class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कोहरे से कोहराम, सात लोगों की मौत

कोहरे से कोहराम, सात लोगों की मौत

इस सर्दी के पहले घने कोहरे ने कोहराम मचा दिया है। कानपुर और आसपास जिलों में कई मार्ग दुर्घटनाओं में सात लोगों की जान चली गई और 20 से ज्यादा लोग घायल हो गए। कोहरे ने रफ्तार रोकी तो ट्रेनें 6-7 घंटे तक लेट हो गईं। बसों का संचालन भी पटरी से उतर गया, सर्दी और कोहरे का खासा असर जनजीवन पर पड़ा। सबसे ज्यादा असर बुंदेलखण्ड के जिलों में दिखाई दिया।

हमीरपुर के राठ में गुरुवार की सुबह घने कोहरे के कारण मुस्करा मार्ग पर सवारियों से भरे आपे में डंपर ने जोरदार टक्कर मार दी। हादसे में दो महिलाओं की घटनास्थल पर ही मौत हो गई और करीब दर्जन भर यात्री गंभीर रूप से घायल हो गए। झांसी के मऊरानीपुर कोतवाली क्षेत्र में झांसी-खजुराहो मार्ग पर टैक्सी और कार की आमने-सामने भिड़ंत हो गई। कई लोग घायल हो गए। ललितपुर, उरई, बांदा, चित्रकूट, महोबा में भी तड़के से दिन चढ़ने तक कोहरा छाया रहा। रेलवे स्टेशनों और बस अड्डों पर यात्री घंटो परेशान रहे। इटावा में कोहरे ने सड़क हादसों में बुधवार शाम से गुरुवार सुबह तक तीन जानें निगल लीं, आठ घायल हो गए। दो दर्जन से अधिक टे्रनों की तफ्तार थम सी गई।

हरदोई में बघौली थाना के पावर हाउस के पास अज्ञात वाहन की टक्कर से बारात जा रहे बाइक सवार युवक की मौत हो गई। औरैया, फतेहपुर, कन्नौज, कानपुर देहात व उन्नाव में भी कोहरे का बड़ा असर दिखा, फसलों पर पड़ने वाले कोहरे के असर को लेकर किसान भी चिंतित होने लगे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Fog chaos, killing seven