Image Loading russia names price for tour into space - Hindustan
गुरुवार, 23 फरवरी, 2017 | 10:30 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
ब्रेकिंग
  • यूपी चुनावः चौथे चरण में 53 सीटों के लिए सुबह नौ बजे तक 10.23% मतदान, पल-पल की अपेडट के...
  • शेयर मार्केटः मजबूती के साथ खुले बाजार, 48 अंकों की तेजी के साथ सेंसेक्स 28,912 पर,...
  • #IndiavsAustralia #PuneTest ऑस्ट्रेलिया का टॉस जीत बल्लेबाजी का फैसला
  • शोपियां में आतंकी हमला, सेना के 3 जवान शहीद, 1 महिला की भी मौत। पूरी खबर पढ़ने के...
  • आज के 'हिन्दुस्तान' में पढ़ें बिमटेक के डायरेक्टर हरिवंश चतुर्वेदी का लेखः...
  • दिल और दिमाग दोनों को ठंडा रखता है कद्दू, पढ़ें इससे होने वाले 6 फायदे
  • आज का हिन्दुस्तान अखबार पढ़ने के लिए क्लिक करें।
  • राशिफलः वृश्चिक राशिवालों के आत्मविश्वास में वृद्धि होगी, मित्र के सहयोग से...
  • यूपी चुनावः चौथे चरण में 53 सीटों पर मतदान शुरू, 680 उम्मीदवार आजमा रहे हैं किस्मत

इतने रुपये में अंतरिक्ष की सैर कराएगा रूस, एंजलीना जोली समेत 700 ने खरीदे टिकट

नई दिल्ली। हिन्दुस्तान टीम First Published:17-02-2017 12:49:46 PMLast Updated:17-02-2017 12:50:55 PM
इतने रुपये में अंतरिक्ष की सैर कराएगा रूस, एंजलीना जोली समेत 700 ने खरीदे टिकट

जमीन और पानी के बाद अब स्पेस टूरिज्म यानी लोगों को अंतरिक्ष की सैर कराने की स्पर्धा शुरू हो गई हैं। इस जंग में अमेरिकी कंपनी स्पेस एक्स, अमेजन और माइक्रोसॉप्ट के साथ ब्रिटिश कंपनी वर्जिन गैलेक्टिक और रूस की कंपनी कॉस्मोकुर्स भी कूद गई है। कॉस्मोकुर्स का दावा है कि वह सबसे पहले लोगों को अंतरिक्ष की सैर कराएगी। इसके लिए कंपनी अगले साल से टिकटों की बिक्री शुरू करेगी और 2019 के अंत तक लोगों को अंतरिक्ष में भेजा जाएगा। स्पेस टूरिज्म की इस लड़ाई में इन कंपनियों का हथियार बने हैं रीयूजेबल रॉकेट जिसके जरिए आमलोगों को पृथ्वी की कक्षा में सैर के लिए भेजा जाएगा।

रूसी कंपनी कॉस्मोकुर्स ने अंतरिक्ष यात्रा के लिए प्रति व्यक्ति टिकट का मूल्य 2.5 लाख डॉलर यानी करीब 1.7 करोड़ रुपये रखा है। यह ब्रिटिश कंपनी वर्जिन गैलेक्टिक द्वारा अंतरिक्ष यात्रा के लिए तय किए गए टिकटों के दाम के बराबर ही है। कॉस्मोकुर्स एक ट्रिप में छह लोगों को एक साथ अंतरिक्ष की यात्रा कराएगा। यह यात्रा 15 मिनट की होगी जिसमें पृथ्वी की कक्षा में होने के कारण लोग करीब पांच मिनट तक भारहीनता की स्थिति में रहेंगे जैसे सेटेलाइट रहते हैं। इसके बाद रॉकेट यात्रियों को सुरक्षित पृथ्वी पर ले आएगा। लोगों को अंतरिक्ष में भेजने के लिए रूसी कंपनी कॉस्मोकुर्स 2019 से पहले अपने रीयूजेबल रॉकेट का परीक्षण करेगी। कंपनी के सीईओ पावेल पुशकिन ने बताया कि इस रॉकेट को एक रूसी कॉस्मोड्रोम से प्रक्षेपित किया जाएगा।

