class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फर्जी जाति प्रमाणपत्र देने के आरोप में गुवा पूर्वी के मुखिया पदमुक्त

नोवामुंडी प्रखंड के गुवा पूर्वी क्षेत्र से मुखिया पद पर निर्वाचित रामनाथ सामंता को गुरुवार को पदमुक्त कर दिया गया। निर्वाचन आयोग के निर्देश पर जगन्नाथपुर अनुमंडल दंडाधिकारी सह एसडीओ इश्तियाक अहमद ने फर्जी जाति प्रमाण पत्र देने के आरोप में यह कार्रवाई की। इस मामले की प्रति जिला पंचायती राज पदाधिकारी को भी भेज दी गई है।

यह है मामला : 19 दिसंबर 2015 को जगन्नाथपुर अनुमंडल के दंडाधिकारी के न्यायालय में गुवा निवासी राजेश जोकों, गुरा बोदरा, उमहेन सिरका, सोनाराम पूर्ति और गणेश बोयपाई ने रामनाथ सामंता के खिलाफ मामला दर्ज कराया था। आरोप लगाया था कि पंचायती राज अधिनियम के तहत हुए मुखिया पद के चुनाव में फर्जी जाति प्रमाण पत्र दाखिल किया गया है।

उप मुखिया पर रहेगा मुखिया का कार्यभार : दंडाधिकारी ने बताया कि पदमुक्त करने का फैसला चुनाव आयोग ने किया है। प्रावधान के अनुसार बर्खास्तगी पत्र तामिल होने के साथ ही उप मुखिया पर मुखिया का कार्यभार रहेगा। उन्होंने मौद्रिक प्रभार के बारे में स्पष्ट बताने में असमर्थता जाहिर की।

न्यायालय में मामला आने के बाद खुलासा : मुखिया चुनाव के नामांकन पत्र दाखिल करते समय जाति प्रमाण पत्र में सामंता ने अपने को अजजा सदस्य होने का प्रमाण पत्र दाखिल किया था। लेकिन, न्यायालय में मामला आने के बाद जाति प्रमाण पत्र की जांच हुई तो सामंता के पिता जगन्नाथ सामंता जो गुवा सेल में कार्यरत हैं और उनके सेवा पुस्तिका में तमड़िया जाति होने का दावा किया गया है। खतियान में भी तमड़िया जाति अंकित है। जोकि चक्रधरपूर के निवासी हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:on charges of fake caste certificates relieved guwa heading east