज्ञानिक शोधों में साबित हो चुका है कि कैंसर को रोकने में सेब काफी मदद करता है। दिल की बीमारी और कई तरह की कमजोरियों को दूर करने का रामबाण है सेब। सेब में शरीर के लिए फायदेमंद एंटी ऑक्सिडेंट्स और पॉलि फेनोल्स भी पाया जाता है।

केला
केला में भरपूर पोटैशियम पाया जाता है। पोटैशियम किडनी के लिए काफी फायदेमंद है। स्वस्थ रहने के लिए भी शरीर में पर्याप्त मात्रा में पौटैशियम रहना अति आवश्यक है। केला खाने से हृदय संबंधित बीमारियों की भी कम आशंका रहती है।

नारियल
नारियल में काफी मात्रा में लॉरिक एसिड पाया जाता है, जो शरीर के कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने में अहम भूमिका निभाता है।

नाशपाती
नाशपाती बच्चों के लिए और अधिक फायदेमंद है। छोटे बच्चों को सबसे पहले आहार के रूप में नाशपाती खिलाया जाता है। इसमें जरूरी हाइपोएलर्गेनिक पाया जाता है। यह विटामिन सी का भी अच्छा श्रोत है।

पपीता
पपीता में पपेन एंजाइम पाया जाता है जो पाचन तंत्र के लिए काफी फायदेमंद है। इसमें काफी मात्रा में विटामिन सी, विटामिन ए और पोटैशियम भी पाया जाता है।

सीताफल
सीताफल इनर्जी से भरपूर होता है। इसमें फाइबर, विटामिन सी, मैगनीज, कैल्शियम और आयरन काफी मात्रा में पाया जाता है।

मौसमी
इसमें दिल के लिए लाभदायक पोटैशियम पाया जाता है। साथ विटामिन ए और सी भी इसमें भरपूर होता है, जो रोगप्रतिरोधक क्षमता को बढमने का काम करता है।

अनार
इसमें एंटीऑक्सिडेंट्स और फाइटोन्यूट्रेंट पाया जाता है जो हृदय और रक्त संचार सुचारु रखने के लिए फायदेमंद है। यह प्रोस्टेट कैंसर रोकने में भी मददगार है।

गाजर
गाजर में विटामिन ए कूट-कूटकर भरा होता है। आप थोड़ा भी संयमित जीवन जी सकें तो आंखों की रोशनी हमेशा बरकरार रहती है।

 
 
 
फल|
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingबारिश ने धोया पहले दिन का खेल, भारत 50/2
भारत और श्रीलंका के बीच तीसरे और आखिरी क्रिकेट टेस्ट के पहले दिन शुक्रवार को बारिश के कारण दो सत्र से अधिक का खेल नहीं हो सका जबकि भारत ने पहली पारी में दो विकेट पर 50 रन बनाए।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

जब जय की हुई जमकर पिटाई...
वीरू (जय से): कल तुझे मेरे मोहल्ले के दस लड़कों ने बहुत बुरी तरह पीटा। फिर तूने क्या किया?
जय: मैंने उन सभी से कहा कि कि अगर हिम्मत है, तो अकेले-अकेले आओ।
वीरू: फिर क्या हुआ?
जय: होना क्या था, उसके बाद उन सबने एक-एक करके फिर से मुझे पीटा।