गुरुवार, 02 जुलाई, 2015 | 10:50 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    ललित मोदी ने बीजेपी नेता सुधांशु मित्तल पर लगाए हवाला कारोबारी से संबंधों के आरोप मोदी के विजय रथ को रोकना कांग्रेस के लिए असंभव: हंसराज भारद्वाज  किरण रिजिजु के लिए तीन यात्रियों को एयर इंडिया की फ्लाइट से उतारा ये सिफारिशें मानी गईं तो डबल हो जाएगी सांसदों की सैलेरी, पेंशन में होगी 75% बढ़ोत्तरी RSS की सलाह, भूमि बिल पर सहयोगी दलों से बातचीत करे सरकार  भैंस और मुर्गियों के बाद अब यूपी पुलिस को है 'चुड़ैल' की तलाश यूपी: नौकरी का झांसा देकर छात्रा के साथ किया रेप, बनाया वीडियो ललित मोदी मामला: इन नए खुलासों से कांग्रेस और बीजेपी दोनों परेशान अब मोबाइल फोन से डायल हो सकेगा लैंडलाइन नंबर गोद से गिरी बच्ची, बचाने के लिए मां भी चलती ट्रेन से कूदी
समय की बर्बादी है गृहकार्य
लंदन, एजेंसी First Published:29-11-12 05:05 PM
Image Loading

गृहकार्य क्या समय की बर्बादी है...जी हां, हाल में किये गये एक नये अध्ययन के मुताबिक अधिक गृहकार्य आपको बेहतर परिणाम देने में सहायक नहीं है।
   
शोधकर्ताओं ने अपने अध्ययन में दसवीं जमात के 18,000 से अधिक छात्रों को शामिल किया। अध्ययन का उद्देश्य यह पता लगाना था कि घर में अतिरिक्त पढ़ाई से क्या परीक्षा परिणाम पर कोई असर पड़ता है।
   
डेली मेल में प्रकाशित खबर के मुताबिक, शोधकर्ताओं ने पाया कि अधिक गह कार्य करने से बच्चों को मानक परीक्षा में भले ही मदद मिलती हो, लेकिन इससे उनके ग्रेड पर कोई फर्क नहीं पड़ता।
   
अमेरिका में शर्लटसविल स्थित वर्जिनिया विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने पाया कि अधिक गृहकार्य में की जाने वाली मेहनत बेहतर ग्रेड पाने में मददगार नहीं होती है।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
क्रिकेट स्कोरबोर्ड