मंगलवार, 28 जुलाई, 2015 | 23:16 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    भारत को लौटाया जाए कोहिनूर हीरा: कीथ वाज  याकूब की फांसी की सजा बदलने के लिए महाराष्ट्र के मुस्लिम विधायकों ने राष्ट्रपति से की अपील हो जाइए तैयार अब स्पाइसजेट सिर्फ 999 रुपये में कराएगी हवाई सफर कलाम के सम्मान में संसद दो दिनों के लिए स्थगित, मंत्रिमंडल ने शोक जताया बढ़ चला बिहार कार्यक्रम को हाईकोर्ट का झटका, ऑडियो-विडियो प्रदर्शन पर रोक CCTV में कैद हुए गुरदासपुर हमले के गुनहगार, AK-47 लिए सड़कों पर घूमते दिखे आतंकी साड़ी, शॉल, आम की कूटनीति बंद कर पाकिस्तान के खिलाफ इंदिरा जैसा साहस दिखाये PM मोदी 29 जुलाई से बाजार में आएगा माइक्रोसॉफ्ट ओएस विंडोज-10, करें डाउनलोड पीएम मोदी ने दी कलाम को श्रद्धांजलि, बोले- भारत ने खोया अपना रत्न कलाम का अंतिम संस्कार रामेश्वरम में होगा, पीएम मोदी सहित कई हस्तियों के पहुंचने की संभावना
शराब से सावधान रहें गर्भवती महिलाएं
वारसा, एजेंसी First Published:26-11-2012 06:50:54 PMLast Updated:26-11-2012 06:52:40 PM
Image Loading

गर्भावस्था के दौरान शराब का सेवन करने वाली महिलाओं के बच्चों के शारीरिक और मानसिक विकास पर बुरा प्रभाव पड़ता है।

पोलैंड के शोधकर्ताओं ने 'फीटल एल्कोहल सिंड्रोम' नाम की इस बीमारी के प्रभावों को बताने के लिए 'मैगनेटिक रिजोनेंस इमेजिंग' तकनीकों का इस्तेमाल किया।

शोध में 300 बच्चों को शामिल किया गया जिनकी मांओं ने गर्भावस्था के दौरान शराब का सेवन किया था और 30 ऐसे बच्चों लिए गए जिनकी मांओ ने शराब का सेवन नहीं किया।

जैजीलोनिया यूनिवर्सिटी के अनुसार शोधकर्ताओं ने 'मैगनेटिक रिजोनेंस इमेजिंग' तकनीक द्वारा मस्तिष्क के दोनों भागों को जोड़ने वाली महासंयोजिका (कॉरपस कोलोसम) के आकार-प्रकार की जांच की।

जिन बच्चों की मांओं ने गर्भावस्था के दौरान शराब का सेवन किया था उनकी मस्तिष्क महासंयोजिका अपेक्षाकृत कमजोर पाई गई।

पोलैंड के कारकोव में स्थित जैजीलोनिया यूनिवर्सिटी के रेडियोलॉजी विभाग के प्रमुख एन्ड्रेज उरबानिक का कहना है कि यह बदलाव बच्चों में मनोवैज्ञानिक परेशानियों का कारण बन सकते हैं।

यह रिपोर्ट रविवार को उत्तरी अमेरिका के रेडियोलॉजिकल सोसाइटी के सालाना बैठक में पेश की गई।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingप्रतिबंध हटाने के लिए बीसीसीआई से संपर्क करूंगा: श्रीसंत
जब वह तिहाड़ जेल में था तो वह आत्महत्या के बारे में सोच रहा था लेकिन तेज गेंदबाज एस श्रीसंत को अब उम्मीद बंध गई है कि वह वापसी कर सकते हैं और खुद पर लगे प्रतिबंध को हटाने के लिये वह बीसीसीआई से संपर्क करेंगे।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड