class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तालाब में डूबकर दो चचेरे भाइयों की मौत

रैपुरा क्षेत्र के गांव अरवारा में गुरुवार को दो चचेरे भाइयों की तालाब में डूबकर दर्दनाक मौत हो गई। दोपहर बाद शाम को परिजनों को तब पता चला जब शव तालाब में उतराते मिले। परिजनों ने दोनों का अंतिम संस्कार भी कर दिया। रैपुरा एसओ ने शैलेन्द्र सिंह ने बताया कि घटना की उन्हें जानकारी नहीं मिली है।

हादसा गुरुवार दोपहर बाद रैपुरा थाना क्षेत्र के गांव अरवारा में हुआ। यहां गरीब परिवार के दो सगे भाई दयालु व दिनेश खेती के कार्य से खेतों में चले गए। इसी दौरान दयालु का बेटा मनीष (5) एवं दिनेश का बेटा दिव्यांश (4) घर के पीछे तालाब में चले गए। खेत तालाब योजना के तहत कुछ महीनों पूर्व ही किसान देवपाल पटेल के खेत में यह तालाब बना था। दोनों बच्चे खेलते-खेलते दोपहर को वहां पहुंच गए। इसके बाद दोनों का पता नहीं चला। करीब तीन बजे जब दोनों भाई खेत से लौटे तो बच्चों की तलाश हुई। इसी दौरान गांव की एक लड़की ने बताया कि दोनों बच्चों के शव तालाब में उतरा रहे हैं। इससे परिवार में कोहराम मच गया। दोनों के शवों को बाहर निकाला गया। ग्राम प्रधान महेन्द्र सिंह व लेखपाल अशोक शुक्ला मौके पर पहुंचे। आपसी सहमति के बाद दोनों के शव गांव के किनारे बाल्मीकि नदी के घाट पर दफना दिए गये। घटना के बाद मनीष की मां सुनैना व दिव्यांश की मां ज्ञानमती का रो-रोकर बुरा हाल है। दयालु के तीन बेटे व एक बेटी है। जिसमें अब दो बेटे बचे। दिनेश के दो बेटे थे, जिसमें एक की मौत हो गई। दो मासूम बच्चों की दर्दनाक मौत के बाद गांव में मातम छा गया। बेहद गरीब परिवार के दोनों बच्चों की मौत से ग्रामीण भी दुखी नजर आए। ढांढस बंधाने उनके दरवाजे पहुंचे रैपुरा एसओ शैलेन्द्र सिंह ने बताया कि इस घटना की सूचना किसी ने नहीं दी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:two cousins Dip into the pool