शनिवार, 01 नवम्बर, 2014 | 18:46 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    मथुरा में भाजपा युवा मोर्चा का पुलिस पर पथराव, दर्जनों जख्मी मुख्यमंत्री कार्यालय में बदलाव करना चाहते हैं फड़नवीस  चीन ने पूरा किया चांद से वापसी का पहला मिशन  आज चार राज्य मना रहे हैं स्थापना दिवस  जम्मू-कश्मीर में बदले जा सकते हैं मतदान केंद्र 'एक भारत, श्रेष्ठ भारत' का वीडियो यूट्यूब पर हिट दिग्विजय सिंह की सलाह, कांग्रेस की कमान अपने हाथ में लें राहुल गांधी 'दिल्ली को फिर केंद्र शासित बनाने की फिराक में भाजपा' जनता सब देख रही है, बीजेपी हल्के में न लेः उद्धव ठाकरे वर्जिन का अंतरिक्ष यान दुर्घटनाग्रस्त, पायलट की मौत
कोलेस्ट्रोल कम करने में ग्रीन टी मददगार
वाशिंगटन, एजेंसी First Published:20-11-11 07:19 PM
Image Loading

अमेरिका में हुए एक नए शोध से पता लगा है कि स्वास्थ्यवर्धक मानी जाने वाली ग्रीन टी हृदय रोगों के एक प्रमुख कारण समझे जाने वाले कोलेस्ट्रोल, चर्बी, की मात्र को भी कम करने का काम करती है।

अमेरिकन डाईटेटिक असोसिएशन के मुखपत्र में प्रकाशित इस शोध में बताया गया है कि मौजूदा समय में कोलेस्ट्रोल घटाने के लिए बेहद प्रभावी समझी जाने वाली दवाओं के मुकाबले ग्रीन टी पांच से छह अंक तक कालेस्टेरोल की कुल मात्र और खराब समझे जाने वाले एलडीएल स्तर को कम करने का काम करती है।

कैलिफोर्निया के पामोना स्थित वेस्टर्न यूनीवर्सिटी आफ हेल्थ साईंसेज में सह-प्राध्यापक ओलिविया फुंग ने बताया कि हालांकि ग्रीन टी और दवाइयों के इस्तेमाल से मिलने वाले लाभों में कोई बहुत अंतर नहीं है पर फिर भी ग्रीन टी बहुत कारगर है। उन्होंने कहा कि अगर कोई व्यक्ति कोलेस्ट्रोल घटाने के लिए दवाइयों ले रहा है तो उसे ग्रीन टी का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

इस शोध के लिए फुंग की टीम ने 1415 लोगों पर शोध किया। शोध के दौरान कुछ लोगों को दवाईयां दी गईं और कुछ को ग्रीन टी। तीन सप्ताह से छह महीनों तक चले इस शोध में बेहद चर्बी वाले उन लोगों को अत्याधिक लाभ पंहुचा जो ग्रीन टी का इस्तेमाल कर रहे थे।

हालांकि शोधकर्ताओं को इस बात का कोई प्रमाण नहीं मिला कि ग्रीन टी खून में पाई जाने वाली अन्य किस्म की बर्ची एचडीएल कोलेस्ट्रोल अथवा ट्रिगलीसेराइड्स को भी कम करने में कोई फायदा पंहुचाती है या नहीं।

 
 
 
टिप्पणियाँ