class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कायदे अहले सुन्नत को गति देगा तंजीम

कायदे अहले सुन्नत अल्लामा अरशदुल कादरी के मिशन को गति देने के लिए तंजीम अबना-ए-फैजुल उलूम का गठन हुआ है।

मदरसा फैज़ुल उलूम में जुमेरात को तन्जीम की बैठक में अल्लामा के उर्स और मजार की तामीर और शिक्षा को आम करने पर सहमति बनी। अध्यक्षता मौलाना हफीजुद्दीन ने की।

सपना होगा सच

तंजीम के महासचिव मौलाना अबरार कैसर ने इस अवसर पर कहा कि अहले सुन्नत के मिशन को बढ़ावा देने के साथ अल्लामा कादरी के सपने को सच किया जायेगा। मदरसा के पास विद्यार्थियों की तंजीम ने यह बीड़ा उठाया है।

ऐनीद्दीन बने संरक्षक

मदरसा का चेयरमैन डॉ. गुलाम जरकानी और महासचिव हाजी ऐनुद्दीन खान को संरक्षक बनाया गया है। मौलाना हफीजुद्दीन फैजी मिस्बाही को अध्यक्ष, मौलाना सलाउद्दीन और मौलाना गुलाम हैदर को उपाध्यक्ष, जबकि मौलाना अब्दुल हन्नान को प्रवक्ता बनाया गया है। बैठक में फजल खान, हाफिज असरार अहमद, सगीर आलम फैजी, मौलाना हारुन रशीद, मौलाना इजहार, मौलाना फरीद सीवानी, मौलानामोख्तार फैजी, मौलाना अब्दुल मोबिन, कारी अशरफुल्लाह, कारी कलीम कैसर मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:quaid will accelerate tanzeem ahle sunnat