Image Loading new king for thailand as crown prince vajiralongkorn ascends to throne - Hindustan
शनिवार, 25 फरवरी, 2017 | 10:10 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
ब्रेकिंग
  • #INDvsAUS #PuneTest Day 3: दूसरी पारी में ऑस्ट्रेलिया को लगा पांचवा झटका, मिशेल मार्श आउट। लाइव...
  • #INDvsAUS #PuneTest: तीसरे दिन का खेल शुरू, भारत पर 298 रनों की बढ़त के साथ खेलने उतरी...
  • आज के हिन्दुस्तान में पढ़ें रक्षा विशेषज्ञ हर्ष वी पंत का लेखः रूस की मंशा और...
  • मौसम अलर्टः दिल्ली-एनसीआर, लखनऊ, पटना, देहरादून और रांची में रहेगी हल्की धूप।...
  • मूली खाने से होते हैं 5 फायदे, ये बीमारियां रहती हैं दूर
  • आज का हिन्दुस्तान अखबार पढ़ने के लिए क्लिक करें।
  • राशिफलः वृष राशिवालों के लिए बौद्धिक कार्यों से आय के स्रोत विकसित होंगे, नौकरी...

थाईलैंड के नये राजा बने युवराज माहा वाजीरालोंग्कोर्न

बैंकॉक, एजेंसी First Published:02-12-2016 08:19:53 AMLast Updated:02-12-2016 08:19:53 AM
थाईलैंड के नये राजा बने युवराज माहा वाजीरालोंग्कोर्न

थाईलैंड के युवराज माहा वाजीरालोंग्कोर्न ने देश की संसद से उस निमंत्रण को स्वीकार कर लिया है जिसमें उनके राजा बनने का प्रस्ताव है। प्रस्ताव स्वीकार करते ही वह देश के राजा बन गये हैं। थाईलैंड के पूर्व राजा भूमिबोल अदुल्यादेज का निधन 13 अक्टूबर को हुआ था जिसके बाद से राजा की कुर्सी खाली थी। राजा बनने का प्रस्ताव स्वीकार करने के बाद अब युवराज वाजीरालोंग्कोर्न को राजा वाजीरालोंग्कोर्न के नाम से जाना जायेगा। वह चकरी राजवंश के 10वें सम्राट बनने वाले राजा वाजीरालोंग्कोर्न को‘रामा 10’के नाम से भी जाना जाएगा।

थाईलैंड के प्रधानमंत्री ने किया एलान

टेलीविजन पर प्रसारित बयान में राजा वाजीरालोंग्कोर्न ने कहा कि मैं थाई लोगों की भलाई के लिये संसद के प्रस्ताव को स्वीकार करता हूं। प्रधानमंत्री जनरल प्रयुत चान-ओचा ने एलान किया कि नए राजा ने शालीनतापूर्वक गद्दी स्वीकार कर ली है। उन्होंने कहा कि नए राजा का राज्याभिषेक अगले साल उनके पिता के अंतिम संस्कार के बाद 'उनकी इच्छानुसार' होगा।

अदुल्यादेज दुनिया में सबसे लंबे समय तक शासन करने वाले राजा

थाईलैंड के पूर्व राजा भूमिबोल अदुल्यादेज दुनिया में सबसे लंबे समय तक शासन करने वाले राजा रहे। उनका निधन 88 वर्ष की उम्र में हुआ था। थाइलैंड में सात दशकों के राजनीतिक उथल-पुथल के दौरान दिवगंत राजा को एकीकरण करने वाली शक्ति के रूप में देखा जाता था।

500 के पुराने नोट पर सरकार का बड़ा फैसला, अब यहां नहीं चलेंगे

सेना को लेकर ममता ने सचिवालय में डेरा डाला

यह भी पढ़ें: क्या वाकई पाक सेना प्रमुख बाजवा कुछ बदल सकेंगे?

जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title: new king for thailand as crown prince vajiralongkorn ascends to throne
 
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
जरूर पढ़ें
Jharkhand Board Result 2016
क्रिकेट स्कोरबोर्ड