class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

टि्वटर पर नहीं होता, तो शायद मैं आज यहां नहीं होता: ट्रंप

टि्वटर पर नहीं होता, तो शायद मैं आज यहां नहीं होता: ट्रंप

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि टिवटर एवं सोशल मीडिया मंच ने उन्हें मीडिया से मुकाबला करने में मदद की जिसकी वजह से वह इस पद पर पहुंच पाए। ट्रंप से पूछा गया था कि क्या उन्हें अपने ट्वीट को लेकर कभी कोई खेद हुआ है।

जर्मनी के एक रिपोर्टर ने ट्रंप से पूछा, मेरा प्रश्न है कि आप समय-समय पर जो टवीट करते हैं, क्या आपको कभी उन्हें लेकर खेद हुआ है। ट्रंप ने यहां दौरे पर आई जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल के साथ व्हाइट हाउस में एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में कहा, मैं संभवत: आज यहां नहीं होता। हमारे पास लोगों का एक शानदार समूह है जो बात सुनता है और जब मीडिया सच नहीं बताता तो मैं उससे मुकाबला कर सकता हूं, इसलिए मुझे यह पसंद है।

एजेंला के साथ मंच पर मौजूद ट्रंप ने फोन टैपिंग से जुड़े मुद्दे पर पूछे गए सवाल के जवाब में कहा कि उनके और जर्मनी की नेता के बीच ओबामा प्रशासन के संबंध में कुछ बातें संभवत: साक्षी है। उन्होंने कहा, जहां तक पूर्ववतीर् प्रशासन द्वारा फोन टैप किए जाने की बात है, तो मुक्षे लगता है कि हमारे बीच संभवत: कुछ बात साक्षी है। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:wouldnt be here right now if not for twitter donald trump
From around the web