class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हमीरपुर में जहरीली कीटनाशक दवा से कई मोर मरे

मुख्यालय के निकटवर्ती मेरापुर गांव के एक खेत में कई राष्ट्रीय पक्षियों के शव मिलने से हड़कंप मच गया। बाद में ग्रामीणों ने इन शवों को यमुना नदी में प्रवाहित कर दिया है। चर्चा है कि खेतों में कुछ किसान उर्वरक के साथ ही जहरीली कीटनाशक दवा का छिड़काव कर रहे हैं। दाना चुनने के लिए खेतों में विचरण करने वाले परिंदे इस कीटनाशक की वजह से बेमौत मारे जा रहे हैं।

मेरापुर पंप कैनाल के आसपास के खेतों में पिछले चौबीस घंटे के दौरान करीब पंद्रह से अधिक मोरों के शव मिल चुके हैं। इतनी बड़ी संख्या में राष्ट्रीय पक्षी के शवों के मिलने से ग्रामीणों में हड़कंप की स्थिति है। ग्रामीणों का कहना है कि कुछ खेतों में उर्वरक के साथ ही जहरीली कीटनाशक दवा का छिड़काव किया गया है। जिसके बाद से इन पक्षियों के मरने का सिलसिला चल निकला है। दो पक्षियों की हालत खराब है। जिनका पंप कैनाल चलाने वाला लालजी गुप्ता ने देसी उपचार भी कराया है। दूसरी तरफ वन विभाग इस पूरे घटनाक्रम से अंजान बना हुआ है। प्रभागीय वनाधिकारी एसडी पाण्डेय का कहना है कि अभी उन्हें इस बात की जानकारी नहीं है। लेकिन अब इसकी जांच कराई जाएगी। मरे हुए मोरों के पोस्टमार्टम कराकर उनकी मौत का कारण का पता किया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: More died from toxic pesticide drug in Hamirpur
From around the web