वर्जिन अपने यान के फ्री फ्लाइट टेस्ट में जुटा

वर्ष 2014 में टेस्टिंग के दौरान आई खराबी से लोगों को अंतरिक्ष की सैर कराने के लिए डिजाइन किया गया यान क्रैश होने के बाद वर्जिन गैलेक्टिक ने दिसंबर 2016 में अपने अंतरिक्ष यान स्पेसशिप 2 का सफल फ्री फ्लाइट टेस्ट किया। इसके अगले चरण की टेस्टिंग चल रही है। इस दौरान 8 से 15 फ्री फ्लाइट टेस्ट होंगे जिसके बाद यह लोगों को अंतरिक्ष में ले जाएगा। दो पायलटों द्वारा संचालित होने वाला यह अंतरिक्ष यान छह लोगों को पांच मिनट के लिए अपने साथ 62 मील की ऊंचाई पर अंतरिक्ष की उप-कक्षा में ले जाएगा। इसमें चार मिनट तक लोग भारहीनता की स्थिति में रहेंगे। इसके टिकट की कीमत भी 2.5 लाख डॉलर रखी गई है।

एंजेलिना जोली समेत 700 लोगों ने खरीदे टिकट

अंतरिक्ष की सैर करने के लिए वर्जिन गैलेक्टिक स्पेसशिप 2 का टिकट अब तक दुनियाभर के 700 से अधिक लोगों ने खरीदा है। टिकट खरीदने वालों में हॉलीवुड की एंजेलिना जोली, ब्रैड पिट और लियोनार्डो डा कैपरियो जैसी दर्जनों मशहूर हस्तियां शामिल हैं। हालांकि वर्जिन गैलेक्टिक का यह यान लोगों को कब से अंतरिक्ष की सैर कराएगा। इसकी तारीखों का खुलासा अभी नहीं हुआ है। कंपनी ने पहले इसके लिए साल 2018 का समय तय किया था, लेकिन 2014 में यान के क्रैश होने और दूसरी तकनीकी खामियों के कारण इसमें लगातार विलंब हो रहा है।

चीन अलग-अलग समूह में भेजेगा टूरिस्ट

स्पेस टूरिज्म के क्षेत्र में चीन भी अपनी पकड़ बनाना चाहता है। इसे देखते हुए चीन ने पिछले साल अपने रीयूजेबल रॉकेट का सफल परीक्षण किया था। चीन ने कहा है कि अगले कुछ वर्षों में वह अलग-अलग समूहों में पर्यटकों को अंतरिक्ष की सैर कराएगा। अंतरिक्ष यान बनाने वाली चीन की सरकारी कंपनी चाइना रॉकेट ने दावा किया है कि वह 2025 से पहले करीब 140 किमी की ऊंचाई पर यात्रियों को अंतरिक्ष का सैर कराएगी। इसके साथ ही कंपनी 2020 में ऐसा अंतरिक्ष यान बनाने का दावा कर रही है जो लोगों को 80 किमी की ऊंचाई पर अंतरिक्ष यात्रा कराएगा। चीन के अलावा अमेरिकी कंपनी अमेजन और माइक्रोसॉफ्ट भी स्पेस टूरिज्म के क्षेत्र में अपना दबदबा बढ़ाने का प्रयास कर रही हैं।

फॉल्कन 9 रॉकेट से अंतरिक्ष की यात्रा

एलन मस्क की कंपनी स्पेस एक्स सिर्फ लोगों को अंतरिक्ष की सैर कराने के प्रोजेक्ट पर ही काम नहीं कर रही है, बल्कि वह अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा के साथ मिलकर ऐसे रीयूजेबल रॉकेट का निर्माण कर रही है जो मंगल आदि ग्रहों पर इंसानों के ले जाने में सक्षम होंगे। इस कड़ी में स्पेस एक्स अब तक चार अंतरिक्ष यानों को पृथ्वी की कक्षा में भेजकर धरती पर वापस उनकी सुरक्षित लैंडिंग करा चुकी है। हालांकि फॉल्कन रॉकेट ब्लास्ट होने के कारण फेसबुक के एमोस-6 सेटेलाइट को प्रक्षेपित करने का उसका मिशन कुछ महीने पहले विफल हो गया था। इसके बावजूद स्पेस एक्स ने हाल ही में अपने रीयूजेबल फॉल्कन 9 रॉकेट का सफल परीक्षण किया है। स्पेस एक्स रीयूजेबल रॉकेट का इस्तेमाल कर मंगल ग्रह पर इंसानों को ले जाने और लाने में सक्षम एक अंतरिक्ष यान बना रही है। कंपनी 2022 में मानव रहित यान का परीक्षण करेगी और 2024 में यह लोगों को ले जाएगी।

जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title: russia names price for tour into space
 
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
जरूर पढ़ें
Jharkhand Board Result 2016
क्रिकेट स्कोरबोर्ड